राजकोट में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2-2 की बराबरी करना चाहेगा भारत, टीम इंडिया का पलड़ा भारी

भारत मैच जीतने की उम्मीद में कप्तान ऋषभ पंत और शीर्ष क्रम के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर से बड़े रन बनाना चाहेगा। पंत ने दिल्ली में कुछ अच्छे शॉट खेले थे, लेकिन उसके बाद वह बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे हैं। इसलिए उन्हें अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में वापस आना होगा।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

विशाखापत्तनम में 48 रनों से जीत के बाद भारत शुक्रवार को यहां सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में पांच मैचों की सीरीज में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2-2 की बराबरी करने की कोशिश करेगा। 48 घंटे पहले विशाखापत्तनम के मैच में भारत ने हर विभाग में शानदार प्रदर्शन किया, जिसमें ऋतुराज गायकवाड़ और ईशान किशन ने 97 रनों की साझेदारी कर भारत को 179/5 के चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाने में मदद की। नई दिल्ली और कटक में पहले दो मैचों में खराब गेंदबाजी करने के बाद हर्षल पटेल और युजवेंद्र चहल ने क्रमश: चार और तीन विकेट लिए और दक्षिण अफ्रीका को 131 रनों पर समेट दिया।

भारत मैच जीतने की उम्मीद में कप्तान ऋषभ पंत और शीर्ष क्रम के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर से बड़े रन बनाना चाहेगा। पंत ने दिल्ली में कुछ अच्छे शॉट खेले थे, लेकिन उसके बाद वह बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे हैं। इसलिए उन्हें अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में वापस आना होगा।

अय्यर को सभी मैचों में शॉर्ट-पिच गेंदों से परेशान किया गया और तेज गेंदबाजों का सामना करने में संघर्ष किया है। लेकिन वह पिच पर फुटवर्क और तबरेज शम्सी को छक्के लगाने में शानदार रहे हैं। अय्यर राजकोट जैसे बड़े मैदान पर अपना जौहर दिखाने के लिए उतावले होंगे।

गेंद के साथ सही मौके पर चहल और हर्षल ने अच्छी गेंदबाजी की है, जबकि भुवनेश्वर कुमार ने अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखा और अक्षर पटेल ने अच्छा समर्थन किया। वे चाहते हैं कि तेज गेंदबाज आवेश खान भी सीरीज में बेहतर करने के लिए कुछ विकेट हासिल करें।

दूसरी ओर, दक्षिण अफ्रीका विशाखापत्तनम की हार और खराब बल्लेबाजी में सुधार करना चाहेगा। टेम्बा बावुमा की अगुवाई वाली टीम ने पहले दो मैचों में डेविड मिलर, रॉस्सी वैन डेर डूसन और हेनरिक क्लासेन से रन बनाए, जिसके कारण 2022 में भारत को पहली हार मिली थी।

क्विंटन डी कॉक अभी भी चोट से उबर रहे हैं, दक्षिण अफ्रीका बावुमा और उनकी जगह रीजा हेंड्रिक्स को शीर्ष पर बरकरार रख सकता है। गेंदबाजी के नजरिए से दक्षिण अफ्रीका ने भारत के खिलाफ मैच में लगातार वापसी की है। लेकिन मेहमान चाहेंगे कि स्पिनर तबरेज शम्सी और केशव महाराज गेंद के साथ अधिक से अधिक विकेट हासिल करें।

कुल मिलाकर, भारत के लिए दक्षिण अफ्रीका के साथ श्रृंखला को बराबर करना और रविवार को बेंगलुरु में श्रृंखला को निर्णायक मोड़ तक ले जाना कड़ी चुनौती होगी।


दोनों टीमें इस प्रकार हैं-

भारतीय टीम : ऋषभ पंत (कप्तान/ विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या (उपकप्तान), ऋतुराज गायकवाड़, ईशान किशन (विकेटकीपर), दीपक हुड्डा, श्रेयस अय्यर, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), वेंकटेश अय्यर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, रवि बिश्नोई, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, आवेश खान, अर्शदीप सिंह और उमरान मलिक।

दक्षिण अफ्रीका टीम: टेम्बा बावुमा (कप्तान), क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), रीजा हेंड्रिक्स, हेनरिक क्लासेन (विकेटकीपर), केशव महाराज, डेविड मिलर, लुंगी एनगिडी, एनरिक नॉर्टजे, वेन पार्नेल, ड्वेन प्रिटोरियस, कगिसो रबाडा, तबरेज शम्सी, रॉस्सी वैन डेर डूसन, मार्को जानसेन और ट्रिस्टन स्टब्स।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia