खेल की 5 बड़ खबरें: धोनी ने इस फैसले ने फिर जीता सबका दिल! और बायो-बबल के उल्लंधन पर गांगुली के पास जवाब नहीं

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी टीम के साथी खिलाड़ियों के अपने-अपने घर लौटने के बाद ही घर रवाना होंगे और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा है कि यह कहना मुश्किल है कि आईपीएल-14 के दौरान बायो बबल का कोई उल्लंघन हुआ है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

आईएएनएस

टीम के खिलाड़ियों के घर पहुंचने के बाद ही घर जाएंगे धोनी : रिपोर्ट

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी टीम के साथी खिलाड़ियों के अपने-अपने घर लौटने के बाद ही घर रवाना होंगे। आईपीएल की कुछ टीमों में कोरोना के मामले सामने आने के बाद इस सीजन को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया था। समाचार पत्र इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, धोनी ने कहा कि वह टीम में शामिल विदेशी खिलाड़ियों के स्वदेश लौटने तथा अन्य भारतीय खिलाड़ियों के घर पहुंचने के बाद यहां से रवाना होंगे। धोनी ने वर्चुअल बैठक में कहा कि विदेशी खिलाड़ियों और सहायक स्टाफ को घर जाने के लिए प्राथमिकता मिलनी चाहिए क्योंकि टूर्नामेंट का आयोजन भारत में हो रहा था। आईपीएल के आयोजक टूर्नामेंट स्थगित होने के बाद यह सुनिष्चित कर रहे हैं कि खिलाड़ी और सहायक स्टाफ सुरक्षित तरीके से अपने घर पहुंच जाएं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

गांगुली बोले- IPL में बायो-बबल का कैसे उल्लंघन हुआ, कहना मुश्किल

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा है कि यह कहना मुश्किल है कि आईपीएल-14 के दौरान बायो बबल का कोई उल्लंघन हुआ है। उन्होंने कहा कि बोर्ड को जो रिपोर्ट मिली है, उसमें कहीं भी ऐसा प्रतीत नहीं होता है कि बायो बबल का उल्लंघन हुआ है। अहमदाबाद और नई दिल्ली में बायो बबल के अंदर कोरोना के कई मामले सामने आने के बाद आईपीएल 2021 को स्थगित कर दिया गया है। गांगुली ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा, " हमें जो रिपोर्ट मिली है, उसके मुताबिक बायो बबल का कोई उल्लंघन नहीं हुआ है। यह कैसे हुआ अभी यह कहना बहुत मुश्किल है। देश में कैसे इतने लोग संक्रमित हो रहे हैं, यह कहना भी बहुत मुश्किल है।" गांगुली ने कहा कि अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि आईपीएल के बाकी बचे मैचों के लिए कोई विंडो उपलब्ध है। उन्होंने कहा, " आईपीएल को यूएई में कराने पर चर्चा की गई थी, लेकिन फरवरी में भारत में कोरोना काफी कम हो गया था। पिछले तीन हफ्तों में कोरोना के मामलों में उछाल आया है, इससे पहले ऐसा कुछ भी नहीं था।"

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

हसी को छोड़कर ऑस्ट्रेलिया के अन्य सदस्य मालदीव भेजे गए

आईपीएल 2021 के लिए भारत आए ऑस्ट्रेलिया टीम के खिलाड़ी, कोच, मैच अधिकारी और कमेंटेटर्स टूर्नामेंट स्थगित होने के बाद भारत से मालदीव भेजे गए हैं। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) और ऑस्ट्रेलिया क्रिकेटर संघ (एसीए) ने गुरूवार को संयुक्त बयान जारी कर इसकी जानकारी दी। ऑस्ट्रेलिया सरकार ने भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए यहां से आने वाले यात्रियों पर 15 मई तक प्रतिबंध लगाया हुआ है। हालांकि सरकार के इस फैसले की आलोचना भी हुई है। इस बीच, चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाजी कोच माइक हसी पॉजिटिव होने के कारण फिलहाल भारत में ही रहेंगे। सीए और एसीए ने बयान जारी कर कहा, "हसी को कुछ लक्ष्ण हैं और वह आईपीएल फ्रेंचाइजी की निगरानी में रहेंगे। सीए और एसीए हसी के सुरक्षित वापसी को लेकर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के साथ संपर्क में रहेगी।" ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी तब तक मालदीव में रहेंगे जब तक भारत से ऑस्ट्रेलिया के लिए यात्रा प्रतिबंधों में ढील नहीं दी जाती है। सीए और एसीए ने कहा, "हमने पहले बताया था कि हम ऑस्ट्रेलिया सरकार से प्रतिबंधों में छूट नहीं मांग रहे हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

पूर्व आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने अपने ही पीएम पर साधा निशाना

पूर्व आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर और अब कमेंटेटर माइकल स्लेटर ने भारत में फंसे आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के प्रति असंवेदनशील होने को लेकर एक बार फिर से अपने ही प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि भारत में हालात कितने खराब हो चुके हैं, यह देखने के लिए पीएम को अपने प्राइवेट जेट से यहां आकर सड़कों पर पड़े शवों को देखना चाहिए। आईपीएल के 14 वें सीजन में कमेंट्री करने वाले स्लेटर, भारत में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच मालदीव भाग गए हैं। पूर्व सलामी बल्लेबाज मालदीव जाने से एक सप्ताह पहले ही स्लेटर घर जाने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन अब उन्हें आस्ट्रेलिया जाने के लिए इंतजार करना होगा। स्लेटर ने टिवटर पर लिखा, " यह गजब है कि प्रधानमंत्री ने मानवीय त्रासदी के मसले को नजदर अंदाज कर दिया। भारत में रहने वाले ऑस्ट्रेलियाई लोगों का डर असल है। कैसा रहेगा जब आप अपने प्राइवेट जेट लाएं और देखें कि सड़कों पर शव पड़े हुए हैं।"

फोटो: IANS
फोटो: IANS

भारतीय महिला निशानेबाज अपूर्वी कोरोना पॉजिटिव

भारत की अग्रणी महिला निशानेबाज अपूर्वी चंदेला कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। अपूर्वी उन निशानेबाजों में शामिल हैं, जिन्हें टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों के लिए अगले तीन महीने तक क्रोएशिया का दौरा करना है, जहां जगरेब में वे अपनी ट्रेनिंग करेंगी। अपूर्वी टोक्यो ओलंपिक में महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी। द टाइम्स आफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, तीन महीने के लंबे कैंप को लेकर पहले ही कई कोच और निशानेबाज भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) के फैसले के खिलाफ आवाज उठा चुके हैं सूत्रों ने कहा, " पूरा देश महामारी से जूझ रहा है और निशानेबाजों और कोचों के परिवार भी इससे अलग नहीं हैं। अगर किसी निशानेबाज के परिवार का कोई सदस्य बीमार हो जाए तो क्या होगा? वे अपने परिवार की मदद करने के लिए वापस कैसे आ सकते हैं? वे क्रोएशिया में शांति से कैसे प्रशिक्षण लेंगे?" हालांकि एनआरएआई के शीर्ष अधिकारी का कहना है कि यह कैंप तय कार्यक्रम के अनुसार ही होगा। इस बीच तीन राष्ट्रीय कोच-जसपाल राणा, रौनक पंडित और समरेश जंग ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए टीम में शामिल होने में असमर्थता जताई है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia