इंग्लैंड को भारत के खिलाफ स्मार्ट जोखिम लेने की जरूरत, खेलनी होगी अच्छी किक्रेट: नासिर हुसैन

हुसैन ने सोमवार को डेली मेल के लिए अपने कॉलम में लिखा, "जोखिम लेने में समझदारी होनी चाहिए, जैसा कि पिछली गर्मियों में एशेज में इंग्लैंड के लॉर्ड्स में और हेडिंग्ले में पहली पारी में हार के बाद हुआ था।"

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पूर्व कप्तान नासिर हुसैन का मानना है कि इंग्लैंड को 25 जनवरी से शुरू होने वाली आगामी पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के दौरान भारत के खिलाफ स्मार्ट जोखिम लेने की जरूरत होगी। साथ ही उन्होंने कहा कि बल्लेबाजों को बेहतर प्रदर्शन करने की जरूरत है।

इंग्लैंड ने आखिरी बार 12 साल पहले भारत में टेस्ट सीरीज जीती थी। जहां एलिस्टेयर कुक कप्तान थे। स्पिनर ग्रीम स्वान और मोंटी पनेसर के साथ केविन पीटरसन ने 2-1 की जीत में प्रमुख भूमिका निभाई थी।

2021 के दौरे में इंग्लैंड ने चेन्नई में शुरुआती टेस्ट जीता था, लेकिन अगले तीन मैच हारकर सीरीज 3-1 से हार गई।

हुसैन ने सोमवार को डेली मेल के लिए अपने कॉलम में लिखा, "जोखिम लेने में समझदारी होनी चाहिए, जैसा कि पिछली गर्मियों में एशेज में इंग्लैंड के लॉर्ड्स में और हेडिंग्ले में पहली पारी में हार के बाद हुआ था।"

"इंग्लैंड के बल्लेबाजों को इस श्रृंखला में मजबूत प्रदर्शन करना होगा। 2012 की उस श्रृंखला और विशेष रूप से कुक और केविन पीटरसन द्वारा बनाए गए रनों को देखें। भारत एक पारी शुरू करने के लिए बहुत कठिन जगह है। हमें चीजों को ध्यान में रखना होगा।"

उन्होंने बेन स्टोक्स एंड कंपनी को भारत में अपनी चयन रणनीतियों के प्रति सचेत रहने की सलाह दी और विकेटकीपर-बल्लेबाज के रूप में बेन फॉक्स को प्राथमिकता दी।

हुसैन ने इंग्लैंड से भारत के अपने पिछले दौरे पर पिछली गलतियों से सीखने और परिस्थितियों को समझने का आग्रह किया, जिससे कोई बहाना बनाने की जरूरत ही न रहे।

बेन स्टोक्स और कोच ब्रेंडन मैकुलम ने इंग्लैंड की टेस्ट टीम संभालने के बाद से हर चुनौती का सामना किया है और उन सभी सवालों के जवाब दिए हैं, जिनका उन्होंने सामना किया है। वे इसे अब फिर से कर सकते हैं और अपनी अब तक की सबसे बड़ी जीत के साथ अपना इतिहास बना सकते हैं।'

भारत और इंग्लैंड के बीच आगामी श्रृंखला 25 जनवरी को हैदराबाद में शुरू होगी। इसके बाद अन्य मैच विशाखापत्तनम (2-6 फरवरी), राजकोट (15-19 फरवरी), रांची (23-27 फरवरी) और धर्मशाला (7-11 मार्च) में होंगे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;