गुवाहाटी वनडे में भारत ने श्रीलंका को 67 रनों से हराया, सीरीज में बनाई 1-0 की बढ़त

टीम इंडिया के 7 विकेट पर 373 रनों के जवाब में श्रीलंका 50 ओवर में 8 विकेट खोकर 306 रन बना सका। श्रीलंका की ओर से कप्तान दासुन शनाका (108 नाबाद) और पथुम निसंका (72) ने सबसे ज्यादा रन बनाए। भारत की ओर से उमरान मलिक ने तीन और मोहम्मद सिराज ने दो विकेट चटकाए।

फोटोः बीसीसीआई
फोटोः बीसीसीआई
user

नवजीवन डेस्क

गुवाहाटी के बरसापारा क्रिकेट स्टेडियम में मंगलवार को खेले गए पहले वनडे मुकाबले में भारत ने विराट कोहली और उमरान मलिक के शानदार प्रदर्शन की वजह से श्रीलंका को 67 रनों से हरा दिया। इस जीत से भारत ने तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है। टीम इंडिया के 373/7 रनों के जवाब में श्रीलंका 50 ओवर में 8 विकेट खोकर 306 रन बना सकी। श्रीलंका की ओर से कप्तान दासुन शनाका (108 नाबाद) और पथुम निसंका (72) ने सबसे ज्यादा रन बनाए। भारत की ओर से उमरान मलिक ने तीन विकेट लिए, जबकि मोहम्मद सिराज ने दो विकेट चटकाए। वहीं, मोहम्मद शमी, युजवेंद्र चहल और हार्दिक पांड्या ने एक-एक विकेट लिया।

लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंका को पावरप्ले में 38 रनों पर दो शुरुआती झटके लगे। सिराज ने अविष्का फर्नाडो (5) और कुसल मेंडिस (0) को जल्द ही पवेलियन भेज दिया। इसके बाद, सलामी बल्लेबाज पथुम निसंका और चरिथ असलंका ने पारी को संभालने की कोशिश की। दोनों के बीच 51 गेंदों में 41 रन की साझेदारी को उमरान ने तोड़ा, जब असलंका (23) को राहुल के हाथों कैच आउट कराया।

पांचवें नंबर पर आए धनंजय डी सिल्वा ने निसंका के साथ मिलकर श्रीलंका के लिए कुछ उम्मीदें जरूर जगाई और दोनों ने मिलकर तेज गति से रन बटोरे। इस बीच, निसंका ने अपना अर्धशतक भी पूरा किया, लेकिन शमी ने 65 गेंदों में 72 रनों की साझेदारी को समाप्त करने के लिए डी सिल्वा (47) को अपना शिकार बनाया। श्रीलंका 24.5 ओवर में 136 रन पर अपना चार अहम विकेट खो चुका था।


इसके बाद श्रीलंका लक्ष्य से काफी दूर जाता दिखाई दिया, क्योंकि उमरान और चहल ने निसंका (72) और वानिंदु हसरंगा (16) को पवेलियन भेज श्रीलंका की बची खुची उम्मीदें भी खत्म कर दी। उमरान ने डुनिथ वेल्लेज (0) को आउट कर अपना तीसरा विकेट हासिल किया। देखते ही देखते श्रीलंका ने 32.2 ओवर में 179 पर सात विकेट खो दिए।

इस बीच, कप्तान दासुन शनाका और चमिका करुणारत्ने ने टीम को 200 के पार पहुंचाया। लेकिन पांड्या ने करुणारत्ने (14) को रोहित के हाथों कैच आउट कराकर अपना पहला विकेट हासिल किया, जिससे मेहमान टीम के 37.5 ओवर में 206 रन पर आठ विकेट गिर गए। दूसरे छोर पर कप्तान शनाका ने चौके-छक्के लगाकर 50 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। आखिरी में रजिथा ने शनाका का अच्छे से साथ निभाया, जिससे कप्तान ने एक यादगार पारी खेली।

उन्होंने 87 गेंदों में अपना शतक लगाया और रजिथा के साथ मिलकर नौवें विकेट के लिए 73 गेंदों में अटूट 100 रनों की साझेदारी की। लेकिन श्रीलंका को जीत दिलाने में नाकाम रहे। मेहमान टीम ने 50 ओवर में आठ विकेट खोकर 306 रन बनाए। कप्तान शनाका 12 चौके और तीन छक्कों की मदद से 88 गेंदों में 108 और कसुन रजिथा ने 19 गेंदों में 9 रन बनाकर नाबाद रहे। भारत ने 67 रन से पहला मुकाबला अपने नाम कर, सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई।


इससे पहले, बल्लेबाजी करने उतरे भारत के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने पावर-प्ले में धुआंधार बल्लेबाजी कर रहे थे। रोहित और गिल ने क्रमश: 83 और 70 रन बनाए। इससे पहले, विशाल स्कोर के लिए 143 रनों की पहले विकेट के लिए साझेदारी की। इसके बाद, कोहली ने 87 गेंदों में 113 रनों की पारी खेली, जिससे भारत ने 50 ओवर में 7 विकेट पर 373 रन बनाए। श्रीलंका की ओर से रजिथा ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए, जबकि दिलशान मदुशंका, चमिका करुणारत्ने, दासुन शनाका और धनंजया डी सिल्वा ने एक-एक विकेट हासिल किया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;