भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच नागपुर में दूसरे T20 मैच पर बारिश का मंडराया खतरा, रुक-रुककर हो रही बारिश से फैंस चिंतित

दोनों टीमें बुधवार दोपहर आरेंज सिटी में उतरीं, लेकिन शाम के बाद रुक रुक कर बारिश होती रही। गुरुवार की सुबह जल्दी बारिश हुई थी और हालांकि बारिश लगभग 10 बजे थम गई है, शहर पर घने बादल छाए रहने का मतलब है कि हमेशा बारिश का खतरा बना रहेगा।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

भारत और आस्ट्रेलिया के बीच शुक्रवार को नागपुर के विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन ग्राउंड में होने वाले दूसरे टी20 मैच पर बारिश का खतरा मंडरा रहा है।

पिछले कुछ दिनों से नागपुर में लगातार बारिश हो रही है। विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन के बॉस इस स्थिति को लेकर नाखुश हैं, क्योंकि मैच के दिन भी बारिश की भविष्यवाणी की गई है। 45,000 की क्षमता वाले स्टेडियम में मैच के टिकट पहले ही बिक चुके हैं और मैच आगे नहीं बढ़ने की स्थिति में उन्हें खरीदारों को पैसा वापस करना होगा।

दोनों टीमें बुधवार दोपहर आरेंज सिटी में उतरीं, लेकिन शाम के बाद रुक रुक कर बारिश होती रही। गुरुवार की सुबह जल्दी बारिश हुई थी और हालांकि बारिश लगभग 10 बजे थम गई है, शहर पर घने बादल छाए रहने का मतलब है कि हमेशा बारिश का खतरा बना रहेगा।

सुबह की बारिश ने आस्ट्रेलिया और भारत दोनों को दोपहर और शाम को अपना निर्धारित अभ्यास सत्र रद्द करने के लिए मजबूर किया। टीम होटल के जिम सत्र में शामिल होने के बाद खिलाड़ी स्टेडियम की यात्रा नहीं कर सके।

ग्राउंड्समैन ने चेक करने के लिए दोपहर के आसपास कवर हटा दिए लेकिन बूंदा बांदी के खतरे के साथ, उन्हें जल्द ही वापस कवर करना पड़ा। अधिकारियों के अनुसार, वे सुपर सॉपर चला रहे हैं और यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि कोई जलजमाव न हो, इस उम्मीद में कि गुरुवार और शुक्रवार को और बारिश नहीं होगी।

नागपुर तीन साल में अपने पहले अंतरराष्ट्रीय मैच की मेजबानी कर रहा है और प्रशंसकों ने कुछ ही मिनटों में आनलाइन टिकट खरीद लिए। फिर भी शहर के वीसीए के ओआईडी स्टेडियम में टेलीफोन की घंटी बज रही है और लोग अभी भी पूछ रहे हैं कि क्या टिकट आफलाइन उपलब्ध हैं।

स्टेडियम शहर से 20 किमी से अधिक दूर है और वीसीए को अपने स्वयं के वाहन लेने वाले दर्शकों के लिए पाकिर्ंग स्थान प्रदान करने के संबंध में बहुत सारे मुद्दों का सामना करना पड़ रहा है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia