नोटबंदी पर रिजर्व बैंक की रिपोर्ट : सोशल मीडिया पर खूब उड़ा सरकार का मज़ाक

नोटबंदी के दावों की पोल खुलने के बाद सोशल मीडिया पर केंद्र सरकार और रिजर्व बैंक दोनों का खूब मजाक उड़ाया जा रहा है।

फोटो : Getty Images
फोटो : Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

कोई इसे “जीनियस” का अर्थशास्त्र बता रहा है तो कोई ये गिना रहा है कि नोटबंदी कर सरकार ने देश के साथ साथ खुद को भी मूर्ख बनाया है। हिस्ट्री ऑफ इंडिया नाम के ट्विटर हैंडल से लिखा गया है कि नोटबंदी से फायदा 16 हजार करोड़ और नए नोटों की छपाई पर खर्च 21 हजार करोड़।

शैनरिक ने लिखा है कि मोदी जी ने हमें गुलाबी धन, नीला धन और पीला धन तो दिया, लेकिन कालाधन कहां है।

काकावाणी नाम के हैंडिल से एक तस्वीर पोस्ट की गयी जिसमें रिजर्व बैंक की रिपोर्ट के बाद आम लोगों की प्रतिक्रिया दिखायी गयी है।

निखिल रामपाल ने एक ग्राफिक्स के जरिए नोटबंदी के बाद ग्रोथ रेट में हुयी प्रगति को दिखाया है।

शंकर अय्यर ने रिजर्व बैंक की रिपोर्ट का स्क्रीनशॉट ट्वीट करते हुए लिखा है कि पिक्चर अभी बाकी है। इस स्क्रीनशॉट में 500 रुपए के नोटों का खुलासा नहीं किया गया है

रश नाम के हैंडिल से प्रधानमंत्री पर कटाक्ष किया गया है कि आपने तो देश की अर्थव्यवस्था की हालत खराब कर दी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;