खेल की 5 बड़ी खबरें: पद्मश्री अवॉर्ड के लिए इस खिलाड़ी का नाम भेजेगा AIFF और 100 मीटर वर्ल्ड चैम्पियन कोलमैन निलंबित

अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ ने देश के चौथे सबसे बड़े अवॉर्ड-पद्मश्री अवॉर्ड के लिए दिग्गज फुटबालर आईएम विजयन का नाम खेल मंत्रालय को भेजने का फैसला किया है और क्रिस्टियन कोलमैन को एथलेटिक्स इंटीग्रिटी यूनिट ने डोपिंग परीक्षण करवाने में तीसरी बार विफल होने के बाद बुधवार को निलंबित कर दिया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पद्मश्री अवॉर्ड के लिए विजयन का नाम भेजेगा एआईएफएफ

अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) ने देश के चौथे सबसे बड़े अवॉर्ड-पद्मश्री अवॉर्ड के लिए दिग्गज फुटबालर आईएम विजयन का नाम खेल मंत्रालय को भेजने का फैसला किया है। एक शीर्ष अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। 51 साल के विजयन 2003 में अर्जुन अवॉर्ड हासिल कर चुके हैं। तीन बार एआईएफएफ प्लयर्स आफ द ईयर रहे विजयन को देश के सबसे कुशल फुटबालरों में से एक माना जाता है। वियजन ने 1992 से 2003 के बीच तक भारत के लिए 79 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 40 गोल दागे थे। वह 1999 में दक्षिण एशियाई फुटबाल फेडरेशप कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। उन्होंने उस टूर्नामेंट में भुटान के खिलाफ 12वें सेकेंड में गोल दाग दिया था, जोकि टूनार्मेंट के इतिहास में सबसे तेज अंतर्राष्ट्रीय गोल है। विजयन 2003 एफ्रो एशियन गेम्स में चार गोलों के साथ शीर्ष स्कोरर रहे थे। उन्होंने 2003 में ही फुटबाल से संन्यास ले लिया था।

फोटो:  IANS
फोटो: IANS

100 मीटर वर्ल्ड चैम्पियन कोलमैन निलंबित

मौजूदा 100 मीटर विश्व चैम्पियन क्रिस्टियन कोलमैन को एथलेटिक्स इंटीग्रिटी यूनिट ने डोपिंग परीक्षण करवाने में तीसरी बार विफल होने के बाद बुधवार को निलंबित कर दिया। एथलेटिक्स इंटीग्रिटी यूनिट ने अस्थायी निलंबन वाले खिलाड़ियों की सूची अपडेट की है जिसमें कोलमैन का नाम शामिल है, जबकि कुछ घंटे पहले ही अमेरिकी धावक ने अपने मामले का खुलासा किया था। उन्हें अस्थायी रूप से तब तक प्रतियोगिताओं से प्रतिबंधित किया गया है, जब तक विश्व एथलेटिक्स डोपिंग रोधी नियमों या इंटीग्रिटी यूनिट की आचार संहिता के अंतर्गत सुनवाई के बाद अंतिम फैसला नहीं लिया जाता। इससे पहले कोलमैन ने कहा था कि डोपिंग परीक्षकों के केवल एक फोन से उनके ठहरने के स्थान को लेकर बनी गलतफहमी को दूर किया जा सकता था, जिसके कारण उन पर निलंबन का खतरा मंडरा रहा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

वित्तीय संकट से उबरने के लिए ये है क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का प्लान

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण आए वित्तीय संकट से उबरने के लिए खर्चों में कटौती के प्रयासों के तहत कई उपाय किए जाएंगे। वह वरिष्ठ प्रबंधन के बोनस में कटौती और 40 अन्य कर्मचारियों को बर्खास्त करने के अलावा ‘ए’ टीमों के अंतरराष्ट्रीय दौरों पर रोक लगाएगा। मंगलवार को त्यागपत्र देने वाले केविन रॉबर्ट्स की जगह क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में अंतरिम मुख्य कार्यकारी का पद संभालने वाले निक हॉकले एक नई योजना लेकर आए हैं, जो उनका मानना है कि खेल की ‘दीर्घकालिक स्थिरता और विकास’ सुनिश्चित करेगा। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की बुधवार को जारी विज्ञप्ति के अनुसार, 'कर्मचारियों के सामने पेश की गई वित्त वर्ष 2021 की संशोधित योजना में वर्ष में लगभग चार करोड़ डॉलर की कटौती की पहचान की गई है, ताकि कोविड-19 के कारण पड़े रहे प्रभावों को आंशिक तौर पर कम किया जा सके।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

IPL होने की है उम्मीद : इरफान पठान

पूर्व भारतीय आलराउंडर इरफान पठान ने कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि इस सीजन में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आयोजन होगा। पठान ने क्रिकेट कनेक्टेड कार्यक्रम में कहा, " मैंने कल ही बयान पढ़ा है, जिसमें वे आईपीएल के आयोजन के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहे हैं। हर कोई इसे लेकर उत्साहित है। कई सारे लोग आस्ट्रेलिया में होने वाले टी 20 विश्व कप के बारे में भी बात कर रहे हैं। मुझे इसके आस्ट्रेलिया में होने पर संदेह हैं।" उन्होंने कहा, " आस्ट्रेलिया में ये लोग खासतौर पर नियमों का पालन करते हैं। यहां तक कि अगर यह सबसे छोटा नियम है, तो फिर ठीक है। वे प्रत्येक स्थिति का मुआयना करते हैं। कुछ मैचों का एक साथ आयोजन, क्वारंटाइन और यह सबकुछ बहुत मुश्किल लगता है।" पठान ने कहा, "इस संदर्भ में, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली की ओर से यह बयान आना कि आईपीएल का आयोजन होगा, ना केवल भारतीय क्रिकेटरों के लिए अच्छी खबर है बल्कि दुनियाभर के क्रिकेट प्रेमियों के लिए भी अच्छी खबर है। मैं इसे लेकर उत्साहित हूं।"

फोटो: IANS
फोटो: IANS

सचिन 2007 में क्रिकेट छोड़ने के लिए तैयार थे : कस्र्टन

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच गैरी कस्र्टन ने भारत के साथ अपने कोचिंग के समय को एक बार फिर से याद किया है। उन्होंने साथ ही दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के साथ अपने संबंधों पर भी बात की। भारतीय टीम ने अपनी मेजबानी में 2011 में जब विश्व कप जीता था तो कस्र्टन उस समय टीम के कोच थे। कस्र्टन ने साथ ही खुलासा किया कि सचिन अपनी बल्लेबाजी क्रम से खुश नहीं थे और 2007 में उन्होंने अपने करियर का अंत करने का मन बना लिया था। 2007 में वेस्टइंडीज में हुए विश्व कप में भारतीय टीम ग्रुप चरण से बाहर हो गई थी। कर्स्टन ने टॉकस्पोर्ट्स के पॉडकास्ट में कहा, " उनके (सचिन) साथ मेरी कोचिंग यात्रा शानदार रही। अगर मैं उस समय के सचिन तेंदुलकर की बात करूं, जब मैं भारत आया, तो वो संन्यास लेने का मन बना चुके थे।"

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

लोकप्रिय