‘बाबा का ढाबा’ वीडियो बनाने वाले पर दान के पैसे में हेराफेरी का आरोप, बैंक स्टेटमेंट साझा किया तो उठे सवाल

गौरव वासन के बैंक स्टेटमेंट साझा करने के बाद भी नेटिजन्स उनके इरादों पर शक कर रहे हैं। एक यूजर ने कमेंट में कहा कि मैंने वह वीडियो देखा है, जहां वह 20 लाख से अधिक दान मिलने का दावा कर रहा था और अब वह दो लाख के दान की बात कर रहा है। कुछ तो गड़बड़ है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

आसिफ एस खान

यूट्यूब ब्लॉगर गौरव वासन, जिन्होंने दिल्ली के मालवीय नगर में एक ढाबा चला रहे एक बुजुर्ग दंपति के बाबा का ढाबा वीडियो पोस्ट किया था, उन्होंने लोगों द्वारा ऑनलाइन घोटाले का आरोप लगाने के बाद अपना बैंक स्टेटमेंट साझा किया। हालांकि, नेटिजन्स को अभी भी उन पर भरोसा नहीं है और वे सवाल उठा रहे हैं।

गौरव ने अपने बैंक स्टेटमेंट को फेसबुक पर अपने आधिकारिक पेज स्वाद पर पोस्ट किया है। स्टेटमेंट साझा करते हुए उन्होंने लिखा, "बैंक द्वारा सत्यापित ट्रांसपरेंसी लिंक। जिस किसी ने भी दान दिया है, वह जाकर पुन: सत्यापन कर सकता है। समर्थन के लिए धन्यवाद।"

हालांकि, अभी भी नेटिजन्स उनके इरादों पर शक कर रहे हैं। एक सोशल मीडिया यूजर ने कमेंट किया, "मैंने उनका वह वीडियो देखा जहां वह 20 लाख से अधिक दान मिलने का दावा कर रहा था और अब वह दो लाख के दान की बात कर रहा है। कुछ तो गड़बड़ है।" अन्य यूजर ने कमेंट किया, "कॉलम में गड़बड़ी है। वहीं दूसरे यूजर ने इसे "अनप्रोफेशनल बैंक स्टेटमेंट" कहा, जिसे 'बहुत संपादित’ किया गया है।

गौरतलब है कि अक्टूबर की शुरूआत में गौरव ने दिल्ली के मालवीय नगर में खोना का छोटा सा ढाबा चलाने वाले एक बुजुर्ग दंपति का एक वीडियो पोस्ट किया था। वे कोरोना महामारी के कारण अपने ढाबे पर ग्राहकों के नहीं आने पर आंसू बहाते नजर आए थे। देखते ही देखते यह वीडियो वायरल हो गया और रवीना टंडन और निमरत कौर जैसे कलाकारों तक ने लोगों से इस जोड़े की मदद करने का आग्रह किया।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय