खेल की खबरें: मैक्सवेल ने अपने रन आउट के बाद कोहली को कही ये बड़ी बात और रैना ने बांधे ऋषभ पंत के तारीफों के पुल

RCB के दिग्गज बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल ने विराट कोहली के साथ तालमेल की कमी के कारण रन आउट के बाद बड़ी प्रतिक्रिया दी है और सुरेश रैना ने कहा कि ऋषभ पंत ने आईपीएल 2022 में दिल्ली के कप्तान के रूप में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

मैक्सवेल ने अपने रन आउट के बाद विराट कोहली को कही बड़ी बात

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के दिग्गज बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) ने विराट कोहली (Virat Kohli) के साथ तालमेल की कमी के कारण रन आउट के बाद बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा कि वो कोहली के साथ बल्लेबाजी नहीं कर सकते हैं क्योंकि वो मैदान में काफी तेज भागते हैं। दरअसल ग्लेन मैक्सवेल चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मुकाबले में एक रन पूरा करने के चक्कर में रन आउट हो गए। विराट कोहली ने ऑफ साइड में खेलकर तेजी से एक रन चुराना चाहा। हालांकि उनके और मैक्सवेल के बीच तालमेल की कमी दिखी और इसका खामियाजा मैक्सवेल को ही भुगतना पड़ा। जब तक वो स्ट्राइकर छोर पर पहुंचते अंबाती रायडू के थ्रो पर एम एस धोनी ने स्टंप बिखेर दिए और मैक्सवेल को सिर्फ 3 रन बनाकर पवेलियन जाना पड़ा।

बीमारी के कारण मैड्रिड ओपन से बाहर हुए मरे

ब्रिटेन के एंडी मरे ने दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविच के खिलाफ मैच से पहले मैड्रिड ओपन से अपना नाम वापस ले लिया है। इस बारे में टूर्नामेंट के आयोजकों ने गुरुवार को एक बयान में जानकारी दी है। मरे ने कनाडा के डेनिस शापोवालोव को 6-1, 3-6, 6-2 से हराकर एटीपी 1000 टूर्नामेंट मैड्रिड ओपन के तीसरे दौर में जगह बनाई थी। यह पहली बार है, जब तीन ग्रैंड स्लैम के विजेता 34 वर्षीय मरे ने सिडनी में जनवरी से लगातार मैच जीते हैं। दो पूर्व टॉप 10 खिलाड़ियों, ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम और दूसरे दौर में शापोवालोव के खिलाफ अच्छी जीत के बाद मरे सर्बिया के दुनिया के नंबर 1 जोकोविच के खिलाफ कोर्ट पर उतरने वाले थे, लेकिन आयोजकों ने उनके खेलने में असमर्थता की सूचना दी। टूर्नामेंट के आयोजकों ने सोशल मीडिया पर एक बयान में कहा, दुर्भाग्य से, एंडी मरे बीमारी के कारण मनोलो सैन्टाना स्टेडियम में खेलने में असमर्थ हैं। इसके बजाय, एंड्री रुबलेव और डैनियल इवांस सेंटर कोर्ट पर दिन के मैच की शुरुआत करेंगे। जोकोविच क्वार्टर फाइनल में वॉकओवर जीत के साथ आगे बढ़ेंगे, जहां उनका सामना पोलैंड के ह्यूबर्ट हर्काज और दुसान लाजोविक के विजेता से होगा।

स्टोक्स को इंग्लैंड का टेस्ट कप्तान बनाने का फैसला एक दम सही : क्रिस गेल

वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज क्रिस गेल को लगता है कि इंग्लैंड ने हरफनमौला बेन स्टोक्स को टेस्ट कप्तान बनाने के लिए एकदम सही कदम उठाया है। साथ ही गेल ने उम्मीद जताई है कि स्टोक्स को टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड को पटरी पर लाने के लिए पूर्व कप्तान जो रूट और अन्य खिलाड़ियों से जरूरी सहयोग मिलेगा। रूट के कोच से हटने के बाद 28 अप्रैल को स्टोक्स को इंग्लैंड का 81वां टेस्ट कप्तान बनाया गया था। इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान के रूप में उनका पहला कार्य जून में मौजूदा विश्व टेस्ट चैंपियनशिप विजेता न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की घरेलू टेस्ट श्रृंखला होगी। उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि बेन स्टोक्स जैसे खिलाड़ी को इंग्लैंड का कप्तान बनाना सही है। वह विश्व स्तर के खिलाड़ियों के आसपास रहे हैं और एक बेहतरीन ऑलराउंडर हैं। मुझे लगता है कि वह इंग्लैंड की ओर से कप्तानी करने के लिए सबसे अच्छे खिलाड़ी हैं। जो रूट के लिए पद छोड़ना मुश्किल था, लेकिन मुझे यकीन है कि उन्हें रूट और बाकी खिलाड़ियों का पूरा समर्थन मिलेगा।" गेल ने टॉकस्पोर्ट रेडियो से कहा, "वह एक बेहतरीन खिलाड़ी और उन्होंने जो कहा कि अभी इंग्लैंड क्रिकेट पर अधिक ध्यान केंद्रित कर रहा हूं, जो अच्छी बात है। वह टीम के लिए अच्छा करना चाहते हैं। 2007 से 2010 तक 20 टेस्ट में वेस्टइंडीज की कप्तानी करने वाले गेल को लगता है कि कप्तानी ने उन्हें एक खिलाड़ी के रूप में विकसित होने में मदद की।

टेस्ट क्रिकेट के भविष्य के बारे में बात करते हुए 103 टेस्ट में 42.18 की औसत से 7214 रन बनाने वाले गेल ने खेल के सबसे लंबे प्रारूप के भविष्य को लेकर चिंता व्यक्त की और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से समर्थन प्रदान करने का आग्रह किया। निचले क्रम के देशों को लगातार टेस्ट मैच खेलने के लिए आग्रह किया। उन्होंने कहा, "टेस्ट क्रिकेट का भविष्य चिंताजनक है। मैं निचली रैंकिंग वाली टीमों के लिए अधिक चिंतित हूं। उन्हें टेस्ट मैच खेलने का पूरा समर्थन नहीं मिल रहा है।" उन्होंने कहा, "इंग्लैंड, भारत और ऑस्ट्रेलिया यह बड़ी टीमें हैं जो एक-दूसरे के खिलाफ चार या पांच टेस्ट मैच खेलती हैं, हमें निचली रैंकिंग वाली टीमों के साथ वह मौका नहीं मिलता है। यह हमारे लिए एक चिंता है। यह एक बड़ी चुनौती होगी और आईसीसी को इस पर गौर करने की जरूरत है।" 463 मैचों में 14562 रनों के साथ टी20 प्रारूप खेलने वाले महानतम क्रिकेटरों में से एक के रूप में माने जाने वाले गेल ने स्वीकार किया कि उन्होंने नहीं सोचा था कि खेल का सबसे छोटा प्रारूप बहुत कम समय में लोकप्रियता हासिल करेगा।

दिल्ली कप्तान के रूप में अच्छा कर रहे हैं पंत : सुरेश रैना

भारत के पूर्व क्रिकेटर और चेन्नई सुपर किंग्स के दिग्गज सुरेश रैना ने कहा कि ऋषभ पंत ने आईपीएल 2022 में दिल्ली के कप्तान के रूप में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन किसी को उनके रन ना बनाने से चिंतित नहीं होना चाहिए, क्योंकि वह अपने फॉर्म पाने से बस एक कदम दूर हैं। आईपीएल 2022 के नौ मैचों में पंत ने 33.43 की औसत और 149.04 के अच्छे स्ट्राइक-रेट से 234 रन बनाए हैं, जिसमें उनके नाम कोई अर्धशतक या शतक नहीं है। उनकी कप्तानी में दिल्ली चार जीत से आठ अंक के साथ अंक तालिका में सातवें स्थान पर है। गुरुवार को ब्रेबोर्न स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ दिल्ली का मैच उन्हें अंक तालिका में ऊपर जाने और प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए अपनी स्थिति को मजबूत करने का मौका देगा।

रैना ने कहा, "पंत कप्तान के रूप में अच्छा काम कर रहे हैं। उन्होंने कुलदीप यादव का बहुत अच्छा उपयोग किया है और अब वह दिल्ली के लिए मैच जीत रहे हैं। लेकिन पंत बल्ले से धमाल करने में असफल रहे हैं। वह एक बड़े खिलाड़ी हैं और कोच रिकी पोंटिंग के साथ हैं। वह अपने फॉर्म से एक कदम दूर हैं। साथ ही, उनका मानना है कि दिल्ली कैपिटल एक अच्छी टीम की तरह नहीं खेल रही है। टीम के अन्य खिलाड़ियों को भी जिम्मेदारी लेनी होगी और योगदान देना होगा।" रैना के विचारों से भारत के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने सहमति जताते हुए कहा है कि पंत को यह तय करना होगा कि आने वाले मैचों में बल्ले के साथ उनका दृष्टिकोण कैसा होना चाहिए। उन्होंने कहा, "ऋषभ पंत को यह तय करना होगा कि वह पूरे 20 ओवर खेलना चाहते हैं या वह एक विस्फोटक बल्लेबाज की भूमिका निभाना चाहते हैं। कप्तान पंत को टीम के हित में फैसला करना होगा। पंत में अकेले मैच जीताने की क्षमता है, लेकिन एक बल्लेबाज के रूप में उनका प्रदर्शन इस साल अच्छा नहीं रहा है। इसलिए, मुझे लगता है कि एक कप्तान के रूप में और एक बल्लेबाज के रूप में भी सफल होने का दबाव होगा।"

ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के खराब फॉर्म से चिंतित नहीं कोच फ्लेमिंग

चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग आईपीएल 2022 में ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के खराब फॉर्म से चिंतित नहीं हैं। एमसीए स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ बुधवार के मैच में जडेजा रन बनाने में नाकाम रहे, हर्षल पटेल की गेंद पर सिर्फ तीन रन बनाकर आउट हो गए, जिससे चेन्नई को 13 रन से मैच गंवाना पड़ा। फ्लेमिंग ने कहा, "मैं जडेजा के फॉर्म से चिंतित नहीं हूं, क्योंकि टी20 एक कठिन मैच होता है और इसलिए जब आप पांच या छह नंबर पर बल्लेबाजी कर रहे होते हैं, तो आपको गति या लय में आने का समय नहीं मिलता है।"

फ्लेमिंग ने 174 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई के विकेट गिरने पर अफसोस जताया और कहा कि नियमित अंतराल पर विकेट गंवाने से भी उन्हें मैच नुकसान उठाना पड़ा। यह चेन्नई के लिए खराब सीजन रहा है, जिसने दस मैचों में से सिर्फ तीन में जीत हासिल की हैं और लगभग प्लेऑफ से बाहर हो गए हैं। फ्लेमिंग ने कहा, "मुझे लगता है कि हम सभी विभागों में अच्छा काम करने में विफल रहे हैं। इस प्रतियोगिता में हमने कई मौके गंवाए है, जो चिंता का विषय है। वहीं, हम कई मैचों में जीत के करीब पहुंचे हैं और लेकिन हम बेहतर करने में नाकाम रहे हैं। यही आईपीएल की कहानी रही है।" फ्लेमिंग ने कहा कि तेज गेंदबाज मुकेश चौधरी धीरे-धीरे अच्छा कर रहे हैं, लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि दीपक चाहर और एडम मिल्ने द्वारा तेज गेंदबाजी विभाग में अनुभव के जाने से चेन्नई को सीजन में आवश्यक संतुलन नहीं मिला है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia