IPL से पहले भारतीय क्रिकेटरों को नहीं मिला 15 दिनों का ब्रेक, लोढ़ा समिति ने ब्रेक को लेकर दिया था ये सुझाव

इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के बाद आईपीएल होना है और भारतीय टीम को इस बीच सिर्फ नौ दिनों का आराम मिलेगा। लोढ़ा समिति ने अपने सिफारिश में यह सुझाव दिया था कि किसी भी अंतरराष्ट्रीय सीरीज और आईपीएल के शुरू होने में कम से कम 15 दिनों का अंतराल होना चाहिए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों को व्यस्त कार्यक्रमों के कारण इस साल होने वाले आईपीएल से पहले 15 दिनों का ब्रेक नहीं मिल सका। भारत और इंग्लैंड के बीच जारी सीरीज 28 मार्च को खत्म हो रही है। भारत ने इंग्लैंड से सीरीज खेलने से पहले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाकर सभी प्रारूपों की सीरीज खेली थी।

इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के बाद आईपीएल होना है और भारतीय टीम को इस बीच सिर्फ नौ दिनों का आराम मिलेगा। लोढ़ा समिति ने अपने सिफारिश में यह सुझाव दिया था कि किसी भी अंतरराष्ट्रीय सीरीज और आईपीएल के शुरू होने में कम से कम 15 दिनों का अंतराल होना चाहिए। इसमें कोई शक नहीं कि व्यस्त कार्यक्रमों के कारण ब्रेक मिलने से भारतीय खिलाड़ियों को थोड़ी राहत मिलती है और उनके काम का बोझ भी थोड़ा हल्का होता है।

हालांकि इन सिफराशिों पर कम ही गौर किया जाता है। आईपीएल के पिछले सत्र में क्रिकेटरों में कोराना महामारी के कारण क्रिकेट गतिविधियां ठप्प होने की वजह से काफी लंबा ब्रेक मिला था।

2019 में आईपीएल से पहले खिलाड़ियों को नौ दिनों का ब्रेक मिला था। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) प्रशासकों की समिति ने उस वक्त उच्चतम न्यायालय को बताया था कि देश में आम चुनाव के कारण ऐसा कार्यक्रम तय करना पड़ा है।

2018 के आईपीएएल में समिति की सिफारिशों का पालन किया गया था और आईपीएल तथा अंतरराष्ट्रीय सीरीज से पहले 15 दिनों से ज्यादा का अंतर था। लेकिन 2017 में इसका पालन नहीं हुआ था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia