अंडर-19 फाइनल में हार के बाद भारतीय कप्तान उदय सहारन का छलका दर्द, जानें क्या कहा?

भारत के कप्तान उदय सहारन ने स्वीकार किया कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पुरुषों के अंडर-19 विश्व कप फाइनल में उनके बल्लेबाज गलत शॉट खेलने और प्रदर्शन में नाकाम रहने के कारण लड़खड़ा गए, जिसके कारण उन्हें 79 रन से हार का सामना करना पड़ा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भारतीय टीम का छठी बार अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतने का सपना और भारतीय क्रिकेट फैंस का दिल चकनाचूर हो गया। फाइनल मुकाबले में मिली इस हार के बाद भारतीय कप्तान उदय सहारन काफी निराश दिखे। उनका मानना है कि उनकी टीम अपनी बनाई रणनीति पर अमल नहीं कर पाई।

भारत के कप्तान उदय सहारन ने स्वीकार किया कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पुरुषों के अंडर-19 विश्व कप फाइनल में उनके बल्लेबाज गलत शॉट खेलने और प्रदर्शन में नाकाम रहने के कारण लड़खड़ा गए, जिसके कारण उन्हें 79 रन से हार का सामना करना पड़ा।

रविवार को खिताबी मुकाबले से पहले भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों पूरी प्रतियोगिता में अजेय रहे थे। पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया के लिए हरजस सिंह, हैरी डिक्सन, कप्तान और ओलिवर पीक ने अच्छी बल्लेबाजी की और टीम को 50 ओवरों में 253/8 रन के स्कोर तक पहुंचाया।

जवाब में मौजूदा चैंपियन भारत को शुरुआती झटके लगे। 20वें ओवर तक मात्र 68 रन पर अपने 4 विकेट खो दिए।

बाएं हाथ के आदर्श सिंह (47) और निचले क्रम के बल्लेबाजी ऑलराउंडर मुरुगन अभिषेक (42) ने भारतीय पारी को संभाला, लेकिन यह पर्याप्त नहीं था। भारतीय टीम 43.5 ओवर में मात्र 174 रन पर सिमट गई। भारत को फाइनल मैच में 79 रन से हार झेलनी पड़ी।


हार के बाद सहारन ने कहा, "यह बहुत अच्छा टूर्नामेंट रहा। मुझे अपने खिलाड़ियों पर गर्व है। उन्होंने शानदार खेल दिखाया। उन्होंने शुरू से ही अपने जज्बे का शानदार नमूना पेश किया। हालांकि फाइनल मुकाबले में हम थोड़े पीछे रहे गए।

"हमने कुछ खराब शॉट खेले और क्रीज पर अधिक समय बिताने में नाकाम रहे। हमने अच्छी तैयारी की थी लेकिन हम अपनी रणनीति पर अमल नहीं कर पाए।"

सहारन प्रतियोगिता के अग्रणी रन स्कोरर रहे। उन्होंने सात मैचों में 56.71 की औसत से 397 रन बनाए, जिसमें एक शतक और तीन अर्द्धशतक शामिल थे। उन्होंने कहा कि वह अपने क्रिकेट करियर में आगे बढ़ने के लिए इस प्रतियोगिता से सीख लेना चाहते हैं।

सहारन ने कहा, "शुरुआत से लेकर अब तक बहुत कुछ सीखने को मिला है। मैंने स्टाफ से बहुत कुछ सीखा है। मैं बस इस टूर्नामेंट से सारी सीख लेना चाहता हूं और आगे बढ़ना चाहता हूं।"

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;