यूपी के सियासी मैदान में कूदे बिहार के VIP, जानें किस पार्टी को होगा फायदा और किसे नुकसान

उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू होने के साथ ही ज्यादा से ज्यादा पार्टियां चुनावी मैदान में अपनी मौजूदगी का ऐलान कर रही हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू होने के साथ ही ज्यादा से ज्यादा पार्टियां चुनावी मैदान में अपनी मौजूदगी का ऐलान कर रही हैं। बैंडबाजे में शामिल होने के लिए नया खिलाड़ी बिहार मंत्री मुकेश सहनी के नेतृत्व वाली विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) है। उन्होंने घोषणा की है कि उनकी पार्टी यूपी में आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

साहनी बिहार में पशुपालन और मछली संसाधन मंत्री हैं। बिहार विधानसभा में उनकी वीआईपी पार्टी के चार विधायक हैं। लखनऊ में एक आलीशान कार्यालय खोलने वाले साहनी ने कहा, "हमारी पहली प्राथमिकता भाजपा के साथ गठबंधन में लड़ना होगा, क्योंकि हमारी पार्टी एनडीए का हिस्सा है, लेकिन हम अपने विकल्प भी खुले रख रहे हैं।"

उन्होंने कहा, "हमने यूपी में लगभग 150 सीटों की पहचान की है जहां पार्टी उम्मीदवार खड़ा कर सकती है। ये ऐसी सीटें हैं जहां निषादों की अच्छी आबादी है। लगभग 70 विधानसभा क्षेत्रों में, निषाद की आबादी 75,000 से अधिक है।"


संयोग से, वीआईपी निषाद पार्टी के साथ एक साझा वोट बैंक साझा करती है, जो निषाद वोटों का एकमात्र संरक्षक होने का दावा करता है। यह ओबीसी समूह का लगभग 14 प्रतिशत है।
साहनी निषाद (मछुआरे और नाविक) समुदाय से आते हैं।

साहनी ने कहा, "पार्टी 25 जुलाई को पूरे उत्तर प्रदेश में पूर्व सांसद फूलन देवी की पुण्यतिथि मनाएगी, ताकि निषादों और समुदाय की अन्य उपजातियों को एकजुट किया जा सके।" निषाद समुदाय से ताल्लुक रखने वाली फूलन देवी की 25 जुलाई 2001 को नई दिल्ली में हत्या कर दी गई थी।

साहनी ने 2018 में वीआईपी का गठन किया था। राजनीतिक विश्लेषकों की राय है कि भाजपा संजय निषाद के नेतृत्व वाली निषाद पार्टी का मुकाबला करने के लिए वीआईपी को लेकर आई है। यूपी विधानसभा में निषाद पार्टी का एक विधायक है और संजय निषाद के बेटे प्रवीण संत कबीर नगर से बीजेपी सांसद हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia