वनडे, टी-20 के बाद अब टेस्ट मैचों में भी सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाएंगे रोहित शर्मा

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में रोहित को मजबूत बनाने के लिए बोर्ड ने पहली बार उन्हें टेस्ट टीम में सलामी बल्लेबाज के रूप में जगह दी है। रोहित शर्मा को कागिसो रबादा के रूप में कड़ी चुनौती मिलेगी। रबादा टेस्ट सीरीज में भी रोहित के सामने होंगे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

सीमित ओवरों में लगातार सलामी बल्लेबाजी कर रहे रोहित शर्मा गुरुवार से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरू हो रहे अभ्यास मैच में बोर्ड अध्यक्ष एकादश की तरफ से खेलेंगे। टेस्ट टीम में रोहित को पहली बार सलामी बल्लेबाज के तौर पर जगह मिली है। यह अभ्यास मैच रोहित को अपने आप को तैयार करने का मौका देगा। टीम प्रबंधन चाहता है कि रोहित तीनों प्रारूपों में सलामी बल्लेबाज की जिम्मेदारी निभाएं।

32 साल के इस खिलाड़ी को कागिसो रबादा के रूप में कड़ी चुनौती मिलेगी। रबादा टेस्ट सीरीज में भी रोहित के सामने होंगे।

जसप्रीत बुमराह के चोटिल होने के बाद उमेश यादव को टेस्ट टीम में जगह मिली है। उमेश बोर्ड अध्यक्ष एकादश में भी हैं। यह मैच उमेश के लिए भी तैयारी के लिहाज से अहम है।

करुण नायर को बोर्ड अध्यक्ष एकादश में जगह मिली है। चेन्नई में तिहरा शतक जमा सुर्खियां बटोरने वाला यह बल्लेबाज राष्ट्रीय टीम में रहने के बाद भी अंतिम-11 में जगह नहीं बना पाया था और अंतत: चयनकर्ताओं ने उन्हें बाहर कर दिया। नायर की भी कोशिश होगी कि वह दमदार प्रदर्शन कर एक बार फिर चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी तरफ खींचें।

वहीं, अगर दक्षिण अफ्रीका टीम की बात की जाए तो कप्तान फाफ डु प्लेसिस टीम के साथ वापस आ गए हैं। डु प्लेसिस को टी-20 टीम में नजरअंदाज किया गया था। कप्तान के तौर पर वापसी करते हुए डु प्लेसिस अच्छा करने के लिए आतुर होंगे।

दक्षिण अफ्रीका के लिए खेल के सबसे छोटे प्रारूप से लंबे प्रारूप में ढलने के लिए यह अभ्यास मैच सही मंच प्रदान करेगा।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

लोकप्रिय