खेल की खबरें: श्रीलंका के इस खिलाड़ी ने संन्‍यास का फैसला पलटा और भारतीय हॉकी खिलाड़ी लिलिमा मिंज ने लिया संन्यास

श्रीलंका के बल्लेबाज भानुका राजपक्षे ने संन्यास की घोषणा के दस दिन बाद ही अपना फैसला वापस लेते हुए कहा कि वह देश के लिए फिर से खेलना चाहते हैं और हॉकी में सबसे अनुभवी मिडफील्डर में से एक लिलिमा मिंज ने गुरुवार को खेल से संन्यास लेने का फैसला किया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

श्रीलंका के बल्लेबाज राजपक्षे ने वापस लिया संन्यास

श्रीलंका के बल्लेबाज भानुका राजपक्षे ने संन्यास की घोषणा के दस दिन बाद ही गुरुवार को अपना फैसला वापस लेते हुए कहा कि वह देश के लिए फिर से खेलना चाहते हैं। बोर्ड ने एक आधिकारिक बयान में कहा, "श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) ने पुष्टि की है कि बाएं हाथ के बल्लेबाज राजपक्षे ने संन्यास वापस ले लिया है। युवा और खेल मंत्री नमल राजपक्षे के साथ एक बैठक के बाद और राष्ट्रीय चयनकर्ताओं के साथ परामर्श के बाद भानुका राजपक्षे ने एसएलसी को सूचित किया है कि वह अपना इस्तीफा वापस लेना चाहते हैं जो उन्होंने 3 जनवरी 2022 को एसएलसी को तत्काल प्रभाव से दिया था।"

बयान में कहा गया है, "एसएलसी को अपना इस्तीफा वापस लेने वाले पत्र में उन्होंने आगे कहा कि वह अपने देश का प्रतिनिधित्व करना चाहते हैं, जिससे वह प्यार करते हैं।" लसिथ मलिंगा सहित श्रीलंका के कई खिलाड़ियों ने उनसे संन्यास के फैसले पर पुनर्विचार करने का आग्रह किया था। राजपक्षे ने 5 अक्टूबर, 2019 को पाकिस्तान के दौरे पर टी20 में अपना डेब्यू किया। उनका एकदिवसीय करियर छह महीने से भी कम समय तक का है, क्योंकि उन्होंने जुलाई 2021 में डेब्यू किया था। बाएं हाथ के बल्लेबाज ने श्रीलंका के लिए पांच वनडे और 18 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। उन्होंने क्रमश: 17.80 और 26.66 की औसत से 89 और 320 रन बनाए हैं। राजपक्षे ने अपने त्याग पत्र में लिखा था, "मैंने एक खिलाड़ी, पति के रूप में अपनी स्थिति पर बहुत सावधानी से विचार किया है और पारिवारिक के दायित्वों को देखते हुए यह निर्णय ले रहा हूं।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

अनुभवी मिडफील्डर लिलिमा मिंज ने हॉकी से लिया संन्यास

हॉकी में सबसे अनुभवी मिडफील्डर में से एक लिलिमा मिंज ने गुरुवार को खेल से संन्यास लेने का फैसला किया। 2011 में अर्जेंटीना में आयोजित चार देशों के महिला हॉकी टूर्नामेंट में राष्ट्रीय टीम के लिए डेब्यू करने वाली लिलिमा भारतीय महिला हॉकी टीम के साथ कई शानदार पलों का हिस्सा रही हैं। ओडिशा के सुंदरगढ़ जिले के रहने वाले इस मिडफील्डर ने भारत के लिए 156 मैचों में 12 गोल किए। वह एशियाई खेल 2014 में कांस्य पदक जीतने वाले अभियान, 2018 एशियाई खेलों में रजत पदक जीतने और 2019 में हिरोशिमा में एफआईएच महिला श्रृंखला फाइनल में स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम का हिस्सा थीं। लिलिमा उस समय टीम का हिस्सा थीं, जब भारतीय महिलाओं ने 36 साल बाद पहली बार ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया और 2016 में रियो ओलंपिक खेलों में भाग लिया।

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्र निंगोमबम ने दो बार के एशियाई खेलों के पदक विजेता को भारतीय हॉकी में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए बधाई दी। उन्होंने में कहा, "लिलिमा ने अपने शानदार करियर के दौरान भारतीय हॉकी में बहुत बड़ा योगदान दिया है। उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में भारतीय महिला हॉकी टीम के विकास में एक बड़ी भूमिका निभाई है। हॉकी इंडिया उन्हें शानदार करियर के लिए बधाई देने के साथ उनके जीवन के अगले अध्याय के लिए शुभकामनाएं भी देता है।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

भारत नहीं इस देश में होगा आईपीएल 2022?

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2022 सीजन की मेजबानी साउथ अफ्रीका कर सकता है। इस बात की जानकारी गुरुवार को एक अखबार की रिपोर्ट में दी। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि अगर भारत में कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर अप्रैल की शुरुआत तक समाप्त नहीं होती है, तो श्रीलंका को भी एक वैकल्पिक स्थान के रूप में रखा जाएगा। 2021 में भारत में आईपीएल का 14वां सीजन 4 मई के बाद निलंबित कर दिया गया था, क्योंकि कोविड-19 के कारण टीमों में कोरोना के मामले मिलने लगे थे। टूर्नामेंट का शेष हिस्सा तब संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में खेला गया था, जिसमें चेन्नई सुपर किंग्स ने दुबई में 15 अक्टूबर को फाइनल जीता था।

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने द इंडियन एक्सप्रेस में कहा, "हम हर समय यूएई पर निर्भर नहीं रह सकते है, इसलिए हमने और विकल्प तलाशने का फैसला किया है, दक्षिण अफ्रीका का समय अंतर भी खिलाड़ियों के लिए अच्छा है।" लखनऊ और अहमदाबाद में दो नई आईपीएल टीमों के जुड़ने से आईपीएल का 2022 संस्करण बहुत लंबा हो जाएगा। अगर ऐसा होता है तो दक्षिण अफ्रीका दूसरी बार आईपीएल की मेजबानी करेगा। इससे पहले, भारत में आम चुनावों के कारण 2009 के सीजन को वहां स्थानांतरित किया गया था। दक्षिण अफ्रीका को चुनने की वजह यह भी है कि वर्तमान में उन्होंने भारतीय टीम को देश में तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के साथ एकदिवसीय श्रृंखला के लिए अच्छे होटल और रिसॉर्ट दिए, जहां वे बायो-बबल में रह रहे हैं। भारतीय टीम पहले दो टेस्ट मैचों के लिए आइरीन कंट्री लॉज में रुकी थी और फिलहाल केप टाउन के ताज होटल में रह रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

ओटिस ने बांग्लादेश के तेज गेंदबाजी कोच से दिया इस्तीफा

ओटिस गिब्सन ने बांग्लादेश क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाजी कोच के रूप में अपने करार को आगे न बढ़ाते हुए पद से इस्तीफा दे दिया है। इस महीने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के साथ अपना दो साल का अनुबंध पूरा करने वाले 52 वर्षीय गिब्सन जनवरी से शुरू होने वाले पाकिस्तान सुपर लीग में सहायक और तेज गेंदबाजी कोच के रूप में मुल्तान सुल्तान्स के साथ जुडेंगे। बीसीबी की क्रिकेट संचालन समिति के अध्यक्ष जलाल यूनुस ने ईएसपीएन क्रिकइंफो को बताया, "ओटिस गिब्सन अपने अनुबंध को आगे नहीं बढ़ाना चाहते थे, जिसे हमने स्वीकार कर लिया।" उन्होंने कहा, "स्थानीय कोच अस्थायी रूप से तेज गेंदबाजी विभाग की देखभाल करेंगे। हमें उम्मीद है कि गिब्सन को जल्द ही किसी अन्य विदेशी कोच के साथ बदल दिया जाएगा।" दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज चार्ल लैंगवेल्ट की जगह लेने वाले गिब्सन 2020 में दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज के मुख्य कोच के रूप में काम करने के बाद यहां आए थे। उन्होंने इंग्लैंड को गेंदबाजी कोच के रूप में भी सेवाएं दी हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

इंडिया ओपन बैडमिंटन : जीत के साथ सिंधु आगे बढ़ी, साइना बाहर

इंडिया ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु जीतकर आगे बढ़ी, जबकि पूर्व विजेता साइना नेहवाल हारकर बाहर हो गईं। वहीं, सात खिलाड़ियों के कोरोना पॉजिटिव होने के कारण उनको टूर्नामेंट से बाहर कर दिया गया। पुरुष एकल के शीर्ष वरीय किदांबी श्रीकांत समेत मंगलवार को छह अन्य खिलाड़ियों के पॉजिटिव होने के बाद टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा। वहीं, सिंधु ने क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के लिए हमवतन इरा शर्मा गुरुवार को दूसरे दौर में हराकर घरेलू उम्मीदों को जिंदा रखा।

भारत को तब और झटका लगा जब महिलाओं की चौथी वरीय साइना नेहवाल को हमवतन मालविका बंसोड़ ने सीधे गेमों में समेट दिया। 26 साल की वल्र्ड नंबर 7 सिंधु ने इरा शर्मा को केवल 30 मिनट में 21-10, 21-10 से हरा दिया। हैदराबाद की शटलर ने पहले गेम में 12-7 की बढ़त हासिल की। इसके बाद उन्होंने अपने स्कोर को 17 तक ले जाने के लिए लगातार पांच अंक हासिल किए और गेम 21-10 से जीत लिया। सिंधु ने दूसरे गेम में 10-1 की बढ़त बना ली, जिससे मैच आसानी से जीत लिया और अंतिम आठ में जगह पक्की कर ली। अब सिंधु का मुकाबला अस्मिता से होगा। साइना, जो 2021 सीजन के अंत में कुछ टूर्नामेंटों से चूकने के बाद वापसी कर रही थी, उन्होंने गुरुवार को मालविका को कड़ी टक्कर दी और दूसरे दौर के मुकाबले में 21-17, 21-9 से हार गई। हरियाणा की 31 वर्षीय खिलाड़ी ने चेक गणराज्य की तेरेजा स्वाबिकोवा के पहले गेम में 22-20 से हारने के बाद चोट के कारण हटने के बाद दूसरे दौर में प्रवेश किया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia