यूपी: योगी मंत्रिमंडल में बड़े बदलाव की आहट, लखनऊ पहुंचे बीजेपी के कई दिग्गज

उत्तर प्रदेश में चल रही तमाम सियासी उठापटक और अटकलों के बीच बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष और राज्य प्रभारी राधा मोहन सिंह आज से दो दिवसीय प्रवास पर राजधानी लखनऊ पहुंच गये हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में चल रही तमाम सियासी उठापटक और अटकलों के बीच बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष और राज्य प्रभारी राधा मोहन सिंह आज से दो दिवसीय प्रवास पर राजधानी लखनऊ पहुंच गये हैं। इस दौरान मंथन कर 2022 का रोड मैप तैयार किया जाएगा। गौरतलब है कि योगी सरकार के कामकाज से राज्य के कई बड़े नेता नाराज चल रहे हैं। कई मंत्री, सांसद और विधायक सीएम योगी से नाराज बताए जा रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार, सांसद सत्यदेव पचौरी, यूपी के मंत्री बृजेश पाठक, बीजेपी सांसद कौशल किशोर और राजेंद्र अग्रवाल, विधायक दीनानाथ भास्कर, दलवीर सिंह, लोकेंद्र प्रताप सिंह और संजय प्रताप जायसवाल, एमएलसी राजकुमार अग्रवाल.. ये लिस्ट काफी लंबी है।
अधिक से अधिक बीजेपी नेता योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ कोविड प्रबंधन, बल्कि कुप्रबंधन पर अपनी नाराजगी व्यक्त कर रहे हैं।

इसी बीच योगी मंत्रिमंडल में बड़े फेरबदल की भी अटकलें तेज हो गई है। ऐसे में इन नेताओं के दौरे को महत्वपूर्ण माना जा रहा है। राज्य के प्रदेश महामंत्री गोविंद नारायण शुक्ल ने बताया कि राष्ट्रीय महामंत्री बीएल संतोष और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राधा मोहन सिंह 31 मई और 1 जून को लखनऊ में प्रवास पर रहेंगे। उन्होंने बताया कि प्रवास के दौरान प्रदेश में कोरोना काल में प्रारंभ की गई हेल्प डेस्क तथा अन्य सेवा कार्यों की समीक्षा के साथ संगठन के विगत कार्यक्रम और अभियानों की समीक्षा करेंगे। इसमें हाल ही में होने वाले जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख के चुनाव भी अहम हैं।

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव वर्ष 2022 मार्च से पहले हो जाने हैं। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व ने यूपी पर ध्यान केंद्रित कर दिया है। हाल के दिनों में सियासी चचार्ओं के बीच उनके दौरे को महत्वपूर्ण माना जा रहा है। वह पार्टी पदाधिकारियों के साथ संगठन द्वारा बीते दिनों चलाए गए अभियानों जैसे सेवा ही संगठन आदि की समीक्षा करेंगे। साथ ही जानेंगे कि यह अभियान कहां तक सफल हुए और आम जनमानस में क्या संदेश गया। इसी के साथ दोनों वरिष्ठ नेता संगठन को आगे के अभियानों की जिम्मेदारी सौंप सकते हैं।


दोनों नेताओं का दौरा केंद्र की मोदी सरकार के सात साल पूरे होने के वक्त है। ऐसे में इस दौरान पार्टी द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रमों पर भी मंथन होगा। पार्टी के पदाधिकारियों के साथ वह पंचायत चुनावों में अपनाई गई प्रक्रिया के साथ उन कारणों की समीक्षा भी करेंगे कि कहां कमी रह गई और क्या कदम उठाए जाने चाहिएं। वहीं विधानसभा चुनावों के संबंध में पदाधिकारियों की राय भी लेंगे। वहीं हाल के दिनों में मुख्यमंत्री के साथ हुई कोर कमेटी की बैठक में लिए गए फैसलों पर भी मंथन होगा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 31 May 2021, 1:23 PM