खेल की 5 खबरें: डु प्लेसिस ने छोड़ी अफ्रीका की कप्तानी और चीन में खेलों पर कोरोना वायरस का साया

फाफ डु प्लेसिस ने दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट और टी-20 टीम की कप्तानी से तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे दिया है और चीन में कोरोना वायरस के चलते पहलवानों को वीजा नहीं दिया जा रहा है। जानिए खेल जगत से जुड़ी 5 बड़ी खबरें।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

फाफ डु प्लेसिस ने टेस्ट और टी-20 की कप्तानी छोड़ी

फाफ डु प्लेसिस ने दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट और टी-20 टीम की कप्तानी से तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे दिया है। क्रिकेट साउथ अफ्रीका (सीएसए) ने सोमवार को इसकी पुष्टि की है। डु प्लेसिस ने एक बयान में कहा, "जब मैंने कप्तानी संभाली थी तब मैंने पूरी प्रतिबद्धता के साथ टीम का नेतृत्व किया। टीम नई दौर में प्रवेश कर चुकी है। नई लीडरशिप, नए चेहरे, नई चुनौतियां और नई रणनीति। मुझे लगता है कि सभी प्रारुपों से कप्तानी छोड़ना दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट के हित में होगा।"

35 वर्षीय डु प्लेसिस ने कहा कि क्विंटन डी कॉक की कप्तानी में वह नई पीढ़ी की मदद करेंगे। उन्होंने कहा, "यह मेरे लिए सबसे मुश्किल फैसलों में से एक था, लेकिन मैं क्विंटन डीकॉक, मार्क और सभी साथियों को पूरी तरह से सहयोग करने के लिए प्रतिबद्ध हूं।"

डु प्लेसिस ने दिसंबर 2012 के बाद से दक्षिण अफ्रीका के लिए 112 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में कप्तानी की है। दक्षिण अफ्रीका को अब शुक्रवार से आस्ट्रेलिया के साथ तीन मैचों की टी-20 सीरीज खेलनी है।

अब खेलों पर भी पड़ रहा है कोरोना वायरस का असर

चीन में बढ़ता कोरोना वायरस का असल अब खेलों पर भी पड़ता दिखाई दे रहा है। एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में भाग लेने के लिए चीन के पहलवानों को वीजा देने से मना कर दिया गया है। भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के सहसचिव विनोद तोमर ने आईएएनएस से इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि चीन के 40 सदस्य दल को एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में भाग लेने के लिए नई दिल्ली आना था, लेकिन अब उन्हें वीजा देने से मना कर दिया गया है।

मनप्रीत ने दिवंगत पिता को समर्पित किया एफआईएच अवॉर्ड

एफआईएच प्लेयर ऑफ द ईयर 2019 अवॉर्ड से नवाजे गए भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने यह पुरस्कार अपने दिवंगत पिता को समर्पित किया है। मनप्रीत ने कहा, "मैं अपने परिवार और दोस्तों को धन्यवाद देना चाहूंगा, जिन्होंने हमेशा से मेरा समर्थन किया है। वे मुझे पूरे करियर के लिए प्रेरित कर रहे हैं। निश्चित रूप से मैं अपने पिता को नहीं भूल सकता, अगर वह अभी भी यहां होते तो उन्हें वास्तव में मुझ पर बहुत गर्व होता। यह पुरस्कार उन्हें समर्पित जिन्होंने हमेशा मुझे समर्थन और ताकत दिए।"

मनु भाकेर बोलीं- ओलम्पिक में अपना सर्वश्रेष्ठ देना चाहती हूं

मुन भाकेर जब टोक्यो में अपना ओलम्पिक पदार्पण करेंगी तो निश्चित तौर पर उन पर उम्मीदों का भार होगा, लेकिन इस युवा खिलाड़ी को लगता है कि उम्मीदें बताती हैं कि लोगों का समर्थन उनके साथ है जो उन्हें ओलम्पिक में मदद करेगा। इंस्पायर इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्ट्स में जारी हाई परफॉर्मेस ट्रेनिंग कैम्प के अंत में मनु ने आईएएनएस से कहा, "मुझे लगता है कि उम्मीदों का मतलब है कि लोग आपका समर्थन करते हैं। कोई भी आपसे तब तक उम्मीद नहीं करेगा, जब तक वो आपका समर्थन न करता हो।"

अगर टी-20 विश्व कप जीते तो बड़ी जीत होगी: हरमनप्रीत

भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर का मानना है कि उनकी टीम दिन प्रतिदिन आगे बढ़ रही है और टी-20 विश्व कप में सकारात्मक सोच के साथ जाएगी। आपको बता दें, भारत विश्व कप के अपने पहले मैच में सिडनी स्टेडियम में शुक्रवार को मेजबान आस्ट्रेलिया से भिड़ेगी। भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कहा कि अगर हम टी-20 विश्व कप जीते तो बड़ी जीत होगी।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

लोकप्रिय