गुजरात सीएम पर जुर्माने की खबर के बाद टॉप पर ट्रेंड कर रहा #घोटालेबाज_रूपाणी, कांग्रेस ने मांगा इस्तीफा

ऐन विधानसभा चुनाव के मौके पर गुजरात के मुख्यमंत्री पर हेराफेरी में जुर्माने की खबर से बीजेपी मुश्किल में है।

ट्विटर पेज का स्क्रीनशॉट
ट्विटर पेज का स्क्रीनशॉट
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फिर कटाक्ष किया। उन्होंने उस रिपोर्ट का हवाला दिया जिसमें बताया गया है कि बाजार नियामक संस्था सेबी ने ट्रेडिंग में की गई 'हेराफेरी' को लेकर कई लोगों और कंपनियों पर जुर्माना लगाया है, जिनमें गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी का परिवार भी शामिल है। इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद कांग्रेस ने रुपानी के इस्तीफे की मांग की है। यह रिपोर्ट नवजीवन वेबसाइट पर प्रकाशित हुई है।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, "ना खाऊंगा ना खाने दूंगा की कहानी। शाह-जादा, शौर्य और अब विजय रुपानी।"

कांग्रेस ने मांग की है कि या तो गुजरात के मुख्यमंत्री इस्तीफा दें या फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 'चुप्पी' तोड़ेऔर रुपानी को पद से हटाएं। कांग्रेस की यह मांग सेबी द्वारा 22 कंपनियों व व्यक्तियों पर 'व्यापार में हेराफेरी' के लिए लगाए गए जुर्माने के बाद आई है, जिसमें रुपानी के हिन्दू अविभाजित परिवार (एचयूएफ) पर एक अनजान सी कंपनी सारंग केमिकल्स के साथ व्यापार में हेराफेरी के लिए लगा जुर्माना भी शामिल है।

सेबी ने 22 कंपनियों पर 6.9 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। रुपानी के एचयूएफ पर 15 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है, जबकि तीन अन्य लोगों पर 70 लाख रुपये या उससे अधिक का जुर्माना लगाया गया है। कांग्रेस प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा, "भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस का मतलब ईमानदारी पर जीरो टॉलरेंस हो गया है। देश में कई घोटाले हो रहे हैं, जिसमें भाजपा नेता और उनके बेटे, बेटी शामिल हैं। पीएम मोदी 'मौन व्रत' पर हैं। इस सीरीज में सबसे नया नाम गुजरात के मुख्यमंत्री का एचयूएफ है।"

सिंह ने कहा, "रुपानी के एचयूएफ की सारंग केमिकल्स के साथ संबंधों की जांच होनी चाहिए। मोदी के लिए भ्रष्टाचार पर चुप्पी तोड़ने और जवाबदेही का सामना करने का वक्त आ गया है।"

इस रिपोर्ट के प्रकाशित होने के बाद सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्विटर पर #घोटालेबाज_रूपाणी हैशटैग नंबर एक पर ट्रेंड कर रहा है। एक व्यक्ति ने चुटकी ली है कि “गुजरात के चौकीदार, देश के चौकीदार से सीख रहे हैं”

यश नाम के हैंडिल से लिखा गया है कि भ्रष्टाचार मुक्त भारत के लिए बीजेपी का नया मॉडल

स्टेला सेलियन ने लिखा है कि, “मोदी जी पहले बीजेपी को भ्रष्टाचार मुक्त बना दीजिए। दूसरों पर उंगली उठाना आसान है, कभी अपनी पार्टी में भी झांक कर देख लिया करें, लिस्ट काफी लंबी है”

एक और हैंडिल से एक स्लाइड शो ट्वीट किया गया जिसमें बीजेपी के घोटालों की फेहरिस्त दिखाई गई है।

एक और व्यक्ति ने लिखा है कि बीजेपी का विकास सिर्फ बेटों और मुख्यमंत्रियों और उनके कैबिनेट मंत्रियों के लिए है। पाटीदार, दलित, आदिवासी और अल्पसंख्यकों के लिए सिर्फ लाठियां हैं।

गुजरात में 9 और 14 दिसंबर को विधानसभा चुनाव होने हैं। बीजेपी को पहले ही पाटीदारों, दलितों और आदिवासियों के विरोध का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही नोटबंदी और जीएसटी से परेशान गुजरात के व्यापारी, कारोबारी और कामगार भी परेशान हैं। ऐसे समय में मुख्यमंत्री विजय रूपानी के बारे में आई खबर से बीजेपी की मुश्किलें लगातार बढ़ ही रही हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 09 Nov 2017, 11:27 PM