यूपी चुनाव: चंद्रशेखर ने गोरखपुर के पुलिस अफसरों को बताया बीजेपी का एजेंट, तत्काल हटाने की मांग की

चुनाव आयोग को भेजे अपने पत्र में चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि गोरखपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विपिन टाडा बीजेपी सांसद सत्यपाल सिंह मलिक के दामाद हैं और उनका बीजेपी से व्यक्तिगत लगाव है, इस वजह से उनके निष्पक्ष बने रहने की उम्मीद नहीं की जा सकती है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश चुनाव में गोरखपुर विधानसभा सीट से सीएम योगी को चुनौती दे रहे आजाद समाज पार्टी (एएसपी) के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने चुनाव आयोग से जिले के एसएसपी समेत कई पुलिस अधिकारियों को तत्काल हटाने की मांग की है। चंद्रशेखर ने उन पर बीजेपी का एजेंट होने के आरोप लगाए हैं।

भारत के निर्वाचन आयोग (ईसीआई) को भेजे अपने पत्र में चंद्रशेखर ने कहा कि गोरखपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विपिन टाडा बीजेपी सांसद सत्यपाल सिंह मलिक के दामाद हैं और उनका बीजेपी से व्यक्तिगत लगाव है, इस वजह से उनके निष्पक्ष बने रहने की उम्मीद नहीं की जा सकती है।


इसके अलावा चंद्रशेखर ने गोरखनाथ के सर्कल ऑफिसर रत्नेश सिंह और गोरखनाथ इंस्पेक्टर मनोज सिंह दोनों को भी बीजेपी एजेंट बताते हुए हटाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इन अधिकारियों को गोरखपुर में चुनाव को प्रभावित करने के इरादे से तैनात किया था।

बता दें कि यूपी चुनाव में गोरखपुर से सीएम योगी आदित्यनाथ के लड़ने के ऐलान के बाद आजाद समाज पार्टी के चंद्रशेखर के यहां से लड़ने के ऐलान के बाद यह एक हॉट सीट बन गई है। पूरे देश की नजर इस सीट पर लगी है। वहीं शुक्रवार को योगी ने यहां से अपना नामांकन का पर्चा दाखिल कर दिया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia