Tokyo में आज भारत! लवलीना ने मेडल किया पक्का, सेमीफाइनल में सिंधु, तीरंदाज दीपिका का सफर खत्म, हॉकी में भी जीत

टोक्यो ओलंपिक में भारत की झोली में अब तक सिर्फ एक ही पदक आया है। लेकिन आज शानदार खेल दिखते हुए भारत की महिला मुक्केबाज लवलीना बोर्गोहेन सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। इसके साथ ही उन्होंने देश के लिए एक और मेडल पक्का कर लिया है। हालांकि कई भारतीय खिलाड़ियों का आज मेडल जीतने का सपना भी टूट गया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

टोक्यो ओलंपिक में भारत की झोली में अब तक सिर्फ एक ही पदक आया है। ऐसे में हर दिन भारतीय एथलीट मेडल की उम्मीद से मैदर में उतर रहे हैं। आज 30 जुलाई यानी टोक्यो ओलिंपिक के 8वें दिन भारत ने एक और मेडल पक्का कर लिया है। ये मेडल महिला मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन ने पक्का किया है। लवलीना ने 69 किलो वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बना ली है।

इसके अलावा शटलर पीवी सिंधु ने भी कमाल का प्रदर्शन किया है। वह भी सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। सिंधु भी मेडल जीतने से एक कदम दूर हैं। वहीं, आर्चरी में भारत के लिए बुरी खबर सामने आई। जहां तीरंदाज दीपिका कुमारी महिला व्यक्तिगत का क्वार्टर फाइनल मुकाबला हारकर बाहर हो गई हैं। उनका मेडल जीतने का सपना यहीं टूट गया। इन सबके बीच कई खेलों से भारत के लिए अच्छी खबर भी सामने आई है। आगे आपको बताते है भारत के लिए कैसे रहा आज का दिन। कहां कहां भारत जीत और कहां मिली हार।

हॉकी

भारत की महिला टीम ने आयरलैंड को हराया, क्वार्टर फाइनल की उम्मीद बनाई रखी

टोक्यो ओलंपिक में भारत की महिला हॉकी टीम को लगातार तीन हार के बाद पहली जीत नसीब हुई है। उसने शुक्रवार को अपने चौथे ग्रुप मैच में आयरलैंड को 1-0 से हरा दिया है। ओई हॉकी स्टेडियम नॉर्थ पिच पर खेले गए इस मुकाबले में मैच का एकमात्र गोल 57वें मिनट में नवनीत कौर ने किया। यह एक फील्ड गोल था, जिसने भारत को तीन हार के बाद टोक्यों में खुशी मनाने का मौका दिया। वैसे यह मैच भारतीय अग्रिम पंक्ति खासकर पेनाल्टी कार्नर विशेषज्ञों के लिए बेहद निराशाजनक रहा क्योंकि 14 पेनाल्टी कार्नर मिलने के बावजूद भारत उसे एक भी गोल में कन्वर्ट नहीं कर सका। आयरिश टीम को बदले में तीन पीसी मिले लेकिन वह भी गोल नहीं कर सकी। अब भारत को अपना अंतिम ग्रुप मैच दक्षिण अफ्रीका से खेलना है। भारतीय टीम वैसे नॉकआउट की दौड़ से बाहर हो चुकी है। भारत के ग्रुप-ए में चार मैचों से तीन अंक हैं और वह अपने ग्रुप में शामिल छह टीमें के बीच पांचवें स्थान पर है।

पुरुष हॉकी टीम की क्वार्टर फाइनल में एंट्री, जापान को 5-3 से दी शिकस्त

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने यहां चल रहे टोक्यो ओलंपिक में ग्रुप चरण के पूल ए मुकाबले में जापान को 5-3 से हरा दिया है। भारत की ओर से गुरजंत सिंह ने दो गोल किए जबकि हरमनप्रीत सिंह, शमशेर सिंह और नीलकांत शर्मा ने एक-एक गोल किए। जापान की तरफ से केंटा तनाका, कोटा वातानाबे और काजुमा मुराता ने एक-एक गोल किए। भारत की तरफ से हरमनप्रीत ने पहले क्वार्टर में 13वें मिनट में गोल कर टीम को शुरूआत की बढ़त दिलाई। इसके बाद दूसरे क्वार्टर में गुरजंत ने 17वें मिनट में गोल कर स्कोर 2-0 कर दिया। हालांकि, जापान ने तुरंत वापसी की ओर तनाका ने 19वें मिनट में गोल कर बढ़त कम कर दी। इसके बाद वातानाबे ने तीसरे क्वार्टर में 33वें मिनट में गोल कर स्कोर 2-2 से बराबर कर दिया। हालांकि, भारत की ओर से शमशेर ने एक मिनट बाद ही 34 वें मिनट में गोल कर फिर 3-2 की बढ़त बना ली। नीलकांत ने फिर चौथे और अंतिम क्वार्टर में 51वें मिनट में गोल कर स्कोर 4-2 किया। मैच के अंतिम मिनटों में गुरजंत ने 57 वें मिनट में एक और गोल कर भारत को 5-2 की बढ़त दिलाई। हालांकि, जापान ने भी अंत तक हार नहीं मानी और मुराता ने 59वें मिनट में गोल दाग स्कोर 5-3 कर दिया। निर्धारित समय तक जापान बढ़त हासिल नहीं कर सका और उसे हार का सामना करना पड़ा।

