खेल: न्यूजीलैंड दौरे से पहले पाकिस्तान को लगा झटका, कोच ने छोड़ा टीम का साथ और रिजवान बने टी20 टीम के उप-कप्तान

न्यूजीलैंड के पूर्व बैटर ग्रांट ब्रैडबर्न ने पाकिस्तान के हाई-परफॉर्मेंस कोच पद छोड़ दिया है, वहीं मोहम्मद रिजवान को टी20 में पाकिस्तान का उप-कप्तान नियुक्त किया गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

ग्रांट ब्रैडबर्न ने पाकिस्तान के हाई-परफॉर्मेंस कोच का पद छोड़ा

न्यूजीलैंड के पूर्व बैटर ग्रांट ब्रैडबर्न ने पाकिस्तान के हाई-परफॉर्मेंस कोच पद छोड़ दिया। ब्रैडबर्न ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 टी20 की सीरीज के शुरू होने से ऐन पहले ये फैसला लिया। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने शुरू में ब्रैडबर्न को दो साल के लिए पाकिस्तान का हेड कोच नियुक्त किया था। इसके बाद उन्हें हाई परफॉर्मेंस कोच की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। पिछले साल नवंबर में ही पीसीबी ने पाकिस्तान की मेंस क्रिकेट टीम के डायरेक्टर के रूप में मोहम्मद हफीज की नियुक्ति की थी। इसके बाद से ही पाकिस्तान के कोचिंग स्टाफ में बदलाव की सुगबुगाहट थी और अब ब्रैडबर्न ने अपना पद छोड़ दिया।

ग्रांट ब्रैडबर्न ने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर अपने पद छोड़ने के बाद लिखा, "पाकिस्तान क्रिकेट के अद्भुत अध्याय को बंद करने का समय। पांच सालों में तीन भूमिकाएं, जो हासिल किया गया है उस पर मुझे गर्व है और इतने सारे उत्कृष्ट खिलाड़ियों, कोच के साथ काम करने के लिए आभारी हूं। टीमों, स्टाफ और पाकिस्तान क्रिकेट के सभी लोगों को लगातार सफलता और विकास की शुभकामनाएं।" पूर्व ऑलराउंडर यासिर अराफात को हाल ही में न्यूजीलैंड टी20 सीरीज के लिए पाकिस्तान टीम का हाई-परफॉर्मेंस कोच नियुक्त किया गया था। यासिर न्यूजीलैंड के खिलाफ मेन इन ग्रीन की आगामी पांच मैचों की टी20 सीरीज का हिस्सा होंगे, जो 12 से 21 जनवरी तक खेली जाएगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

द.अफ्रीका के हेनरिक क्लासेन ने टेस्ट क्रिकेट से लिया संन्यास

दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज हेनरिक क्लासेन ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। वह वनडे और टी-20 खेलना जारी रखेंगे। नए साल की शुरुआत में यह दक्षिण अफ्रीका के लिए दूसरा बड़ा झटका है। इससे पहले, पिछले हफ्ते केपटाउन में भारत के खिलाफ डीन एल्गर ने अपने करियर का आखिरी टेस्ट खेला। हेनरिक ने 85 प्रथम श्रेणी मैच भी खेले जहां उन्होंने 46.09 की औसत से 5347 रन बनाए, जिसमें 12 शतक और सीएसए 4-डे सीरीज़ में मोमेंटम मल्टीप्लाई टाइटन्स के लिए 292 रन की करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी शामिल है।

हेनरिक ने रिटायरमेंट की घोषणा इंस्टाग्राम पर की। उन्होंने पोस्ट कर लिखा, "मैंने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की है। मैं इस फॉर्मेट से प्यार करता हूं। इससे रिटायरमेंट लेना आसान नहीं था। मैं कई रात सो नहीं पाया। इस पर काफी सोच-विचार करने के बाद मैंने संन्यास लेने की घोषणा की है मैंने मैदान के अंदर और बाहर कई चीजों का सामना किया। जिसने मुझे क्रिकेटर बनाया है। टेस्ट खेलना शानदार रहा और मुझे खुशी है कि मैं देश का प्रतिनिधित्व कर सका।" दक्षिण अफ्रीका को इस साल सात और टेस्ट खेलने हैं, लेकिन, क्लासेन अब वेस्टइंडीज, बांग्लादेश, श्रीलंका और पाकिस्तान के खिलाफ मैचों में चयन के लिए उपलब्ध नहीं होंगे। क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेट निदेशक एनोक नकेवे ने कहा, "हेनरिक जैसी क्षमता वाले खिलाड़ी को लाल गेंद वाले क्रिकेट से दूर जाते देखना कठिन है, लेकिन हम उनके फैसले का सम्मान करते हैं। हम उन्हें सफेद गेंद के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए देखने के लिए उत्सुक हैं।"

फोटो: IANS
फोटो: IANS

पाकिस्तान टी20 टीम के उप-कप्तान बने मोहम्मद रिजवान

विकेटकीपर-बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान को 12 जनवरी से शुरू होने वाले न्यूजीलैंड के पांच मैचों के दौरे से पहले टी20 में पाकिस्तान का उप-कप्तान नियुक्त किया गया है। मोहम्मद रिजवान अब टी20 टीम के नेतृत्व समूह में नए कप्तान शाहीन शाह आफरीदी के साथ मिलकर काम करेंगे, क्योंकि 2009 पुरुष टी20 विश्व कप विजेता पाकिस्तान अब वेस्टइंडीज और यूएसए में होने वाले टूर्नामेंट के 2024 संस्करण के लिए अपनी तैयारियों को पुख्ता कर रहे हैं। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा जारी एक बयान में रिजवान ने कहा, "पाकिस्तान पुरुष टी20 टीम के उप-कप्तान के रूप में नामित होना सम्मान की बात है। मुझे यह जिम्मेदारी सौंपने के लिए मैं पीसीबी का आभारी हूं। मैं कप्तान, कोचिंग स्टाफ और साथियों के साथ मिलकर काम करने के लिए उत्सुक हूं।" 31 वर्षीय रिजवान ने 2015 में इस प्रारूप में डेब्यू के बाद से 85 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 2,797 रन बनाए हैं, जिसमें एक शतक और 25 अर्धशतक शामिल हैं। स्टंप के पीछे रिजवान ने 41 कैच और 11 स्टंपिंग की है।

पाकिस्तान टीम : शाहीन शाह आफरीदी (कप्तान), मोहम्मद रिजवान (उप-कप्तान और विकेटकीपर), आमिर जमाल, अब्बास अफरीदी, आजम खान (विकेटकीपर), बाबर आजम, फखर जमां, हारिस रऊफ, हसीबुल्लाह (विकेटकीपर), इफ्तिखार अहमद, मोहम्मद नवाज, मोहम्मद वसीम जूनियर, साहिबज़ादा फरहान, सईम अयूब, उसामा मीर और ज़मान खान

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

ओलंपिक क्वालीफायर के लिए भारतीय हॉकी टीम तैयार : नवनीत

करीब एक सप्ताह रांची में बिताने और मरांग गोमके जयपाल सिंह एस्ट्रोटर्फ में प्रशिक्षण लेने के बाद, भारतीय महिला हॉकी टीम एफआईएच हॉकी ओलंपिक क्वालीफायर रांची 2024 में चुनौती के लिए तैयार है। जहां वे 13 जनवरी से यूनाइटेड स्टेट्स के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेंगी। घरेलू मैदान के बारे में बोलते हुए अटैकिंग मिडफील्डर नवनीत ने कहा, "रांची में जल्दी पहुंचने से हमें मुख्य पिच पर कुछ सत्रों का लाभ उठाने में मदद मिली है और इससे हमें इस मौसम के साथ तालमेल बिठाने में भी मदद मिली है। "

भारत को न्यूजीलैंड, इटली और संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ पूल बी में रखा गया है। प्रत्येक पूल से शीर्ष दो टीमें सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करेंगी और टूर्नामेंट में शीर्ष 3 पर रहने वाली टीमें पेरिस 2024 का टिकट अर्जित करेंगी। नवनीत ने कहा, "हमें अच्छे परिणाम की उम्मीद है। जिन टीमों के साथ हमें ग्रुप में बांटा गया है, वे हमारे लिए नई नहीं हैं। हम पहले भी उनके खिलाफ खेल चुके हैं। सर्कल में हम जो मौके बनाते हैं, उन्हें भुनाना हमारे अभियान और टूर्नामेंट में अच्छी शुरुआत के लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा।"

भारतीय महिला हॉकी टीम लगातार तीसरी बार ओलंपिक क्वालिफिकेशन के लिए प्रतिस्पर्धा करेंगी। टोक्यो ओलंपिक खेलों के पिछले संस्करण में भारत ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए चौथे स्थान पर रहा था। भारत अपने शुरुआती मैच में 13 जनवरी को संयुक्त राज्य अमेरिका से भिड़ेगा। उसके बाद 14 जनवरी को न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच होगा। फिर, 16 जनवरी को इटली से टक्कर होगी, जबकि, सेमीफाइनल 18 और फाइनल 19 जनवरी को होगा। मैदान में अन्य टीमों में विश्व नंबर 5 जर्मनी, पूर्व एशियाई खेलों के चैंपियन जापान, चिली और चेक गणराज्य को पूल ए में रखा गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

10 मीटर एयर पिस्टल में वरुण तोमर ने जीता गोल्ड

भारतीय निशानेबाज वरुण तोमर ने सोमवार को एशियाई क्वालीफायर में 10 मीटर पुरुष एयर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतकर पेरिस ओलंपिक कोटा हासिल किया। 20 वर्षीय खिलाड़ी ने फाइनल में 239.6 का स्कोर किया और हमवतन अर्जुन चीमा को पीछे छोड़ दिया, जिन्होंने 237.3 के स्कोर के साथ रजत पदक जीता। भारत ने पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल टीम स्पर्धा में स्वर्ण पदक के साथ जकार्ता एशियाई ओलंपिक क्वालीफाइंग इवेंट में अपना अभियान शुरू किया है, जो राइफल और पिस्टल निशानेबाजों के लिए 2024 एशिया शूटिंग चैंपियनशिप के रूप में भी दोगुना हो गया है। वरुण, अर्जुन और उज्जवल मलिक की भारतीय टीम ने 1740 के संयुक्त स्कोर के साथ शीर्ष स्थान हासिल किया और स्वर्ण पदक हासिल किया, जबकि ईरान और कोरिया ने क्रमशः रजत और कांस्य पदक जीते।

भारत पहले ही निशानेबाजी में 13 पेरिस ओलंपिक कोटा स्थान जीत चुका है। जिसमें राइफल में आठ, पिस्टल में तीन और शॉटगन में दो शामिल हैं। सरबजोत सिंह (पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल), मनु भाकर (महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल) और अनीश भानवाला (पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल) तीन भारतीय पिस्टल निशानेबाज हैं जिन्होंने पहले ही कोटा हासिल कर लिया है। एक देश अधिकतम 24 कोटा प्राप्त कर सकता है। जबकि, राइफल, पिस्टल और शॉटगन स्पर्धाओं में प्रत्येक में आठ। भारतीय निशानेबाज पिछली बार टोक्यो ओलंपिक से पहले जीते गए अपने अधिकतम 15 कोटा को पार करने का लक्ष्य बना रहे हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;