IPL 2022: एलिमिनेटर मैच में आज भिड़ेंगे बैंगलोर और लखनऊ, LSG की मजबूत दावेदारी, डु प्लेसिस के धुरंधर कर पाएंगे कमाल?

एलिमिनेटर का विजेता शुक्रवार को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में क्वालीफायर 2 में हारने वाली टीम से भिड़ेगा। पिछले कुछ वर्षों में आरसीबी के पास सिर्फ बल्लेबाजी लाइनअप रही है, हालांकि, इस साल चीजें बदल गई हैं और बैंगलोर फ्रेंचाइजी के पास लीग में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमणों में से एक है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पहले खिताब की तलाश में फाफ डु प्लेसिस की अगुवाई वाली टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) आईपीएल 2022 के एलिमिनेटर में केएल राहुल की लखनऊ सुपर जायंट्स (एलएसजी) से आज ईडन गार्डन में भिड़ेगी। आईपीएल का पहला सीजन खेल रही एलएसजी लीग चरण में नौ जीत के साथ तीसरे स्थान पर रही। दूसरी ओर, आरसीबी ने 16 अंकों के साथ चौथा स्थान हासिल किया और इसके बाद दोनों ने प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई किया, जब मुंबई इंडियंस ने अपने आखिरी लीग मैच में दिल्ली कैपिटल्स को हराया।

एलिमिनेटर का विजेता शुक्रवार को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में क्वालीफायर 2 में हारने वाली टीम से भिड़ेगा। पिछले कुछ वर्षों में आरसीबी के पास सिर्फ बल्लेबाजी लाइनअप रही है, हालांकि, इस साल चीजें बदल गई हैं और बैंगलोर फ्रेंचाइजी के पास लीग में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमणों में से एक है।

उन्होंने ज्यादातर पैसे वानिंदु हसरंगा, हर्षल पटेल और जोश हेजलवुड की सेवाओं को हासिल करने के लिए खर्च किया, जो आरसीबी के लिए टॉप विकेट टेकर रहे हैं, जिनमें से प्रत्येक 14 गेंदों में एक विकेट के साथ 57 विकेट हैं।

हालांकि आरसीबी की सबसे बड़ी चिंता शीर्ष क्रम की बल्लेबाजी रही है। विराट कोहली ने एक दशक से अधिक समय में अपने सबसे खराब आईपीएल सीजन का सामना किया है, जबकि कप्तान फाफ डु प्लेसिस काफी हद तक असंगत रहे हैं और पावरप्ले में सिर्फ 105 रन बनाकर धीमी शुरुआत की है। लेकिन अपने आखिरी लीग मैच में दोनों बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया और आरसीबी को जीत दिलाई। विशेष रूप से, विराट अपनी फॉर्म को पाने में कामयाब रहे।

डु प्लेसिस और विराट के अलावा, ग्लेन मैक्सवेल में भी अकेले दम पर अपनी टीम को मैच जिताने की क्षमता रखते हैं। इसलिए उनके आक्रमण करने से आरसीबी को फायदा होगा। रजत पाटीदार, शाहबाज अहमद और महिपाल लमरोर जैसे खिलाड़ी भी बल्ले से अच्छा काम कर रहे हैं।

निचले क्रम में दिनेश कार्तिक ने पावर हिटर की शानदार भूमिका निभाई है। उन्होंने पूरे सीजन में 287 रन बनाए हैं, उनमें से 213 रन डेथ ओवरों में प्रति 100 गेंदों पर 215 रन की दर से लगभग हर तीसरी गेंद पर एक चौके के साथ आए हैं।


आरसीबी इस साल टूर्नामेंट का सबसे स्थिर टीम रही है, जिसने प्लेइंग इलेवन में सबसे कम बदलाव किए हैं। इसलिए, यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या वे सिद्धार्थ कौल के स्थान पर मोहम्मद सिराज को वापस लाएंगे क्योंकि कोलकाता और अहमदाबाद की पिचों पर सिराज असरदार साबित होंगे।

दूसरी ओर, सुपर जायंट्स इस सीजन में सबसे संतुलित टीम रही है, जिसमें गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों विभागों ने शानदार प्रदर्शन किया है। केएल राहुल (537 रन) और क्विंटन डी कॉक (502) की एलएसजी ओपनिंग जोड़ी सीजन की सबसे सफल ओपनिंग जोड़ी है। व्यक्तिगत रूप से वे रन चार्ट में दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं।

हालांकि, जब राहुल और डी कॉक दोनों एक साथ विफल हुए तो यह अनिवार्य रूप से सुपर जायंट्स की हार हुई है। दोनों सलामी बल्लेबाजों ने इस सीजन में एलएसजी द्वारा बनाए गए सभी रनों का लगभग 47 प्रतिशत रन बनाए और इसमें दीपक हुड्डा के रनों को जोड़ें जाए तो यह 65 प्रतिशत तक हो जाती है।

हुड्डा की (406 रन) की सफलता के बावजूद उन्हें रॉयल्स के खिलाफ रन चेज में निचले क्रम में भेजा गया था, जो सुपर जायंट्स के मध्य क्रम की परेशानियों को दर्शाता है। मध्य क्रम के चार बल्लेबाजों जैसे मार्कस स्टोइनिस, क्रुणाल पांड्या, आयुष बडोनी और जेसन होल्डर उतरने प्रभावशाली नहीं रहे हैं, क्योंकि बडोनी द्वारा गुजरात के खिलाफ पहले मैच में सिर्फ एक बार 50 का आंकड़ा छुआ है। तब से, युवा खिलाड़ी ने 20 का आंकड़ा भी पार नहीं किया है।

होल्डर फिनिशिंग टच देने में नाकाम रहे हैं, जबकि उनके मध्यक्रम के एकमात्र बाएं हाथ के खिलाड़ी क्रुणाल इस सीजन के बीच के ओवरों में सबसे धीमे रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। कुछ कैमियो को छोड़कर, स्टोइनिस अभियान में अब तक अपनी छाप छोड़ने में नाकाम रहे हैं।

हालांकि, आवेश खान, मोहसिन खान, जेसन होल्डर और दुशमंत चमीरा के विविध चार मुख्य तेज गेंदबाजों ने किसी भी विपक्षी बल्लेबाजी लाइनअप के लिए एक बड़ी चुनौती पेश की है। कुल मिलाकर यह दो मजबूत टीमों के बीच एक शानदार मुकाबला देखने को मिलेगा।


टीमें इस प्रकार हैं-

लखनऊ सुपर जायंट्स टीम : केएल राहुल (कप्तान और विकेटकीपर), क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), मनीष पांडे, दीपक हुड्डा, क्रुणाल पांड्या, एविन लुईस, मार्कस स्टोइनिस, जेसन होल्डर, एंड्रयू टाय, काइल मेयर्स, आवेश खान, दुष्मंथा चमीरा, रवि बिश्नोई, आयुष बडोनी, मनन वोहरा, कृष्णप्पा गौतम, शाहबाज नदीम, अंकित राजपूत, मयंक यादव, मोहसिन खान और करण शर्मा।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम: फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), विराट कोहली, ग्लेन मैक्सवेल, हर्षल पटेल, वानिन्दु हसरंगा, मोहम्मद सिराज, शाहबाज अहमद, शेरफेन रदरफोर्ड, डेविड विली, फिन एलन (विकेटकीपर), अनुज रावत (विकेटकीपर), जोश हेजलवुड, जेसन बेहरेनडॉर्फ, सिद्धार्थ कौल, कर्ण शर्मा, आकाश दीप, महिपाल लमरोर, चामा वी मिलिंद, रजत पाटीदार, अनीश्वर गौतम और सुयश प्रभुदेसाई।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia