आईपीएल 14 : धोनी के धुरंधरों ने राजस्थान को 45 रन से हराया, शानदार जीत के साथ दूसरे नंबर पर पहुंची चेन्नई

चेन्नई की तीन मैचों की यह दूसरी जीत है और अब उसके चार अंक हो गए हैं और वह तालिका में दूसरे नंबर पर पहुंच गई है। राजस्थान को तीन मैचों में दूसरी हार का सामना करना पड़ा है और वह तालिका में छठे नंबर पर है।

फोटो : @IPL
फोटो : @IPL
user

आईएएनएस

पूर्व चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स ने सोमवार को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए आईपीएल 2021 के 12वें मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स को 45 रन से हरा दिया। चेन्नई ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में नौ विकेट पर 188 रन का स्कोर बनाया और फिर उसने राजस्थान को निर्धारित 20 ओवर में नौ विकेट पर 143 रनों पर रोक दिया।

चेन्नई की तीन मैचों की यह दूसरी जीत है और अब उसके चार अंक हो गए हैं और वह तालिका में दूसरे नंबर पर पहुंच गई है। राजस्थान को तीन मैचों में दूसरी हार का सामना करना पड़ा है और वह तालिका में छठे नंबर पर है।

चेन्नई से मिले 189 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान को मनन वोहरा (14) और जोस बटलर (49) ने पहले विकेट के लिए 23 गेंदों पर 30 रनों की साझेदारी की। वोहरा को सैम कुरैन ने रवींद्र जडेजा के हाथों कैच कराया। वोहरा के आउट होने के बाद राजस्थान की टीम नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई, जिसके कारण वह लक्ष्य से दूर रह गई। टीम के लिए बटलर ने 35 गेंदों पर पांच चौके और दो छक्के की बदौलत सर्वाधिक 49 रन बनाए। उनके अलावा शिवम दुबे ने 17 रनों का योगदान दिया। पिछले मैच के हीरो और आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे खिलाड़ी क्रिस मोरिस इस बार तो अपना खाता भी नहीं खोल सके। जयदेव उनादकट ने 24 और राहुल तेवतिया ने 20 रन बनाए।

चेन्नई के लिए मोईन अली ने तीन और जडेजा तथा कुरैन ने दो-दो जबकि शार्दूल ठाकुर ने एक-एक विकेट के लिए। जडेजा ने बेहतरीन फील्डिंग करते हुए चार कैच भी पकड़े।

इससे पहले, चेन्नई सुपर किंग्स ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में नौ विकेट पर 188 रन बनाए। चेन्नई की ओर से फाफ डू प्लेसिस ने 17 गेंदों पर चार चौकों और दो छक्कों की मदद से सर्वाधिक 33 रन बनाए। राजस्थान की तरफ से चेतन सकारिया ने तीन विकेट और क्रिस मोरिस ने दो विकेट लिए जबकि मुस्ताफिजुर रहमान और राहुल तेवतिया ने एक-एक विकेट लिया।

चेन्नई की शुरुआत धीमी रही और उसकी सलामी जोड़ी टीम को मजबूत शुरुआत नहीं दिला सकी। मुस्ताफिजुर ने रुतुराज गायकवाड़ को आउट कर चेन्नई को पहला झटका दिया। रुतुराज ने 10 रन बनाए। डू प्लेसिस ने हालांकि कुछ अच्छे शॉट्स खेले लेकिन वह भी ज्यादा देर नहीं टिक सके और मोरिस ने उनका विकेट लिया। इसके कुछ देर बाद मोइन अली को राहुल ने आउट कर चेन्नई को तीसरा झटका दिया। मोइन ने 26 रन बनाए। इसके बाद सुरेश रैना ने अंबाटी रायुडू के साथ मिलकर पारी को संभाला और चौथे विकेट के लिए 45 रनों की साझेदारी की। हालांकि चेतन ने रायुडू को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। रायुडू ने 27 रन बनाए।

रायुडू के आउट होने के बाद रैना भी ज्यादा देर नहीं टिक सके और चेतन ने उन्हें भी आउट कर दिया। रैना ने 18 रन बनाए। चेतन ने इसके बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को आउट कर चेन्नई को छठा झटका दिया। धोनी ने 18 रन बनाए। धोनी के बाद रवींद्र जडेजा को मोरिस ने आउट किया। जडेजा ने आठ रन बनाए। इसके कुछ देर बाद सैम करेन 13 रन बनाकर रन आउट हुए। करेन के बाद शार्दूल ठाकुर भी रन आउट होकर पवेलियन लौटे। उन्होंने एक रन बनाए। अंत के ओवरों में ड्वेन ब्रावो ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर टीम को अच्छी स्थिति पर पहुंचाया। ब्रावो आठ गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के की मदद से 20 रन बनाकर नाबाद रहे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय