इंडोनेशिया: फुटबॉल मैच के दौरान बवाल! टीम की हार के बाद गुस्साए फैंस मैदान में घुसे, भगदड़-झड़प में 174 लोगों की मौत

पुलिस अधिकारी के मुताबिक, हारने वाली टीम के समर्थकों ने हार को स्वीकार करने से इनकार कर दिया और फुटबॉल पिच में जबरन घुस गए, जिसके चलते उनकी पुलिस के साथ झड़प हुई और भगदड़ मच गई।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

इंडोनेशिया के पूर्वी जावा प्रांत के मलंग में एक फुटबॉल मैच के दौरान मची भगदड़ और झड़प में कम से कम 174 लोगों की मौत हो गई और 180 अन्य घायल हो गए। इंडोनेशियाई पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रांतीय पुलिस प्रमुख निको अफिंटा ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि शनिवार की देर शाम कांजुरुहान स्टेडियम में अरेमा मलंग क्लब और पसेर्बाया सुरबाया के बीच मुकाबला हुआ, जिसमें अरेमा को हार का मुंह देखना पड़ा।

टीम की हार के बाद गुस्साए फैंस मैदान में घुस आए, जिससे आरजकता फैल गई। इस दौरान दो पुलिसकर्मियों की भी मौत हो गई है। अफिंटा ने कहा कि शुरुआती जांच में पता चला है कि ज्यादातर मौतें भगदड़ के कारण हुईं, जबकि अन्य लोगों की मौत सांस लेने में तकलीफ की वजह से हुई होगी। उन्होंने कहा, "स्टेडियम के अंदर लगभग 34 लोगों की मौत हो गई और बाकी ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ा।"

पुलिस अधिकारी के मुताबिक, हारने वाली टीम के समर्थकों ने हार को स्वीकार करने से इनकार कर दिया और फुटबॉल पिच में जबरन घुस गए, जिसके चलते उनकी पुलिस के साथ झड़प हुई और भगदड़ मच गई।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दोनों फुटबॉल टीमों के समर्थकों ने स्टेडियम के अंदर आपस में मारपीट की और दंगा किया। भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस ने आंसूगैस के गोले दागे, जिससे भीड़ में दहशत फैल गई। लोगों ने स्टेडियम छोड़ने के लिए हाथापाई की, जिससे बाहर निकलने पर भगदड़ मच गई।

इंडोनेशियाई खेल मंत्री जैनुद्दीन अमली ने इस घटना के लिए माफी मांगी, कहा कि मामले की जांच करेंगे और इंडोनेशियाई फुटबॉल टूर्नामेंट में आयोजकों के प्रबंधन और सुरक्षा उपायों का पुनर्मूल्यांकन करेंगे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;