खेल: IPL 2024 से पहले फिर हुआ बड़ा बदलाव और एलिजा नेल्सन की भारतीय महिला हॉकी टीम को सलाह

लखनऊ सुपर जाइंट्स ने आईपीएल 2024 से पहले सहायक कोच विजय दहिया को विदाई दी और भारतीय महिला हॉकी टीम की पूर्व कप्तान और पद्म श्री से सम्मानित एलिजा नेल्सन ने भारतीय महिला हॉकी टीम को सलाह दी है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

लखनऊ ने सहायक कोच विजय दहिया को दी विदाई

लखनऊ सुपर जाइंट्स (एलएसजी) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2024 से पहले सहायक कोच विजय दहिया को विदाई दी। पूर्व भारतीय विकेटकीपर विजय दहिया 2022 में टीम की स्थापना के बाद से एंडी फ्लावर के नेतृत्व वाले सहयोगी स्टाफ का एक अभिन्न अंग रहे हैं। दहिया, जिन्होंने 2022 और 2023 में एलएसजी की प्लेऑफ की यात्रा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने सोशल मीडिया पर अपना आभार व्यक्त किया और टीम की सफलता की कामना की। दहिया ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट में कहा, "एलएसजी को अलविदा कहने का समय आ गया है। लखनऊ के साथ पिछले दो वर्षों में काम करना एक अद्भुत अनुभव था। टीम एलएसजी को शुभकामनाएं।"

यह बदलाव एंडी फ्लावर की जगह ऑस्ट्रेलिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज जस्टिन लैंगर को मुख्य कोच नियुक्त किए जाने के बाद हुआ है। टी20 विश्व कप और ऑस्ट्रेलिया के साथ एशेज में शानदार जीत के साथ जस्टिन लैंगर, एक सफल कोचिंग इतिहास के साथ लखनऊ में अनुभव का खजाना लेकर आएंगे। फ्लॉवर के अनुबंध को रिन्यू नहीं करने के फैसले ने सुपर जाइंट्स के लिए उनकी आईपीएल यात्रा की सराहनीय शुरुआत के बाद एक युग का अंत कर दिया। आईपीएल 2024 के लिए कोचिंग लाइनअप में भारत के पूर्व स्पिनर श्रीधरन श्रीराम को सहायक कोच के रूप में शामिल किया गया है, जिसमें प्रवीण तांबे, मोर्ने मोर्कल और जोंटी रोड्स शामिल होंगे। लखनऊ सुपर जायंट्स का लक्ष्य नए कोचिंग नेतृत्व के तहत अपने प्लेऑफ़ प्रदर्शन को आगे बढ़ाते हुए, आगामी सीज़न में अपनी सफलता जारी रखना है।

एलिजा नेल्सन की भारतीय महिला हॉकी टीम को सलाह

भारतीय महिला हॉकी टीम की पूर्व कप्तान और पद्म श्री से सम्मानित एलिजा नेल्सन ने हॉकी पे चर्चा, हॉकी इंडिया द्वारा शुरू की गई एक पॉडकास्ट श्रृंखला के 51वें एपिसोड में खेल में अपनी यात्रा और महिला हॉकी की संस्कृति के बारे में बात की। एलिजा ने सविता की अगुवाई वाली भारतीय महिला हॉकी टीम को महत्वपूर्ण एफआईएच हॉकी ओलंपिक क्वालीफायर रांची 2024 से पहले शुभकामनाएं दी और उन्हें एक समय में एक मैच पर ध्यान देने की सलाह दी। एफआईएच हॉकी ओलंपिक क्वालीफायर रांची 2024, 13 जनवरी से 19 जनवरी तक खेला जाएगा। जिसमें शीर्ष 3 में रहने वाली टीम पेरिस 2024 ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करेगी। एलिजा नेल्सन ने कहा, "एक समय में एक मैच के बारे में सोचें और फ़ाइनल का सफर तय करें। हमें जीतना ही होगा, क्योंकि हमारे पास कोई और ऑप्शन नहीं है।"

भारत को पूल बी में न्यूजीलैंड, इटली और संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ रखा गया है। इस बीच, जर्मनी, जापान, चिली और चेक गणराज्य पूल ए में प्रतिस्पर्धा करेंगे। भारत अपने अभियान की शुरुआत 13 जनवरी को संयुक्त राज्य अमेरिका के खिलाफ करेगा। फिर, 14 जनवरी को न्यूजीलैंड और के खिलाफ मैच होगा। 16 जनवरी को टीम आखिरी पूल बी मैच में इटली से भिड़ेगी। एलिज़ा का जन्म पुणे, महाराष्ट्र में हुआ था। दिलचस्प बात यह है कि पुणे के 26 से अधिक खिलाड़ियों ने भारत का प्रतिनिधित्व किया है, और 7 ने भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तानी की है। एलिज़ा ने कहा, "देश के अन्य क्षेत्रों की तुलना में हम दक्षिण भारत में बिल्कुल अलग माहौल में रहते हैं, जहां माता-पिता हमेशा अपने बच्चों को आगे बढ़ने और खेलने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।"


कमजोर टेस्ट टीम चुनने के लिए स्टीव वॉ ने की द.अफ्रीका की आलोचना

ऑस्ट्रेलिया के महान क्रिकेटर स्टीव वॉ ने न्यूजीलैंड दौरे के लिए कमजोर टेस्ट टीम की घोषणा करने के लिए दक्षिण अफ्रीका की आलोचना की है। उन्होंने यह भी कहा कि इस फॉर्मेट को लेकर देश की सोच देखकर वो चिंतित हैं। दक्षिण अफ्रीका ने हाल ही में न्यूजीलैंड टेस्ट दौरे के लिए 14 सदस्यीय टीम की घोषणा की। कप्तानी सलामी बल्लेबाज नील ब्रांड करेंगे, जो टीम के सात अनकैप्ड खिलाड़ियों में से एक हैं। टीम में कैप्ड टेस्ट खिलाड़ी बल्लेबाज डेविड बेडिंघम, जुबैर हमजा और कीगन पीटरसन होंगे, जो वर्तमान में भारत के खिलाफ श्रृंखला में खेल रहे हैं। न्यूजीलैंड दौरे पर अन्य कैप्ड खिलाड़ियों में बल्लेबाज खाया ज़ोंडो, डुआन ओलिवियर और डेन पैटरसन की तेज़ गेंदबाज़ी जोड़ी और स्पिनर डेन पिड्ट शामिल हैं। क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) ने घरेलू मैदान पर एसए20 लीग के दूसरे सीजन के साथ श्रृंखला के टकराव के कारण कमजोर टेस्ट टीम को मैदान में उतारने का फैसला किया है।

स्टीव वॉ ने कहा, "जाहिर तौर पर उन्हें कोई परवाह नहीं है। दक्षिण अफ़्रीकी क्रिकेट बोर्ड अपने सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को घर पर रखकर भविष्य के लिए क्या संकेत देना चाहती है। अगर मेरे हाथ में होता तो मैं यह सीरीज भी नहीं खेलता। मैं नहीं जानता कि वे क्यों खेल रहे हैं। जब यह न्यूज़ीलैंड क्रिकेट के प्रति सम्मान की कमी दर्शाता है तो आप ऐसा क्यों करेंगे?" वॉ ने 'द सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड' से कहा, "यह स्पष्ट है कि समस्या क्या है। वेस्टइंडीज अपनी पूरी ताकत वाली टीम ऑस्ट्रेलिया नहीं भेज रही है। पिछले कुछ वर्षों से उन्होंने पूरी ताकत वाली टेस्ट टीम नहीं चुनी है। निकोलस पूरन जैसा कोई व्यक्ति वास्तव में एक टेस्ट बल्लेबाज है जो टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलता है। जेसन होल्डर, शायद उनके सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी वो भी अब टेस्ट नहीं खेल रहे हैं। यहां तक कि पाकिस्तान ने भी ऑस्ट्रेलिया अपनी फुल स्ट्रेंथ टीम नहीं भेजी।'' तेम्बा बावुमा, एडेन मार्कराम, हेनरिक, रासी, रबाडा, एनगिडी, केशव महाराज जैसे फ्रंटलाइन टेस्ट खिलाड़ी एसए20 में खेलेंगे, क्योंकि वे राष्ट्रीय कर्तव्यों पर होने के बजाय घर पर लीग में खेलने के लिए बाध्य हैं। वॉ यह भी चाहते हैं कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) टेस्ट क्रिकेट खेलने को प्रोत्साहित करे ताकि इसे गंभीरता से लिया जाता रहे।

श्रीलंका दौरे के लिए जिम्बाब्वे ने किया टीम का ऐलान

जिम्बाब्वे ने श्रीलंका के खिलाफ सफेद गेंद दौरे के लिए अनकैप्ड स्पिनर तापीवा मुफुदजा और तेज गेंदबाज फराज अकरम को अपनी वनडे टीम में शामिल किया है। हालांकि, यह जोड़ी सिकंदर रजा की कप्तानी वाली टी20 टीम का हिस्सा नहीं है।

चोट के कारण दिसंबर में आयरलैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला से बाहर होने के बाद क्रेग एर्विन वनडे टीम का नेतृत्व करने के लिए वापस आ गए हैं, लेकिन सीन विलियम्स श्रीलंका में जगह बनाने के लिए समय पर पूरी तरह से ठीक होने में विफल रहे हैं।

33 वर्षीय ऑफ स्पिनर मुफुद्ज़ा को घरेलू परिदृश्य पर लगातार शीर्ष प्रदर्शन के लिए वनडे टीम में शामिल किया गया है।

72 लिस्ट ए गेम्स में उन्होंने 23.58 की औसत और 4.19 की इकोनॉमी रेट से 105 विकेट लिए हैं, जिसमें चार बार चार विकेट और एक बार पांच विकेट शामिल है।

अकरम, जिन्होंने केवल टी20 प्रारूप में जिम्बाब्वे के लिए खेला है। वह भी वनडे डेब्यू की कतार में हैं। अकरम के अलावा, चार अन्य खिलाड़ी भी आयरलैंड श्रृंखला के लिए राष्ट्रीय टीम में आए थे।

हालांकि, टी20 श्रृंखला के लिए टीम में तीन बदलाव होंगे, जिसमें कैटानो, मुफुद्ज़ा और अकरम की जगह ब्रायन बेनेट, एंसले एनडलोवु और कार्ल मुंबा आएंगे।

मेजबान टीम को परेशान करने के लिए जिम्बाब्वे को ऑलराउंडर सिकंदर रजा, रयान बर्ल के साथ-साथ रिचर्ड नगारवा और ब्लेसिंग मुज़ारबानी की तेज गेंदबाजी जोड़ी के अनुभव पर भरोसा रहेगा।

जिम्बाब्वे श्रीलंका में अपने सभी मैच कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में खेलेगा। यह दौरा 6, 8 और 11 जनवरी को तीन वनडे मैचों के साथ शुरू होगा, इसके बाद 14, 16 और 18 जनवरी को कई टी20 मैच होंगे।

जिम्बाब्वे टी20 टीम :- सिकंदर रजा (कप्तान), ब्रायन बेनेट, रयान बर्ल, क्रेग एर्विन, जॉयलॉर्ड गम्बी, ल्यूक जोंगवे, तिनशे, क्लाइव मडांडे, वेलिंगटन मसाकाद्जा, कार्ल मुंबा, टोनी मुनयोंगा, ब्लेसिंग, आइंस्ले, रिचर्ड नगारवा, मिल्टन शुम्बा।

श्रीलंका दौरे के लिए जिम्बाब्वे की वनडे टीम :- क्रेग इर्विन (कप्तान), फराज खान, रयान बर्ल, जॉयलॉर्ड गम्बी, ल्यूक जोंग्वा, ताकुद्ज़वानाशे काइतानो, तिनशे कामुनहुकामवे, क्लाइव मदांडे, वेलिंग्टन मसाकाद्जा, तापीवा मुफुद्जा, टोनी मुंयोंगा, ब्लेसिंग मुजरबानी, रिचर्ड नर्गावा, सिकंदर रजा, मिल्टन शुम्बा

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;