खेल की 5 खबरें: न्यूज़ीलैंड के खिलाफ भारत का शानदार आगाज, 6 विकेट से जीता पहला टी-20 मैच

ऑकलैंड के ईडन पार्क में खेले गए पांच टी 20 मैचों की सीरीज के पहले मैच में टीम इंडिया ने इंग्लैंड को 6 विकेट से हरा कर शानदार शुरुआत की है। मैच में टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया था। जानिए खेल से जुड़ी 5 खबरें।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

लोकेश राहुल और ‘मैन ऑफ द मैच’ श्रेयस अय्यर की तूफानी पारियों के दम पर भारत ने ईडन पार्क मैदान पर खेले गए पहले टी-20 मैच में मेजबान न्यूजीलैंड को छह विकेट के से हराकर अपने इस लंबे दौरे का शानदार आगाज किया। न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए रॉस टेलर (नाबाद 54), कोलिन मुनरो (59) और केन विलियम्सन (51) की बेहतरीन पारियों के कारण 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 203 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। इस लक्ष्य को भारत ने 19 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर लिया।

राहुल ने 27 गेंदों की पारी में चार चौके और तीन छक्के लगाते हुए 56 रन बनाए। उन्होंने विराट कोहली (45) के साथ दूसरे विकेट के लिए 99 रनों की साझेदारी की। लेकिन जब ये दोनों आउट हो गए तब भारत को जीत दिलाने की जिम्मेदारी अय्यर ने ली और 29 गेंदों पर पांच चौकों तथा तीन छक्कों की मदद से तेज तर्रार नाबाद 58 रनों की पारी खेल अपनी टीम को जीत दिलाई।

इसी के साथ भारत ने पांच मैचों की टी-20 सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है। यह भारत की टी-20 में लक्ष्य का पीछा करते हुए तीसरी सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले वो श्रीलंका और विंडीज को इससे ज्यादा रनों का लक्ष्य का पीछा करते हुए हरा चुकी है।

AUS Open: तीसरे दौर में हार के साथ वोज्नियाकी ने टेनिस को कहा अलविदा

पूर्व वल्र्ड नंबर-1 कैरोलिना वोज्नियाकी का टेनिस करियर शुक्रवार को खत्म हो गया। उन्हें साल के पहले ग्रैंड स्लैम आस्ट्रेलियन ओपन के तीसरे दौर में महिला एकल वर्ग के मुकाबले में ट्यूनिशिया की ओनस जाबेयुर ने हरा दिया। 2018 में आस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीत चुकी वोज्नियाकी को 5-7, 6-3, 5-7 से हार मिली। यह मैच दो घंटे चला।

वोज्नियाकी ने पहले ही कह दिया था कि वह आस्ट्रेलियन ओपन के बाद संन्यास ले लेंगी। इस हार के साथ उनके 15 साल के करियर का अंत हो गया।

भारत ने सबसे अधिक 4 बार 200 से अधिक स्कोर को सफलतापूर्वक चेज किया है

भारतीय क्रिकेट टीम ने टी-20 इंटरनेशल मैचों में सबसे अधिक चार बार 200 से अधिक का लक्ष्य चेज किया है। दूसरे नम्बर पर आस्ट्रेलिया है, जिसने दो बार यह कारनामा किया है। इसके बाद दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज, इंग्लैंड और कतर ने एक-एक बार यह कारनामा किया है।

भारत ने शुक्रवार को ऑकलैंड में न्यूजीलैंड के खिलाफ 204 रनों के लक्ष्य को चेज किया और एक ओवर शेष रहते जीत हासिल की। यह भारत का तीसरा सबसे बड़ा सफल चेज है। इससे पहले भारत ने 2019 में हैदराबाद में वेस्टइंडीज के खिलाफ 208 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत हासिल की थी।

2009 में भारत ने मोहाली में श्रीलंका के खिलाफ 207 रनों के लक्ष्य का सफल पीछा किया थ और इसके अलावा 2013 में भारत ने राजकोट में आस्ट्रेलिया के खिलाफ 202 रनों के लक्ष्य को चेज करते हुए जीत हासिल की थी।

अगले मैच में हर विभाग में सुधार करना होगा: विलियम्सन

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन ने शुक्रवार को कहा है कि भारतीय टीम ने ईडन पार्क मैदान पर खेले गए मैच में उनकी टीम को लगातार दबाव में रखा जिसके कारण किवी टीम को छह विकेट से हार मिली। विलियम्सन ने कहा कि अगले मैच में मेजबान टीम को तीनों विभागों में सुधार करने की जरूरत है।

न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 204 रनों का लक्ष्य रखा था लेकिन भारतीय टीम ने 19 ओवरों में ही लक्ष्य हासिल कर पांच मैचों की टी-20 सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली।

मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह में विलियम्सन ने कहा, "कई सकारात्मक चीजें हैं। यहां बचाव करना मुश्किल था और ओस भी थी। हम जानत थे कि हमें 200 से ज्यादा का स्कोर करना होगा। भारत ने जिस तरह का खेल खेला इसका श्रेय उसे जाता है।"

टाइट शेड्यूलिंग मामले में कोहली को मिला शुक्ला का साथ

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पूर्व चेयरमैन राजीव शुक्ला ने शुक्रवार को टीम इंडिया कैलेंडर में खराब शेड्यूलिंग के लिए प्रशासकों की समिति (सीओए) की आलोचना की और कहा कि किसी विशेष सीरीज के लिए कार्यक्रम तय करते वक्त खिलाड़ियों के हितों का ध्यान रखा जाना चाहिए। शुक्ला ने बीसीसीआई को टैग करते हुए शुक्रवार को ट्वीट किया, "मैं विराट कोहली से सहमत हूं। कोहली ने सही कहा है कि शेड्यूल काफी टाइट है और टीम को एक के बाद एक सीरीज और मैच नहीं मिलने चाहिए। खिलाड़ियों को आराम का वक्त मिलना चाहिए। सीओए को किसी भी कार्यक्रम को फाइनल करने से पहले इसका ध्यान रखना चाहिए था।"

शुक्ला का यह बयान कप्तान कोहली द्वारा टाइट शेड्यूलिंग को लेकर नाराजगी जाहिर किए जाने के बाद आया है। कोहली ने न्यूजीलैंड पहुंचने के बाद बीसीसीआई के ट्रेवल प्लान को लेकर नाराजगी जाहिर की थी। कोहली चाहते हैं कि बोर्ड ट्रेवल प्लान को लेकर फिर से विचार करे।

बीसीसीआई ने हालांकि अपने ट्रेवल प्लान का बचाव किया है और कहा है कि कोहली को इस बारे में अगर कोई शिकायत थी कि उन्हें मीडिया से इस सम्बंध में बात करने से पहले उससे बात करनी चाहिए थी।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

लोकप्रिय
next