नीरज चोपड़ा ने कहा- मेरी बात को अपने गंदे एजेंडे का मुद्दा न बनाएं, पाकिस्तानी खिलाड़ी का किया बचाव

ओलिंपिक में गोल्ड में दिलाने वाले नीरज चोपड़ा ने कहा पाकिस्तानी एथलीट अरशद नदीम से अपनी जैवलिन ली। इसका बहुत बड़ा मुद्दा बना दिया गया है। यह बहुत साधारण सी बात है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

ओलिंपिक में गोल्ड में दिलाने वाले नीरज चोपड़ा ने पाकिस्तानी साथी को लेकर दिए गए एक बयान को गलत तरीके से पेश करने पर नाराजगी जताई है। उन्होंने एक वीडियो ट्वीट करके कहा कि मेरी आप सभी से विनती है की मेरे कमेंट को अपने गंदे एजेंडा को आगे बढ़ाने का माध्यम न बनाए। स्पोर्ट्स हम सबको एकजूट होकर साथ रहना सिखाता हैं और कमेंट करने से पहले खेल के रूल्स जानना जरूरी होता है।

उन्होंने आगे कहा कि सोशल मीडिया पर चल रहा है कि मैंने एक इंटरव्यू में पाकिस्तानी एथलीट अरशद नदीम से अपनी जैवलिन ली। इसका बहुत बड़ा मुद्दा बना दिया गया है। यह बहुत साधारण सी बात है। हम सब थ्रोअर अपना पर्सनल जैवलिन वहां रखते हैं लेकिन सभी उसका इस्तेमाल कर सकते हैं। यही नियम है।

टोक्यो ओलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा ने बुधवार को एक इंटरव्यू दिया था और कहा था कि फाइनल में उनके पहले थ्रो से पहले पाकिस्तान के ऐथलीट अरशद नदीम उनका जैवलिन लेकर घूम रहे थे। तब मैंने उनसे कहा, भाई यह भाला मुझे दे दो क्योंकि यह मेरा जेवलिन है, मुझे इसी के साथ थ्रो करना है, तब अरशद ने मुझे मेरा भाला वापस किया। नीरज ने कहा था कि इस वजह से उन्होंने अपना पहला थ्रो थोड़ा जल्दबाजी में फेंकना पड़ा था।

नीरज चोपड़ा ने आगे कहा, अरशद नदीम ने क्वालीफाइंग दौर के अलावा वास्तव में फाइनल में भी अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे लगता है कि यह पाकिस्तान के लिए अच्छा संकेत है, वे जेवलिन थ्रो में और अधिक रुचि दिखाएं और भविष्य में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतर प्रदर्शन करें।


नीरज ने आगे कहा अरशद नदीम अपने थ्रो के लिए तैयारी कर रहा था और इसमें भी गलत नहीं है। नीरज ने कहा, 'यह कोई बहुत बड़ी बात नहीं है। मुझे दुख है कि मेरा सहारा लेकर इसे बेकार में इतना बड़ा मुद्दा बनाया जा रहा है।'

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia