खेल की खबरें: द्रविड़ को आराम दिए जाने पर रवि शास्त्री ने उठाए सवाल और अफरीदी की बाबर आजम को T20 कप्तानी छोड़ने की सलाह

भारत के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने द्रविड़ को आराम देने के फैसले पर सवाल उठाए हैं और पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी का मानना है कि बाबर आजम को बल्लेबाजी में सुधार के लिए कम से कम टी20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ देनी चाहिए।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

राहुल द्रविड़ पर रवि शास्त्री ने उठाए सवाल

न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 और वनडे सीरीज के लिए बड़े नामों के साथ-साथ टीम के कोच राहुल द्रविड़ को भी आराम दिया गया है। भारत के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने द्रविड़ को आराम देने के फैसले पर सवाल उठाए हैं। रवि शास्त्री ने प्राइम वीडियो को दिए गए इंटरव्यू में कहा, ‘मैं ब्रेक्स पर भरोसा नहीं करता। मैं कोच रहते हुए अपनी टीम और खिलाड़ियों को समझना चाहता ताकि चीजें मेरे कंट्रोल से बाहर न हो। और सच कहूं तो आपको ब्रेक क्यों चाहिए। आपको आईपीएल के दौरान दो-तीन महीने का ब्रेक मिलता है। एक कोच के नाते इतना ब्रेक बहुत है। इसके अलावा बाकी समय कोच को हमेशा टीम के साथ रहना चाहिए चाहे वह जो भी हो।’

टी20 वर्ल्ड कप के बाद भारतीय टीम न्यूजीलैंड के दौरे पर है जहां वीवीएस लक्ष्मण टीम के कोच की जिम्मेदारी निभा रहे हैं। राहुल द्रविड़ को इससे पहले आयरलैंड और जिम्बाब्वे के दौरे पर भी आरान दिया गया था। तब भी लक्ष्मण ने ही यह जिम्मेदारी उठाई थी। हालांकि रवि शास्त्री का मानना है कि कोच को आराम की जरूरत नहीं है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

अफरीदी की बाबर आजम को सलाह, कहा- छोड़ दो टी20 की कप्तानी

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी का मानना है कि बाबर आजम को बल्लेबाजी में सुधार के लिए कम से कम टी20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ देनी चाहिए। बाबर आजम की कप्तानी में पाकिस्तान की टीम टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में तो पहुंची लेकिन उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से सभी को निराश किया। फाइनल में पाकिस्तान की हार का बड़ा कारण भी बाबर की बल्लेबाजी रही। शाहिद अफरीदी ने बाबर आजम को सलाह दी है कि उन्हें टी20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ देनी चाहिए। उन्होंने बाबर आजम के विकल्प भी बताए। उन्होंने कहा, ‘बाबर आजम को टी20 की कप्तानी छोड़ देनी चाहिए और सिर्फ बल्लेबाजी पर ध्यान देना चाहिए। हमारे पास शादाब, रिजवान यहां तक की शान मसूद भी हैं जो यह जिम्मेदारी उठा सकते हैं। अफरीदी ने आगे कहा, ‘मैं बाबर का बहुत सम्मान करता हूं। उनकी बहुत इज्जत करता हूं, वह अच्छे खिलाड़ी हैं इसलिए चाहता हूं कि उन पर बल्लेबाजी के दौरान कम से कम दबाव रहे। हालांकि अफरीदी चाहते हैं कि बाबर आजम सिर्फ टी20 कप्तानी से हटें, लेकिन वनडे और टेस्ट क्रिकेट में टीम को लीड करें।


वेस्टइंडीज के टी20 विश्व कप प्रदर्शन की समीक्षा करेंगे लारा और आर्थर

वेस्ट इंडीज के महान बल्लेबाज और पूर्व कप्तान ब्रायन लारा और अंतर्राष्ट्रीय कोच मिकी आर्थर को ऑस्ट्रेलिया में हाल ही में खेले गए पुरुष टी20 विश्व कप में वेस्टइंडीज के निराशाजनक प्रदर्शन की 'व्यापक समीक्षा' करने के लिए क्रिकेट वेस्टइंडीज (सीडब्ल्यूआई) द्वारा गठित एक स्वतंत्र पैनल में शामिल किया गया हैं। 2012 और 2016 के विश्व विजेता वेस्टइंडीज को आयरलैंड और स्कॉटलैंड से मिली हार के बाद सुपर 12 चरण से पहले ही टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा। इस परिणाम के बारे में बोर्ड ने कहा था, "वेस्टइंडीज क्रिकेट के सभी हितधारकों को निराशा हुई थी" और इसके बाद मुख्य कोच फिल सिमंस ने अपने पद से हटने का निर्णय लिया। लारा और आर्थर, जो वर्तमान में क्रमश: सनराइजर्स हैदराबाद और डर्बीशायर के लिए काम कर रहे हैं, को तीन सदस्यीय कार्यकारी समूह के हिस्से के रूप में जोड़ा गया है, जिसकी अध्यक्षता ईस्टर्न कैरेबियन सुप्रीम कोर्ट में उच्च न्यायालय के न्यायाधीश पैट्रिक थॉम्पसन करेंगे।

उन्हें "वेस्टइंडीज पुरुषों की टी20 टीम की तैयारी और प्रदर्शन की पूरी तरह से और स्वतंत्र समीक्षा" करने के लिए कहा गया है और अगले छह ह़फ्तों में वह चयनकर्ताओं, दल के सदस्यों, प्रबंधन कर्मचारियों, बोर्ड के अधिकारी, पूर्व खिलाड़ी, प्रादेशिक बोर्ड और कैरेबियन प्रीमियर लीग की फ्ऱैंचाइजि़यों सहित 'जितना संभव हो सके उतने हितधारकों' से बात करेंगे। वे अपने निष्कर्षों की तुलना करेंगे और 15 दिसंबर तक सीडब्ल्यूआई के निदेशक बोर्ड को अंतिम रिपोर्ट के हिस्से के रूप में अपनी सिफारिशें प्रस्तुत करेंगे। सीडब्ल्यूआई के अध्यक्ष रिकी स्केरिट ने कहा, "यह महत्वपूर्ण है कि खिलाड़ियों, कोचों, प्रशासकों और हम सभी जो वेस्टइंडीज क्रिकेट से प्यार करते हैं, यह मानते हैं कि खिलाड़ियों के विकास और टीम में सुधार के लिए पूरे संगठन में एक सतत सीखने की संस्कृति बनाना सबसे आवश्यक है।" उन्होंने आगे कहा, "भावना-आधारित और घुटने के बल चलने वाले निर्णय अतीत में सीडब्ल्यूआई को बार-बार निराश कर चुके हैं। मुझे विश्वास है कि यह स्वतंत्र विश्व कप समीक्षा प्रक्रिया निष्कर्षों और सीखों का उत्पादन करेगी जो आगे चलकर हमारी क्रिकेट प्रणाली के लिए बहुत लाभकारी होंगे।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

ब्राजील कतर विश्व कप जीतने का प्रबल दावेदार : रोनाल्ड डी बोअर

नीदरलैंड के पूर्व अंतरराष्ट्रीय रोनाल्ड डी बोअर ने भविष्यवाणी की है कि कतर में इस साल के टूर्नामेंट में ब्राजील रिकॉर्ड छठी बार फुटबॉल विश्व कप जीतेगा। नीदरलैंड के पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी ने हाल ही में डिलीवरी एंड लिगेसी के लिए सुप्रीम कमेटी को अपने विश्व कप की भविष्यवाणियां दीं। उन्होंने भविष्यवाणी की है कि दक्षिण अमेरिकी दिग्गज 18 दिसंबर को लुसैल स्टेडियम में फाइनल में पुर्तगाल को हरा देंगे। पूर्व अजाक्स, बार्सिलोना और रेंजर्स मिडफील्डर भी तीसरे स्थान का दावा करके अपने देश को एक मजबूत अभियान के लिए तैयार कर रहे हैं। वह अफ्रीका कप आफ नेशंस होल्डर, सेनेगल के मुकाबले लुई वैन गाल की टीम को ग्रुप ए से जीतने वाली टीम के रूप में आगे बढ़ा रहे हैं।

डी बोअर ने कहा, "एक डच व्यक्ति के रूप में, मैं ड्रा से काफी खुश था, और मुझे लगता है कि टीम इस समूह के साथ भी खुश हो सकती है।" रोनाल्ड डी बोअर ने कहा, "दोहा में सात साल रहने के बाद मेजबान कतर के साथ एक ही समूह में रहना मेरे लिए खास है - लेकिन मेरे लिए, नीदरलैंड और सेनेगल आगे बढ़ने के लिए पसंदीदा हैं।" 52 वर्षीय बोअर ग्रुप एफ में एक आश्चर्य की उम्मीद करते हैं, क्रोएशिया और मोरक्को पसंदीदा में से एक, बेल्जियम और कनाडा से आगे निकल रहे हैं। उन्होंने कहा, "विश्व कप में आपको हमेशा कहीं न कहीं सरप्राइज मिलता है। मुझे लगता है कि बेल्जियम संघर्ष करने जा रहा है, मोरक्को समूह में आश्चर्यजनक टीम है।" डी बोअर की नॉकआउट भविष्यवाणियों में क्वार्टर फाइनल चरण से कुछ रोमांचक मैच शामिल हैं, जिसमें नीदरलैंड ब्राजील से हारने से पहले अंतिम चार में पहुंच जाएगा, जबकि फ्रांस अपने विश्व कप खिताब की रक्षा को पुर्तगाल के खिलाफ समाप्त होते हुए देखेगा।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया

FIFA World Cup 2022: जर्मनी के इस फुटबॉल क्लब ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

20 नवंबर को रात 9।30 बजे कतर और इक्वाडोर के बीच मुकाबले के साथ ही फीफा वर्ल्ड कप 2022 का आगाज हो जाएगा। फुटबॉल क्लब और जर्मन चैंपियन बायर्न म्यूनिख ने कतर में फीफा विश्व कप 2022 के लिए 17 खिलाड़ी देने का नया विश्व कप रिकॉर्ड बनाया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक 17 खिलाड़ी आठ अलग-अलग देश की टीमों के लिए इस विश्व कप में खेलेंगे। इसी के साथ बवेरियन क्लब ने टीम मैनचेस्टर सिटी (2018) और दक्षिण कोरियाई सोल आर्मी FC (1954) को पछाड़ दिया है। बता दें, दोनों क्लब ने उस समय 16 खिलाड़ियों को फीफा के लिए भेजा था।

आपको बता दें, मैनचेस्टर सिटी ने इस साल भी वहीं नंबर यानी 16 खिलाड़ियों को फीफा विश्वकप के लिए भेजा है। वहीं दूसरे फुटबॉल क्लब की बात करें तो।। स्पेनिश दिग्गज एफसी बार्सिलोना के बाद अल-साद एससी (कतर / 15), मैनचेस्टर यूनाइटेड (14), रियल (13), चेल्सी, अल-हिलाल सऊदी एफसी (दोनों 12) और पीएसजी, जुवेंटस, टोटेनहम, एटलेटिको, अजाक्स और डार्टमंड के सभी 11 खिलाड़ी इस बार अलग अलग देख के लिए विश्व कप खेल रहे हैं।

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, बायर्न के 7 खिलाड़ी जर्मनी के लिए, 4 फ्रांस के लिए और एक कनाडा, मोरक्को, क्रोएशिया, नीदरलैंड, कैमरून और सेनेगल के लिए खेल रहे हैं। आपको बता दें, कीपर मैनुअल नेउर, जोशुआ किमिच, थॉमस मुलर, लियोन गोर्त्जका, सर्ज ग्नब्री, लेरॉय साने और जमाल मुसियाला जर्मन टीम में बायर्न ब्लॉक में शामिल हो गए। वहीं बेंजामिन पावर्ड, दयोट उपामेकानो, लुकास हर्नांडेज और किंग्सले कोमन डिफेंडिंग चैंपियन फ्रांस के लिए खेलते नजर आएंगे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;