नीरज चोपड़ा ने रचा इतिहास, वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड जीतने वाले बने पहले भारतीय

ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा ने वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में इतिहास रच दिया है। चैंपियनशिप का गोल्ड मेडल अपने नाम किया। हालांकि नीरज ने अपने पहले थ्रो में फाउल किया था, लेकिन दूसरे ही थ्रो में 88.17 मीटर दूर भाला फेंककर गोल्ड अपने नाम कर लिया।

Getty Images
Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

हंगरी के बुदापेस्ट में वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप के जेवलिन थ्रो इवेंट के मेन्स फाइनल में नीरज चोपड़ा ने दूसरे ही प्रयास में सुनिश्चित कर दिया था कि गोल्ड उनकी ही झोली में गिरे। उन्होंने अपने दूसरे अटेम्प्ट में 88.17 मीटर तक भाला फेंका। हालांकि पहले प्रयास में उनसे गलती हो गई थी। लेकिन दूसरे अटेम्प्ट में उन्होंने बाजी को एक तरह से अपने नाम कर लिया। हालांकि इसके बाद के किसी भी थ्रो में वह इस दूरी को नहीं छू पाए। इस तरह नीरज चोपड़ा पहले भारतीय एथलीट बन गए जिसने वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता हो।

इस चैम्पियनशिप में पाकिस्तान के अरशद नदीम दूसरे नंबर पर रहे। उनका बेस्ट थ्रो 87.82 रहा, जो उन्होंने तीसरे थ्रो में हासिल किया था। इस तरह अरशद नदीम ने भी एक तरह का इतिहास रच दिया। वे इस प्रतियोगिता में पाकिस्तान के लिए कोई भी मेडल जीतने वाले पहले खिलाड़ी बने।

Getty Images
Getty Images

वर्ल्ड एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के ट्रेक एंड फील्ड कैटेगरी में भारत के लिए यह पहला गोल्ड मेडल है। नीरज चोपड़ा इस कैटेगरी में गोल्ड जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। पिछले साल यानी 2022 की चैपियनशिप में नीरज चोपड़ा ने इसी चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीता था। इससे पहले 2003 में अंजू बॉबी जॉर्ज ने लॉन्ग जम्प में कांस्य पदक जीता था।

इसी चैंपियनशिप के क्वालीफाइंग राउंड के दौरान नीरज चोपड़ा अगले साल यानी 2024 में पेरिस में होने वाले ओलंपिक 2024 के लिए भी क्वालिफाई कर चुके हैं। पेरिस ओलंपिक 26 जुलाई से 11 अगस्त तक होगा। जैवलिन थ्रो के फाइनल में नीरज के अलावा भारत के डीपी मनु और किशोर जेना भी मेडल के लिए उतरे थे। किशोर पांचवें और मनु छठे नंबर पर रहे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */