CWC 2023: टीम इंडिया के मध्यक्रम की किस्मत का आधार बनकर उभरे श्रेयस अय्यर और केएल राहुल, शानदार रहा प्रदर्शन

इन नौ मैचों में प्रशंसकों को एहसास हुआ होगा कि श्रेयस अय्यर और केएल राहुल ने मेजबान टीम की अजेय लय में कितना महत्व जोड़ा है, जिससे घरेलू धरती पर ट्रॉफी हासिल करने की भारत की दस साल पुरानी खोज को और पंख मिल गए हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

दाएं हाथ के दो बल्लेबाज, चोटों से उबरने की दो यात्राएं और एक भूमिका जिसे वे मौजूदा पुरुष एकदिवसीय विश्‍व कप में निभा रहे हैं - भारत के मध्यक्रम की बल्लेबाजी की किस्मत का आधार बनकर उभरे हैं।

इन नौ मैचों में प्रशंसकों को एहसास हुआ होगा कि श्रेयस अय्यर और केएल राहुल ने मेजबान टीम की अजेय लय में कितना महत्व जोड़ा है, जिससे घरेलू धरती पर ट्रॉफी हासिल करने की भारत की दस साल पुरानी खोज को और पंख मिल गए हैं।

अगर रोहित शर्मा, शुभमन गिल और विराट कोहली शीर्ष क्रम में रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे हैं, तो अय्यर और राहुल इस बल्लेबाजी क्रम के फौलादी आदमी हैं, जिन्होंने दिखाया है कि वे किसी भी स्थिति में जरूरत पड़ने पर आगे बढ़ने के लिए तैयार हैं। 2023 में अय्यर और राहुल की मौजूदगी इंग्लैंड में 2019 विश्व कप के दौरान जो हुआ उसके बिल्कुल विपरीत है।

2015-19 चक्र में अनसेटल्ड वह शब्द था, जिसका उपयोग मध्य-क्रम म्यूजिकल चेयर का वर्णन करने के लिए किया गया था। अंबाती रायुडू चौथे नंबर पर आने की तैयारी कर रहे थे, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में अचानक खराब फॉर्म के कारण विजय शंकर को टीम में जगह मिली। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच तक, राहुल मध्यक्रम में थे, जब तक कि टूर्नामेंट के अंत में शिखर धवन की अंगूठे की चोट के कारण उन्हें शुरुआती स्थान पर नहीं ले जाया गया।

भारत ने फिर से शंकर, एमएस धोनी और ऋषभ पंत के साथ रूसी रूलेट खेलना शुरू किया, जिसमें दिनेश कार्तिक भी शामिल हो गए, क्योंकि मध्य क्रम की गड़बड़ी का मतलब था कि दो बार के चैंपियन को पुराने दुश्मन न्यूजीलैंड से हार का सामना करना पड़ा। यदि 2019 स्पष्टता की कमी और अस्थिर मध्यक्रम से चिह्नित था, तो 2023 में वह सब कुछ है, जिसकी जरूरत थी।

टूर्नामेंट के बाद राहुल और अय्यर भारत के लिए मध्यक्रम के मुख्य आधार बनकर उभरे, इससे पहले कि चोटों के कारण भारत को 2019 में वापस लाने का खतरा पैदा हो गया था। इस विश्‍व कप से पहले राहुल दाहिनी जांघ में चोट के कारण घायल हो गए थे, जिससे उनकी जांघ फट गई थी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;