भारत को ज्ञान के क्षेत्र में विश्व गुरु बनाना होगा: आनंद कुमार

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कराने वाली संस्था सुपर-30 के संस्थापक आनंद कुमार का कहना है कि ज्ञान के क्षेत्र में भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए अमरीका में बसे भारतीय मूल के लोगों का आगे आना चाहिए।

अपने छात्रों के साथ आनंद कुमार/ फोटो: Getty Images
अपने छात्रों के साथ आनंद कुमार/ फोटो: Getty Images

पीटीआई

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कराने वाली संस्था सुपर-30 के संस्थापक आनंद कुमार का कहना है कि ज्ञान के क्षेत्र में भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए अमरीका में बसे भारतीय मूल के लोगों का आगे आना चाहिए।

न्यूयार्क के मैडिसन स्क्वायर में भारत दिवस परेड के दौरान वहां मौजूद भारतीयों को संबोधित करते हुए आनंद कुमार ने कहा कि भारत को ज्ञान के विश्व गुरू का पुराना दर्जा वापस दिलाना होगा।

सुपर-30 के संस्थापक आनंद कुमार ने यह भी बताया कि भारत हमेशा से शिक्षा के क्षेत्र में आगे रहा है।

फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशन की ओर से आयोजित कार्यक्रम में आनंद कुमार ने कहा, ‘अमेरिका में अपने प्रतिभा के दम पर कई भारतीय अपने-अपने क्षेत्रों में अच्छे पदों पर विराजमान है। यह देखकर खुशी होती है कि अपनी कड़ी मेहनत और जुनून की वजह से भारतीयों ने अच्छा मुकाम हासिल किया है।‘

आनंद कुमार की सुपर-30 संस्था 15 सालों से छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए शिक्षा देने का काम कर रही है। उनके यहां कई गरीब और पिछड़े वर्ग के छात्रों को उनकी प्रतिभा के आधार पर चयन कर मुफ्त में पढ़ाया जाता है। पिछले 15 साल में सुपर-30 के 450 छात्रों में से 396 छात्रों का आईआईटी में चयन हो चुका है।

Published: 22 Aug 2017, 6:05 PM
लोकप्रिय