प्रैक्टिस के दौरान चोटिल हुए रोहित शर्मा और गांगुली चाहते हैं युवा खिलाड़ियों को बेहतर करें तेंदुलकर

दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में टी-20 मैच से पहले अभ्यास सत्र के दौरान रोहित बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर और श्रीलंका के नुवान सेनेविरत्ने के साथ अभ्यास कर रहे थे कि अचानक एक गेंद उनकी बाई जांघ पर लगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिए भारत के कप्तान नियुक्त किए गए रोहित शर्मा को यहां अरुण जेटली स्टेडियम में टी-20 मैच से पहले अभ्यास सत्र के दौरान चोट लग गई। रोहित बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर और श्रीलंका के नुवान सेनेविरत्ने के साथ अभ्यास कर रहे थे कि अचानक एक गेंद उनकी बाई जांघ पर लगी।

इसके बाद, वह तुरंत नेट सेशन से बाहर चले गए। सपोर्ट स्टाफ ने अभी तक इसके बारे में कोई अधिक जानकारी नहीं दी है। कप्तान विराट कोहली की गैर-मौजूदगी में रोहित पर बल्लेबाज का दारोमदार होगा। वह फिलहाल, शानदार फॉर्म में चल रहे हैं।

हाल में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुई सीरीज में उन्होंने दमदार प्रदर्शन किया और उससे पहले इंग्लैंड एंड वेल्स मे हुए विश्व कप में उन्होंने दमदार प्रदर्शन किया था।

गांगुली चाहते हैं युवा खिलाड़ियों को बेहतर बनाने के लिए काम करें तेंदुलकर

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के नवनिर्वाचित अध्यक्ष सौरभ गांगुली चाहते हैं कि महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर युवा खिलाड़ियों को बेहतर बनाने के लिए काम करें।

एक न्यूज एजेंसी से बात करते हुए एक सूत्र ने कहा कि इस नए रोल के लिए सचिन को मनाने की प्रक्रिया अभी भी शुरुआती स्टेज पर है, लेकिन गांगुली चाहते हैं कि सचिन आगामी स्टार खिलाड़ियों को बेहतर करने का काम करें।

सूत्र ने कहा, "प्रक्रिया शुरू कर दी गई है, लेकिन इस पर बयान देना अभी जल्दबाजी होगी। लेकिन, अगर सभी चीजें योजना के अनुसार रही तो आप शुभमन गिल, ऋषभ पंत या पृथ्वी शॉ को दिग्गजों के साथ समय बिताते हुए देख सकते हैं। वे न केवल क्रिकेट स्किल बल्कि खेल के मानसिक पक्ष पर भी चर्चा कर सकते हैं।"

उन्होंने कहा, "नए खिलाड़ियों के साथ अपने अनुभव को साझा करने के लिए 24 साल तक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाले आदमी से बेहतर कौन हो सकता है? भारतीय क्रिकेट के भविष्य को ध्यान में रखते हुए यह एक और मास्टरस्ट्रोक हो सकता है।"

यह पूछे जाने कि क्या तेंदुलकर राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (NCA) का दौरा करेंगे। सूत्र ने कहा, "यह इस तरह से किया जाना चाहिए कि तेंदुलकर के संबंध में हितों के टकराव का मुद्दा न उठे। इन चीजों पर काम करने की जरूरत है।"

BCCI अध्यक्ष बनते ही गांगुली ने कहा था कि वह भारतीय क्रिकेट को आगे बढ़ाने के लिए दिग्गजों की सहायता जरूर लेंगे।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

लोकप्रिय