खेल की 5 बड़ी खबरें: अहमदाबाद टेस्ट में भी 'विराट सेना' ने अंग्रेजों को चटाई धूल, टैस्ट रैंकिंग में नंबर-1 बनी टीम इंडिया

भारतीय टीम ने चौथे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को शनिवार को एक पारी और 25 रनों से हराने के साथ ही विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बना ली और आईसीसी की जारी ताजा टेस्‍ट रैंकिंग में विराट कोहली के नेतृत्‍व वाली भारतीय टीम नंबर-1 पर पहुंच गई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

()अहमदाबाद टेस्ट: इंग्लैंड को हराकर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचा भारत

भारतीय टीम ने मोटेरा के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए चौथे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को शनिवार को एक पारी और 25 रनों से हराने के साथ ही विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बना ली। भारत ने पहली पारी में 160 रनों की बढ़त हासिल करने के बाद इंग्लैंड को 135 रन पर ऑलआउट कर दिया। भारत ने इस जीत से चार मैचों की टेस्ट पर 3-1 से कब्जा किया और विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बना ली। भारत का इस चैंपियनशिप के फाइनल में न्यूजीलैंड से मुकाबला होगा जो पहले ही खिताबी मुकाबले में जगह बना चुका है। भारत 72.2 फीसदी अंक के साथ चैंपियनशिप की अंक तालिका में पहले स्थान पर है जबकि न्यूजीलैंड 70 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर है। भारत के फाइनल में पहुंचने से तीसरे नंबर पर मौजूद ऑस्ट्रेलिया फाइनल में नहीं पहुंच सका। इंग्लैंड को हराने से पहले भारत ने इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में 2-1 से हराया था। विश्व चैंपियनशिप का फाइनल लंदन के ऐतिहासिक लॉर्डस मैदान पर इस साल 18 से 22 जून के बीच खेला जाएगा।

भारत ने छठी बार पहला मैच गंवाने के बाद जीती है सीरीज

भारत के 8 दशक के टेस्ट क्रिकेट इतिहास में अब तक छह ऐसे शानदार मौके आए हैं जब उसने पहला मैच गंवाने के बाद सीरीज अपने नाम की है। भारत ने शनिवार को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में इंग्लैंड को चौथे टेस्ट में एक पारी और 25 रनों से हराया। भारत इस जीत से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंच गया है जहां उसका सामना न्यूजीलैंड से होगा। फाइनल मुकाबला इस साल 18 से 22 जून तक इंग्लैंड के लॉर्डस मैदान पर खेला जाएगा। इस सीरीज का पहला टेस्ट चेन्नई में खेला गया था, जिसे जीतकर इंग्लैंड ने 1-0 की लीड ले ली थी लेकिन भारत ने चेन्नई में ही खेले गए दूसरा टेस्ट मैच जीतते हुए बराबरी कर ली थी। इसके बाद भारत ने अहदाबाद का रुख किया था और दिन-रात के टेस्ट में इंग्लैंड को हराकर 2-1 की लीड बना ली थी। अब भारत ने एक और जीत के साथ सीरीज भी अपने नाम किया और साथ ही साथ टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में स्थान पक्का किया। इस सीरीज के अलावा पांच ऐसे मौके आए हैं जब भारत ने तीन या उससे अधिक मैचों की सीरीज का पहला मैच गंवाने के बाद सीरीज कब्जाई है। पहला वाक्या 1972-73 सत्र का है जब इंग्लैंड के ही खिलाफ भारत ने पांच मैचों सीरीज का पहला मैच गंवाने के बाद सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी। इसके बाद साल 2000-01 में भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ यह कारनामा किया। तीन मैचों की सीरीज में भारत ने पहला मैच गंवाया था और इसके बाद लगातार दो जीत के साथ सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली थी।

साल 2015 में भी इसी तरह की एक घटना हुई थी जब भारत ने श्रीलंका के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी। उस सीरीज में भी भारत पहला मैच हार गया था। इसके बाद भारतीय टीम ने 2016-17 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की सीरीज में 2-1 से जीत हासिल की थी। इस सीरीज में भी भारत पहला मैच हार गया था। इस सीजन में भारत ने दूसरी बार यह कारनामा किया है। उसने जनवरी में आस्ट्रेलिया को उसी के घर में चार मैचों की सीरीज में 2-1 से हराया था। यह वही सीरीज है, जिसमें भारतीय खिलाड़ियों ने एडिलेड में खेला गया पहला टेस्ट गंवाने के बाद मेलबर्न टेस्ट में जीत हासिल की थी और फिर सिडनी टेस्ट ड्रॉ कराया था। इसके बाद भारतीय खिलाड़ियों ने तमाम मुश्किलों का सामना करते हुए ब्रिस्बेन के गाबा में शानदार जीत के साथ सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी।

ICC टेस्ट रैंकिंग: टीम इंडिया बनी नंबर-1

टीम इंडिया ने शनिवार को अहमदाबाद में खेले गए चौथे व अंतिम टेस्‍ट में इंग्‍लैंड को एक पारी और 25 रन के अंतर से मात दी। इस जीत के साथ ही टीम इंडिया को आईसीसी की टेस्‍ट टीम रैंकिंग में भी बड़ा फायदा हुआ है। आईसीसी की जारी ताजा टेस्‍ट रैंकिंग में विराट कोहली के नेतृत्‍व वाली भारतीय टीम नंबर-1 पर पहुंच गई है। टीम इंडिया ने केन विलियमसन के नेतृत्‍व वाली न्‍यूजीलैंड को शीर्ष स्‍थान से खिसका दिया है।

बता दें कि इंग्‍लैंड पर चौथे टेस्‍ट में जीत के साथ ही भारतीय टीम की आईसीसी विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह पक्‍की हो गई। अब टीम इंडिया का आईसीसी विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल में सामना न्‍यूजीलैंड से लॉर्ड्स मैदान पर होगा। टीम इंडिया 122 रेटिंग अंकों के साथ शीर्ष पर हैं जबकि न्‍यूजीलैंड की टीम 118 रेटिंग के साथ दूसरे स्‍थान पर काबिज है। ऑस्‍ट्रेलिया 113 रेटिंग, इंग्‍लैंड 105 रेटिंग और पाकिस्‍तान 90 रेटिंग क्रमश: तीसरे, चौथे और पांचवें स्‍थान पर है।

इंडियन ग्रां प्री: हिमा दास ने 100 मीटर में जीता स्वर्ण

'ढिंग एक्सप्रेस' के नाम से मशहूर भारत की महिला धावक हिमा दास ने यहां तीसरी इंडियन ग्रां प्री में महिलाओं की 100 मीटर स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया। यहां पटियाला के नेशनल इंस्टीट्यूट में शुक्रवार को 100 मीटर की रेस में अकेले दौड़ने वालीं हिमा ने 11.67 सेकंड के साथ स्वर्ण पदक हासिल किया। 21 साल की हिमा 400 मीटर रेस में नेशनल रिकॉर्ड होल्डर हैं। पिछले महीने ही पटियाला में हुए दूसरे इंडियन ग्रां प्री में उन्होंने 200 मीटर में भाग लिया था और 23.31 सेकेंड में रेस पूरी की थी। हिमा के अलावा पंजाब की अमृत कौर भी इस स्पर्धा में भाग ली थीं लेकिन उन्हें कोई पदक नहीं मिला। महिलाओं के 400 मीटर में कर्नाटक की एमआर पुवामा पहले, तमिलनाडु की सुभा वेंकटेशन दूसरे और केरल की वीके सालिनी तीसरे स्थान पर रही। पुवामा ने शुक्रवार को 54.11 सेकेंड में रेस पूरा किया। वह यहां पहले दो चरण में भी विजेता रही थी। पुवामा ने 800 मीटर में पहले, हरियाणा की उर्वशी दूसरे और राजस्थान की सुखवंत कौर तीसरे नंबर पर रही। पुरुषों के 400 मीटर रेस में दिल्ली के अमोज जैकेब पहले, दिल्ली के सार्थक भांबरी दूसरे और पंजाब के जश्नजोत सिंह तीसरे पायदान पर रहे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

मुक्केबाजी : बॉक्सम इंटरनेशनल के फाइनल में पहुंची पूजा रानी

एशियाई चैंपियनशिप की स्वर्ण पदक विजेता पूजा रानी (75 किग्रा) स्पेन के कास्टेलॉन में चल रहे 35वें बॉक्सम इंटरनेशनल बॉक्सिंग टूर्नामेंट में पनामा की विश्व चैंपियन एथीयना बाइलोन को हराकर फाइनल में पहुंच गईं। इस टूर्नामेंट में छह पुरुष मुक्केबाज सहित नौ भारतीय मुक्केबाज फाइनल में पहुंच चुके हैं। पूजा के अलावा जैसमीन (57 किग्रा) और सिमरनजीत (60 किग्रा) ने भी फाइनल में जगह बनाई है। अपना पहला सीनियर अंतरराष्ट्रीय टूनार्मेंट खेल रहीं जैसमीन ने सेमीफाइनल में इटली की सिरिने चाराबी को 4-1 से हराकर फाइनल में जगह बनाई। स्वर्ण पदक मुकाबले के लिए उनका सामना यूरोपियन चैंपियन एर्मा टेस्टा से होगा। इस बीच पुरुषों में मोहम्मद हुसामुद्दीन (57 किग्रा), मनीष कौशिक, विकास कृश्न (69 किग्रा), आशीष कुमार (75 किग्रा), सुमित सांगवान (81 किग्रा) और सतीश कुमार (91 प्लस किग्रा) फाइनल में पहुंचे। इससे पहले छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरी कॉम (51 किग्रा) को अमेरिका की वर्जिनिया फुच्स से हार का सामना करना पड़ा।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय