मुख्य समाचार

कर्नाटक चुनाव: आपराधिक छवि वाले नेताओं को टिकट देकर फंसी बीजेपी, सोशल मीडिया पर लोगों ने पूछे तीखे सवाल

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने उम्मीदवारों की जो दो सूची जारी की है, उनमें 24 प्रत्याशी ऐसे हैं, जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। कई ऐसे प्रत्याशी भी हैं जो जेल जा चुके हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी भले ही भ्रष्टाचार और भष्टाचारियों के विरोध में बड़ी-बड़ी बातें करती हो, लेकिन कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी की ओर से जारी उम्मीदवारों की सूची से यह बात पुष्ट नहीं होती। बीजेपी की सूची में कई ऐसे उम्मीदवार हैं, जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। इस वजह से सोशल मीडिया पर बीजेपी का मजाक बनाया जा रहा है। लोग उन बीजेपी उम्मीदवारों की नाम और तस्वीरें ट्वीट कर रहे हैं, जिनके नाम भ्रष्टाचार के मामलों में आ चुके हैं और आपराधिक मामलों में जेल जा चुके हैं। लोगों के अलावा इस मुद्दे को लेकर विपक्ष भी बीजेपी पर निशाना साध रहा है।

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक, कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने उम्मीदवारों की जो पहली सूची जारी की, उनमें 19 प्रत्याशी ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। 19 में से 13 उम्मीदवार ऐसे हैं, जिनके खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। बीजेपी ने पहली सूची में 72 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की थी।

बीजेपी ने दूसरी सूची में 82 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की है। इनमें से 5 ऐसे उम्मीदवार हैं जो आपराधिक छवि के हैं। 5 में से 2 उम्मीदवार ऐसे हैं जो जेल भी जा चुके हैं। बीजेपी के जिन दो उम्मीदवारों के नामों पर ज्यादा सवाल पूछे जा रहे हैं, उनमें कट्टा सुब्रमण्यनायडू और कृष्णा शेट्टी के नाम शामिल हैं। बीजेपी के यह दोनों ही उम्मीदवार भूमि घोटाले में जेल जा चुके हैं। हालांकि, वे बाद में बरी हो गए थे। माइनिंग माफिया जी सोमशेखर रेड्डी को भी बेल्लारी सिटी विधानसभा सीट से बीजेपी ने टिकट दिया गया है। सोमशेखर रेड्डी को जमानत दिलाने के लिए जज को कथित रूप से रिश्वत देने के आरोप में उनके छोटे भाई को जेल जाना पड़ा था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

सबसे लोकप्रिय