भारतीय महिला टीम से बोले डब्ल्यूवी रमन- टेस्ट की चिंता न करें, वनडे और टी20 पर ध्यान दें

भारत पूरी सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेगा, जिसमें एक टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी20 मैच शामिल होंगे। वाका ग्राउंड में टेस्ट 30 सितंबर से 3 अक्टूबर के बीच होगा और इससे पहले सीमित ओवरों की सीरीज होगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के पूर्व कोच डब्ल्यूवी रमन ने कहा है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सितंबर-अक्टूबर में होने वाले अपने पहले डे-नाइट टेस्ट से पहले अभ्यास मैच के अभाव में भारतीय टीम को गुलाबी गेंद से काफी अभ्यास करना चाहिए और सीमित ओवरों की सीरीज पर ध्यान देना चाहिए। भारत पूरी सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेगा, जिसमें एक टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी20 मैच शामिल होंगे। वाका ग्राउंड में टेस्ट 30 सितंबर से 3 अक्टूबर के बीच होगा और इससे पहले सीमित ओवरों की सीरीज होगी।

क्रिकइंफो ने रमन के हवाले से लिखा है, अभ्यास मैच खेलना अब थोड़ा अव्यावहारिक लगता है इसलिए, सबसे अच्छा विकल्प यह होगा कि आप जितना हो सके गुलाबी गेंद से खेलने की कोशिश करें और इसके साथ अभ्यास करें और देखें कि गेंदबाजों को क्या करने की जरूरत है। इसे अपनी आदत में शामिल करने की जरूरत है।"

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा, बल्लेबाजों के लिए भी ऐसा ही है। उन्हें यह सुनिश्चित करना होगा कि वे गुलाबी गेंद से जो भी आशंकाएं और चिंताएँ हैं, उन्हें दूर करें।

रमन ने कहा कि भारत को टेस्ट मैच हारने के बारे में ज्यादा चिंतित नहीं होना चाहिए क्योंकि अभ्यास की कमी के कारण उनकी इस गलती को माफ कर दिया जाएगा लेकिन सीमित ओवरों की सीरीज के साथ ऐसा नहीं होगा क्योंकि हाल के दिनों मे टीम ने कई मैच खेले हैं।

भारत अगले महीने इंग्लैंड में टेस्ट खेलेगा और इसके बाद ऑस्ट्रेलिया में डे-नाइट टेस्ट होगा। 2014 के बाद यह पहला मौका होगा, जब भारतीय टीम टेस्ट मैच खेलेगी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia