खेल: माइकल क्लिंगर बने गुजरात जायंट्स के हेड कोच और न्यूजीलैंड के खिलाफ मॉरिस के खेलने पर सस्पेंस

न्यूजीलैंड के खिलाफ मॉरिस के खेलने पर सस्पेंस बना हुआ है और माइकल क्लिंगर गुजरात जायंट्स के नए मुख्य कोच बने है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

सबसे तेज 31 टेस्ट शतक जड़ने वाले दूसरे बल्लेबाज बने विलियमसन

केन विलियमसन ने मंगलवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट की दूसरी पारी में अपना 31वां टेस्ट शतक जड़ा। इस शतकीय पारी के साथ उन्होंने अपने नाम कई बड़े रिकॉर्ड भी किए। न्यूजीलैंड के केन विलियमसन ने टेस्ट क्रिकेट में 170 पारियों में 31वां शतक लगा दिया है, और बेन स्टोक्स को पीछे छोड़कर ऐसा करने वाले दूसरे सबसे तेज बल्लेबाज बन गए हैं। हालांकि, वो 165 पारियों में सबसे तेज 31 शतक तक पहुंचने वाले सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड से चूक गए। इसके अलावा, यह पहली बार था जब विलियमसन ने एक ही टेस्ट मैच में दो शतक जड़े।

दुनिया के नंबर 1 रैंक वाले टेस्ट बल्लेबाज ने अपने हालिया शानदार फॉर्म को जारी रखते हुए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट की पहली पारी में 118 और दूसरी पारी में 109 रन की पारी खेली। ग्लेन टर्नर (1974), ज्योफ हॉवर्थ (1978), एंड्रयू जोन्स (1991) और पीटर फुल्टन (2013) के बाद विलियमसन एक टेस्ट मैच में दो शतक लगाने वाले न्यूजीलैंड के पांचवें खिलाड़ी बन गए। 33 वर्षीय खिलाड़ी की 109 रन की पारी शानदार रही, जिसमें उन्होंने केवल 132 गेंदों पर 12 चौकों और एक छक्का जड़ा। उनकी यह पारी न्यूजीलैंड के लिए मददगार रही। न्यूजीलैंड तीसरे दिन के अंत तक मजबूत स्थिति में आ गई। दो दिन और 6 विकेट शेष रहते हुए कीवी टीम के पास 528 रनों की बढ़त है।

खेल: माइकल क्लिंगर बने गुजरात जायंट्स के हेड कोच और न्यूजीलैंड के खिलाफ मॉरिस के खेलने पर सस्पेंस

न्यूजीलैंड के खिलाफ मॉरिस के खेलने पर सस्पेंस

वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे वनडे में गेंदबाजी करते समय दाएं हाथ के ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज लांस मॉरिस को साइड स्ट्रेन का सामना करना पड़ा। इसके बाद उनके इस महीने के अंत में ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम के साथ न्यूजीलैंड का दौरा करने की उम्मीदों को करारा झटका लगा है। लांस मॉरिस ने एक मेडन ओवर के साथ 13 रन देकर 2 विकेट लिए और वेस्टइंडीज को 86 रन पर समेटने में मदद की, जो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे में उनका दूसरा सबसे कम स्कोर था।

लेकिन, तेज गेंदबाज ने मनुका ओवल में अपने पांचवें ओवर के दौरान खुद को चोटिल कर लिया जिससे ओवर की तीन गेंद शेष रहते हुए मैदान से बाहर जाना पड़ा। टीम अधिकारियों ने कुछ देर बाद चोट की पुष्टि की और तेज गेंदबाज को जांच के बाद डगआउट भेज दिया। क्रिकेट.कॉम.एयू के अनुसार, चोट की गंभीरता का पता लगाने के लिए मॉरिस को स्कैन के लिए भेजा जाएगा। पिछले शुक्रवार को पहले वनडे में अपने अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू के बाद यह दूसरी बार था जब मॉरिस ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। मॉरिस बुधवार को पश्चिम ऑस्ट्रेलिया लौटने पर अपनी पुनर्वास यात्रा शुरू करने के लिए तैयार हैं। 29 फरवरी से वेलिंगटन में शुरू होने वाले न्यूजीलैंड के आगामी दो टेस्ट दौरे के लिए चयन के लिए पात्र होने के लिए उन्हें समय पर अपनी फिटनेस साबित करने की कड़ी समय सीमा का सामना करना पड़ सकता है। ऑस्ट्रेलियाई खेमे में पिछले तीन दिनों में यह चोट का दूसरा झटका था। इससे पहले मैट शॉर्ट को हैमस्ट्रिंग चोट के कारण तीसरे वनडे से बाहर कर दिया गया था।

खेल: माइकल क्लिंगर बने गुजरात जायंट्स के हेड कोच और न्यूजीलैंड के खिलाफ मॉरिस के खेलने पर सस्पेंस
Hp

गुजरात जायंट्स के नए मुख्य कोच बने माइकल क्लिंगर

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर माइकल क्लिंगर को महिला प्रीमियर लीग (डब्ल्यूपीएल) के सीजन 2 से पहले अदाणी स्पोर्ट्सलाइन के स्वामित्व वाली गुजरात जायंट्स के लिए मुख्य कोच नियुक्त किया गया है। डब्ल्यूपीएल का दूसरा सीजन बेंगलुरु और नई दिल्ली में खेला जाएगा। टूर्नामेंट का आगाज 23 फरवरी से एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में होग। माइकल क्लिंगर टीम में पूर्व भारतीय कप्तान मिताली राज (मेंटॉर) और नूशिन अल खादीर (गेंदबाजी कोच) के साथ जुड़कर गुजरात जायंट्स को और बेहतर प्रदर्शन करने के लिए तैयार करेंगे। 43 वर्षीय ने इससे पहले सिडनी थंडर के लिए सहायक कोच के रूप में कार्य किया। इस दौरान उनकी टीम महिला बिग बैश लीग (डब्ल्यूबीबीएल) में चौथे स्थान पर रही थी।

साथ ही उन्होंने 2019 से 2021 तक मेलबर्न रेनेगेड्स मेन्स टीम के मुख्य कोच और फोएबे लिचफील्ड के साथ भी काम किया। पुरुष बीबीएल में क्लिंगर एक बड़ा नाम रहे हैं। वह 2019 में रिटायर हुए और लीग के अब तक के सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी के रूप जाने जाते हैं। खेल के विभिन्न पहलुओं में उनका अनुभव गुजरात जायंट्स टीम के लिए फायदेमंद साबित होगा। मुख्य कोच के रूप में अपनी नियुक्ति के बारे में क्लिंगर ने कहा, "गुजरात जाइंट्स के पास महिला प्रीमियर लीग के सीज़न 2 में कुछ खास करने का मौका है। मैं मिताली राज जैसी क्रिकेट की दिग्गज खिलाड़ी के साथ काम करने के लिए उत्सुक हूं।" क्लिंगर की नियुक्ति की मिताली ने भी सराहना की। उन्होंने कहा, "माइकल के साथ काम करने से गुजरात जाइंट्स के खिलाड़ियों को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने में मदद मिलेगी। बल्ले के साथ उनकी विशेषज्ञता भी खास है और निश्चित रूप से कुछ युवाओं को फायदा होगा।" अदाणी स्पोर्ट्सलाइन के सीबीओ, संजय अडेसरा ने कहा: "माइकल क्लिंगर गुजरात जायंट्स और अदाणी स्पोर्ट्सलाइन परिवार के लिए एक बहुत ही योग्य सदस्य हैं। उन्होंने बीबीएल में कोच और खिलाड़ी दोनों के रूप में शानदार प्रदर्शन किया है। इससे निश्चित रूप से हमारी टीम को भविष्य में मदद मिलेगी।" गुजरात जायंट्स 25 फरवरी को अभियान के अपने पहले मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैदान में उतरेंगे।

खेल: माइकल क्लिंगर बने गुजरात जायंट्स के हेड कोच और न्यूजीलैंड के खिलाफ मॉरिस के खेलने पर सस्पेंस
Hp

होबार्ट हरिकेंस के साथ जुड़े रहेंगे निखिल चौधरी

बिग बैश लीग (बीबीएल) क्लब होबार्ट हरिकेंस ने निखिल चौधरी के साथ 2026 तक अनुबंध बढ़ाने की घोषणा की है। बिग-हिट बल्लेबाज और लेग-स्पिन गेंदबाज ने ऑप्टस स्टेडियम में पर्थ स्कॉर्चर्स के खिलाफ हरिकेन्स के लिए बीबीएल में डेब्यू किया। उन्होंने 31 गेंदों पर 40 रन की पारी खेली। निखिल चौधरी ने कहा, "मैं होबार्ट हरिकेंस के साथ फिर से अनुबंध करने के लिए बहुत उत्साहित हूं। मैं बहुत खुश हूं कि मुझे हरिकेंस के साथ फिर से जुड़ने का मौका मिल रहा है।"

निखिल चौधरी का बीबीएल 13 का हाईएस्ट स्कोर ब्रिस्बेन हीट के खिलाफ 55 था, जिसमें सीजन के दो सबसे बड़े गगनचुंबी छक्के शामिल थे। उन्होंने सिडनी थंडर के खिलाफ 2/26 का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। वह टीम के एक महत्वपूर्ण सदस्य साबित हुए और उन्होंने अंतिम क्रम में कुछ पावर हिटिंग प्रदान की, जिसमें गेंद के साथ महत्वपूर्ण ओवर भी शामिल थे।

पंजाब में जन्मे निखिल चौधरी 2020 में भारत से ऑस्ट्रेलिया चले गए, जहां उन्हें केएफसी क्वींसलैंड टी20 मैक्स प्रतियोगिता में होबार्ट हरिकेंस के सहायक कोच, जेम्स होप्स द्वारा प्रशिक्षित किया गया।

होप्स ने हरिकेंस कोचिंग स्टाफ को चौधरी की प्रतिभा के बारे में बताया जिसके बाद उन्हें घरेलू खिलाड़ी के रूप में हरिकेंस द्वारा अनुबंधित किया गया।

हरीकेन के मुख्य कोच, जेफ वॉन चौधरी के कौशल से प्रभावित थे और उनकी मानसिकता को पसंद करते हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

रणजी में वापसी करने को तैयार हैं मयंक अग्रवाल

 मयंक अग्रवाल को फिट घोषित कर दिया गया है और वह हेल्थ इमरजेंसी से उबरने के बाद तमिलनाडु के खिलाफ रणजी ट्रॉफी मैच के छठे दौर में कर्नाटक का नेतृत्व करने के लिए वापसी को तैयार हैं। अगरतला से सूरत की उड़ान के दौरान मंयक अग्रवाल ने फ्लाइट में गलती से एक थैली से पानी समझकर एक अनजान पदार्थ पी लिया था।

ऐसे में उन्हें गले और मुंह में तकलीफ महसूस होने लगी और उल्टी भी हुई। मयंक को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्हें मेडिकल हेल्प दी गई।

शुरुआत में मयंक पेट में तकलीफ और सूजन के कारण 48 घंटों तक बोल नहीं सके। बाद में उनकी हालत ठीक थी और मेडिकल रिपोर्ट्स से पता चला कि उन्हें कोई स्वास्थ्य संबंधी परेशानी नहीं है।

मयंक अब पूरी तरह से ठीक हैं और वे मैदान पर वापसी के लिए बेताब हैं। देवदत्त पडिक्कल के साथ अग्रवाल की वापसी से कर्नाटक लाइनअप मजबूत होगा।

9 फरवरी से चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में शुरू होने वाले रणजी ट्रॉफी के छठे दौर में कर्नाटक का मुकाबला तमिलनाडु से होगा।

कर्नाटक टीम : मयंक अग्रवाल (कप्तान), देवदत्त पडिक्कल, आर समर्थ, निकिन जोस, मनीष पांडे, शरथ श्रीनिवास (विकेटकीपर), अनीश केवी, विशाक विजय कुमार, वी कौशिक, के शशिकुमार, सुजय सातेरी (विकेटकीपर), एम वेंकटेश, विदवथ कावेरप्पा, किशन बेदारे, रोहित कुमार, हार्दिक राज।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;