CWG 2022: सिंधु के बाद लक्ष्य सेन का कमाल, बैडमिंटन में जीता गोल्ड मेडल, बर्मिंघम में भारत के नाम हुआ 22वां स्वर्ण

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत के खाते में अब तक 22 गोल्ड, 15 सिल्वर और 23 ब्रॉन्ज मेडल आ चुके हैं। इससे पहले भारत की पीवी सिंधु ने आज ही सीधे गेम में फाइनल में कनाडा की मिशेल ली को हराकर राष्ट्रमंडल गेम्स की बैंडमिटन प्रतियोगिता में अपना पहला महिला एकल स्वर्ण पदक जीता।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भारत का कॉमनवेल्थ गेम्स में शानदार प्रदर्शन जारी है। वेटलिफिटिंग, कुश्ती के बाद अब भारतीय बैडमिंटन स्टार्स ने कमाल कर दिया। पीवी सिंधु के बाद बैडमिंटन स्टार लक्ष्य सेन ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के बैडमिंटन सिंगल्स फाइनल में मलेशिया के त्जे यंग (Tze Yong) को मात देकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया है।

लक्ष्य सेन ने पहला गेम गंवाने के बाद जोरदार पलटवार किया और मलेशिया के त्जे यंग को 19-21, 21-9, 21-16 से हराया। यह कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत का 22वां गोल्ड मेडल है. वहीं, बैडमिंटन में आज भारत ने दूसरा गोल्ड मेडल जीता है। आपको बता दें, कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत के खाते में अब तक 22 गोल्ड, 15 सिल्वर और 23 ब्रॉन्ज मेडल आ चुके हैं। इससे पहले भारत की पीवी सिंधु ने आज ही सीधे गेम में फाइनल में कनाडा की मिशेल ली को हराकर राष्ट्रमंडल गेम्स की बैंडमिटन प्रतियोगिता में अपना पहला महिला एकल स्वर्ण पदक जीता।

सिंधु ने आक्रामक रूप से खेलकर गेमों को अच्छी तरह से नियंत्रित किया और अपने प्रतिद्वंद्वी को ज्यादा मौके नहीं दिए। उन्होंने राष्ट्रीय प्रदर्शनी केंद्र (एनईसी) में शो कोर्ट में फाइनल में 21-15, 21-13 से जीत हासिल की। जीत के बाद सिंधु ने कहा, "मैं लंबे समय से इस स्वर्ण का इंतजार कर रही थी, इसलिए मैं बहुत खुश हूं।"

मिश्रित टीम प्रतियोगिता में रजत पदक जीतने के बाद सिंधु का बर्मिघम राष्ट्रमंडल गेम्स में यह दूसरा पदक है। उन्होंने गोल्ड कोस्ट में मिश्रित टीम में गोल्ड और सिल्वर जीता था। शुरूआती गेम में 4-4 के स्कोर स्तर के साथ जोरदार मुकाबला हुआ। अपने कद और स्मैश का इस्तेमाल करते हुए सिंधु ने 14-8 से बढ़त बना ली और अंत में शुरूआती गेम 21-15 से जीत लिया।

दूसरा गेम भी इसी तर्ज पर चला। जब सिंधु ने 11-6 की शुरूआती बढ़त ले ली और मिशेल ली ने कुछ अधिक आक्रामक तरीके से खेलना शुरू किया, लेकिन सिंधु ने उन पर 19-13 से दबाव बनाया। इसके बाद भारतीय शटलर ने चैंपियनशिप प्वाइंट और स्वर्ण अपने नाम कर लिया।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;