बैडमिंटन

सेमीफाइनल में पहुंची सिंधु मेडल जीतने से एक कदम दूर

भारत की महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने यहां चल रहे टोक्यो ओलंपिक में महिला एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में जापान की अकाने यामागुची को 2-0 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है। रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता सिंधु ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए यामागुची को 56 मिनट तक चले मुकाबले में 21-13, 22-20 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। सिंधु ने यामागुची के खिलाफ पहला गेम आसानी से जीता लेकिन दूसरे गेम में उन्हें यामागुची से कड़ी टक्कर मिली। एक समय यामागुची ने बढ़त भी बना ली थी और ऐसा लग रहा था कि यह मैच तीसरे गेम तक जाएगा। हालांकि, सिंधु ने बिना देरी किए वापसी की और लगातार अंक लेकर मैच खत्म कर दिया।

मुक्केबाजी

सेमीफाइनल में पहुंची लवलीना, कांस्य पदक किया पक्का

भारत की महिला मुक्केबाज लवलीना बोर्गोहेन यहां जारी टोक्यो ओलंपिक के 69 किग्रा भार वर्ग के सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। इस तरह असम की इस मुक्केबाज ने देश के लिए कम से कम कांस्य पदक पक्का कर लिया है। कुकुगिकान एरेना में लवलीना का सामना ताइवान की नेन चिन चेन से हुआ, जहां वह 4-1 से विजयी रहीं। लवलीना ने इससे पहले मंगलवार को खेले गए अंतिम-16 राउंड के मुकाबले में जर्मनी की एदिन एपेट को 3-2 से हराया था। नीले कार्नर पर खेल रहीं लवलीना ने पांचों जजों से क्रमश: 28, 29, 30, 30, 27 अंक हासिल किए थे। दूसरी ओर, नेदिन को 29, 28, 27, 27, 30 अंक प्राप्त हुए थे।

राउंड ऑफ-16 में हारीं सिमरनजीत

भारत की महिला मुक्केबाज सिमरनजीत कौर बाथ को शुक्रवार को लाइटवेट कटेगरी के राउंड ऑफ-16 मुकाबले में हार मिली। कोकूगिकान एरेना में सिमरनजीत का सामना थाईलैंड की सुदापोर्न सीसोंडी से था। सिमरनजीत यह मैच 0-5 से हार गईं। इस तरह ओलंपिक में उनका सफर यहीं समाप्त हो गया। भारत के लिए पूजा रानी और लवलीना बोर्गोहेन क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई हैं। लंदन ओलंपिक में कांस्य जीतने वाली दिग्गज एमसी मैरीकोम हालांकि बाहर हो चुकी हैं।

एथलेटिक्स

3000 मी.स्टेपलचेज हीट से ही बाहर हुए भारत के अविनाश

भारत के अविनाश मुकुंद साबले यहां जारी टोक्यो ओलंपिक के एथलेटिक्स की 3000 मीटर स्टेपलचेज स्पर्धा में नेशनल रिकार्ड के बावजूद आगे का सफर नहीं तय कर सके हैं। शुक्रवार को ओलंपिक स्टेडियम में आयोजित इवेंट के हीट में अविनाश आगे बढ़ने योग्य समय नहीं प्राप्त कर सके। वह राउंड-1 के हीट नम्बर-2 में 8:18।11 मिनट समय के साथ सातवें स्थान पर रहे। इस इवेंट के तीन हीट आयोजित हुए, जिनमें से हर हीट से तीन एथलीटों ने अगले राउंड के लिए क्वालीफाई किया है।

400 मी. हीट से ही बाहर हुए भारत के जबीर

भारत के एमपी जबीर यहां जारी टोक्यो ओलंपिक के एथलेटिक्स की 400 मीटर स्पर्धा में आगे का सफर नहीं तय कर सके हैं। शुक्रवार को ओलंपिक स्टेडियम में आयोजित इवेंट के हीट में जबीर आगे बढ़ने योग्य समय नहीं प्राप्त कर सके। वह राउंड-1 के हीट नम्बर-5 में 50।77 सेकेंड समय के साथ सात धावकों के बीच सातवें स्थान पर रहे। इस इवेंट के पांच हीट आयोजित हुए, जिनमें से हर हीट से चार एथलीटों ने अगले राउंड के लिए क्वालीफाई किया है।

दुती हीट से ही बाहर हुईं

टोक्यो 2020 की महिला 100 मीटर स्प्रिंट में भारतीय स्प्रिंटर दुती चंद अपनी हीट में 7वें नंबर पर रहकर अगले चरण की होड़ से बाहर हो गई हैं। दुती ने 11।54 सेकंड का समय निकाला, जो उनकी हीट में पहले नंबर पर रहीं जमैका की सर्वकालिक महानतम एथलीटों में शामिल शेली एन फ्रेजर प्राइस से करीब 0।148 सेकंड कम रहा। दो बार ओलंपिक स्वर्ण और रियो ओलंपिक खेल-2016 की कांस्य पदक विजेता प्राइस ने 10।84 सेकंड के समय के साथ क्वालिफाई किया।

4x400m रिले मिक्स्ड के पहले राउंड के दूसरी हीट में भारत 8वें स्थान पर रहा

4x400m Relay Mixed के पहले राउंड के दूसरी हीट में भारत (3:19।93) 8वें स्थान पर रहा। इस इवेंट में टॉप-3 ही फाइनल के लिए क्वॉलिफाइ करते हैं। ऐसे में भारत की चुनौती यहां खत्म हो गई है।

आर्चरी

क्वार्टर फाइनल में हार के साथ थमा दीपिका का सफर

भारत की अग्रणी महिला तीरंदाज दीपिका कुमारी यहां जारी टोक्यो ओलंपिक की व्यक्तिगत स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में दक्षिण कोरिया की सैन एन से 0-6 से हार गईं हैं। दीपिका को सैन एन ने पहले सेट में 30-27, दूसरे सेट में 26-24 और तीसरे सेट में 26-24 से हराया। दीपिका ने इससे पहले युमेनोशीमा फाइनल फील्ड में आयोजित 1/8 एलिमिनेशन राउंड के मुकाबले में आरओसी की केनिया पेरोवा को 6-5 से हराया था। दीपिका ने पहला सेट 28-25 से जीत कर 2-0 की लीड ले ली लेकिन पेरोवा ने दूसरा सेट 27-26 से अपने नाम कर स्कोर 2-2 कर दिया। इसके बाद दीपिका ने दूसरा सेट 28-27 से जीत 4-2 की लीड ले ली लेकिन पेरोवा ने अगले सेट में उन्हें बराबरी पर रोकते हुए स्कोर 5-3 कर दिया। फिर पेरोवा ने पांचवां सेट 28-25 से जीत स्कोर 5-5 कर दिया। इसके बाद शूट ऑफ प्वाइंट का आयोजन हुआ, जिसमें दीपिका ने 7 के मुकाबले 10 का स्कोर हासिल कर मैच 6-5 से अपने नाम कर लिया था।

निशानेबाजी

मनु भाकर-राही सरनोबत 25 मीटर पिस्टल के फाइनल में जगह बनाने में नाकाम

टोक्यो ओलंपिक 2020 की 25 मीटर महिला पिस्टल स्पर्धा के क्वालिफिकेशन में भारतीय निशानेबाज मनु भाकर 15वें और राही सरनोबत 32वें नंबर पर रहकर फाइनल के लिए क्वालिफाई नहीं कर सकीं। मनु ने प्रीसीशन में 292 और रैपिड राउंड में 290 अंक समेत कुल 582 अंक जुटाए, जबकि राही ने 287 और 286 अंक के साथ कुल 573 का स्कोर किया। निशानेबाजी से अब तक भारत को एक भी पदक नहीं प्राप्त हुआ है जबकि 15 सदस्यीय भारतीय दल टोक्यो पहुंचा था।

सेलिंग

महिला लेजर रैडियाल

सेलिंग में भारत की नेत्रा कुमारी 10वीं रेस में 38वें स्थान पर रहीं। इससे पहले नौवीं रेस के बाद वह 39वें स्थान पर थी।

नेत्रा का सफर थमा

भारत की महिला सेलर नेत्रा ने नौवीं और दसवीं रेस में 37वां और 38वां स्थान हासिल किया है। वह ओवरऑल 35वें स्थान पर रहीं. शीर्ष-10 ही मेडल की रेस में रहेंगी। इसी के साथ नेत्रा का सफर थम गया।

विष्णु सरवानन की बड़ी उपलब्धि

भारत के विष्णु सरवानन के लिए बड़ी उपलब्धि। लेजर रैडियाल की नौवीं रेस में वह तीसरे स्थान पर रहे। वह कुल मिलाकर 20वें स्थान पर पहुंच गए हैं।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia