खेल की 5 खबरें:  कोरोना वायरस से कारण भारतीय महिला टीम ने बैडमिंटन एशियाई चैम्पियनशिप से नाम लिया वापस

भारतीय महिला टीम ने कोरोनावायरस के कारण सोमवार से शुरू हो रही बैडमिंटन एशियाई चैम्पियनशिप से अपना नाम वापस ले लिया। वहीं भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने यहां त्रिकोणीय टी-20 सीरीज के अपने चौथे मैच में शनिवार को आस्ट्रेलिया को सात विकेट से हरा दिया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

भारतीय महिला टीम ने कोरोनावायरस के कारण सोमवार से शुरू हो रही बैडमिंटन एशियाई चैम्पियनशिप से अपना नाम वापस ले लिया। पुरुष टीम हालांकि इस टूर्नामेंट में खेलेगी और रविवार को मनीला, फिलीपींस के लिए रवाना होगी जहां यह टूर्नामेंट खेला जाना है। भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) के सचिव अजय कुमार सिंघानिया ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी।

अजय ने बयान में कहा, "कोरोनावायरस के कारण फैली खतरनाक स्थिति के चलते महिला टीम ने 11 से 16 फरवरी 2020 के बीच फिलीपींस के मनीला में होने वाली बैडमिंटन एशियाई चैम्पियनशिप से नाम वापस ले लिया है।"

बयान के मुताबिक, "बीएआई ने बैडमिटन एशिया (बीए) से स्वास्थ सुविधाओं को लेकर बात की। बीए से आश्वासन मिलने के बाद बीएआई ने इस पर भारतीय टीम से बात की। पुरुष टीम मनीला जाने के लिए तैयार हो गई है जबकि माता-पिता और खिलाड़ियों की चिंता के कारण महिला टीम ने अपना नाम वापस ले लिया है। पुरुष टीम नौ फरवरी (रविवार) को मनीला के लिए रवाना होगी।"

महिला क्रिकेट : भारत ने आस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हराया

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने यहां त्रिकोणीय टी-20 सीरीज के अपने चौथे मैच में शनिवार को आस्ट्रेलिया को सात विकेट से हरा दिया। भारत की चार मैचों में यह दूसरी जीत है और वह अंकतालिका में चार अंकों के साथ दूसरे नंबर पर है। त्रिकोणीय टी-20 सीरीज की तीसरी टीम इंग्लैंड है। आस्ट्रेलिया की तीन मैचों में दूसरी हार है। सीरीज का अगला मैच रविवार को इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच खेला जाएगा।

भारतीय टीम ने टॉस जीतकर आस्ट्रेलिया को पहले बल्लेबाजी करने का न्यौता दिया। आस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 173 रनों का विशाल स्कोर बनाया, जिसे भारत ने दो गेंद शेष रहते तीन विकेट खोकर हासिल कर लिए।टी-20 के इतिहास में लक्ष्य का पीछा करते हुए यह तीसरी सबसे बड़ी जीत है, जबकि भारतीय महिला क्रिकेट टीम का रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए यह सबसे बड़ी जीत है।

भारत की ओर से स्मृति मंधाना ने 48 गेंदों पर सात चौकों की मदद से सर्वाधिक 55, शेफाली वर्मा ने 28 गेंदों पर आठ चौकों और एक छक्के की मदद से 49, जेमिमा रोड्रिगेज ने 19 गेंदों पांच चौकों के सहारे 30, कप्तान हरमनप्रीत कौर ने 20 गेंदों पर एक छक्के की मदद से नाबाद 20 और दीप्ति शर्मा ने चार गेंदों पर दो चौकों के सहारे नाबाद 11 रनों की पारी खेली। आस्ट्रेलिया की ओर से एलिसा पैरी, मेगन शट और निकोला कैरी ने एक-एक विकेट अपने नाम किए।

इससे पहले, आस्ट्रेलिया ने पांच विकेट पर 173 रनों का विशाल स्कोर बनाया। मेजबान टीम के लिए एश्लेग गार्डनर ने 57 गेंदों पर 11 चौकों और तीन छक्कों की मदद से सर्वाधिक 93 रनों की पारी खेली। हालांकि उनकी यह पारी टीम के काम ना आ सकी। गार्डनर को प्लेयर आफ द मैच का पुरस्कार मिला। उनके अलावा कप्तान मेग लेनिंग ने 22 गेंदों पर छह चौकों के सहारे 37, बैथ मूनी ने 16 और एलिसा पैरी ने 13 रनों का योगदान दिया। भारत की ओर से दीप्ति ने दो और राजेश्वरी गायकवाड, राधा यादव तथा हरलीन देओल ने एक-एक विकेट चटकाए।

बर्थडे पर गर्लफ्रेंड ने रोनाल्डो को गिफ्ट की 6 करोड़ की कार

पुर्तगाली फुटबाल सुपरस्टार क्रिस्टीयानो रोनाल्डो की गर्लफ्रेंड जार्जिना रोड्रिग्वेज ने उनके 35वें जन्मदिन पर 6.50 करोड़ रुपए की चमचमाती कार गिफ्ट की है। इटली के क्लब जुवेंतस के लिए खेलने वाले रोनाल्डो अपने जन्मदिन के दिन जब तुरिन के एक हाईएंड रेस्टोरेंट से रोड्रिग्वेज तथा अपने बेटे क्रिस्टीयानो रोनाल्डो जूनियर के साथ डिनर करके बाहर निकले तो अपने सामने आई नई मर्सिडीज ब्राबस 800 वाइडस्टार को देखकर दंग रह गए।

मर्सिडीज द्वारा बनाए जाने वाली इस जीप की कीमत तकरीबन नौ लाख डालर है और यह 800 हार्सपावर की ताकत पैदा करती है। यह जीप मात्र 2.9 सेकेंड में शून्य से 60 मील प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ सकती है।

रोनाल्डो ने इटेलियन फुटबाल में हाल ही में अपना 50वां गोल किया है। रोनाल्डो ने अपने क्लब के लिए सभी इवेंट्स में 70 मैच खेले हैं। वह इटेलियन फुटबाल के इतिहास में सबसे तेजी से 50 गोल करने वाले दूसरे खिलाड़ी हैं। रोनाल्डो से पहले एसी मिलान के यूक्रेनी लेजेंड आंद्रेई शेवेंको ने 2001 में 69 मैचों में 50 गोल किए थे।

द. अफ्रीका में फेडरर-नडाल चैरिटी मैच देखने 50 हजार लोग पहुंचे

दुनिया के दो महान टेनिस खिलाड़ियों स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर और स्पेन के रफाल नडाल के बीच शुक्रवार को यहां केप टाउन स्टेडियम में हुए एक चैरिटी मैच को देखने 51,954 लोग पहुंचे। इस मैच को 'द मैच इन अफ्रीका' नाम दिया गया था और इसका आयोजन रोजर फेडरर फाउंडेशन ने अफ्रीका के दक्षिणी इलाके में शिक्षा सम्बंधी कार्यों के लिए 10 लाख डालर जुटाने के मकसद से किया था। यह मैच फेडरर और नडाल की अपेक्षाओं से कहीं अधिक साबित हुआ, क्योंकि इससे कुल 35 लाख डालर जुटाए जा सके।

दक्षिण अफ्रीका फेडरर की मां का जन्मस्थान है और 38 साल के फेडरर यहां आकर हमेशा भावुक हो जाते हैं। समाचार एजेसी एफे के मुताबिक फेडरर ने मैच से पहला कहा कि अपनी मां के जन्मस्थान पर एक नेक काम के लिए अपने टेनिस करियर के सबसे बड़े प्रतिद्वंद्वी का सामना करना जादुई अहसास है।

इस टेनिस समारोह में एक युगल मैच भी खेला गया, जिसमें फेडरर के साथ माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक तथा अरबपति बिल गेट्स भी खेले। नडाल के साथ द. अफ्रीका के कॉमेडियन एवं टेलीविजन होस्ट ट्रेवर नोह ने हिस्सा लिया। फेडरर की मां लिनेट ने मैच से पहले टॉस का सिक्का उछाला। इस एक सेट के मैच को फेडरर और गेट्स ने 6-3 से जीता।

नडाल और फेडरर के बीच जो मुकाबला हुआ, उसे भी फेडरर ने 6-4, 3-6, 6-3 से जीता। फेडरर ने कुल 20 ग्रैंड स्लैम जीते हैं जबकि नडाल ने 19 ग्लैंड स्लैम अपने नाम किए हैं। 39 ग्रैंड स्लैम जीत चुके इन दिग्गजों के बीच हुए इस मैच के लिए 2010 के फीफा विश्व कप के लिए बनाए गए केप टाउन स्टेडियम में लोगों का हुजूम जुट गया। आयोजकों का कहना है कि इससे पहले किसी टेनिस मैच में 50 हजार से अधिक दर्शक नहीं जुटे। यह एक नया रिकार्ड है।

लोकप्रिय