खेल की 5 बड़ी खबरें: खतरे में BCCI में सबा करीम का पद और महिला विश्व कप 2023 की संयुक्त मेजबानी करेंगे ये दो देश

कोरोना के कारण आर्थिक संकट से जूझ रही है। ऐसे में क्रिकेट संचालन के महानिदेशक पद पर काबिज पूर्व विकेटकीपर सबा करीम का पद खतरे में है और ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड 2023 महिला फुटबॉल विश्व कप की सह मेजबानी करेंगे।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना वायरस: खतरे में बीसीसीआई में सबा करीम का पद

दुनिया के बाकी खेल संस्थानों की तरह ही बीसीसीआई भी इस कोरोनावायरस महामारी के कारण आर्थिक संकट से जूझ रही है। ऐसे में क्रिकेट संचालन के महानिदेशक पद पर काबिज पूर्व विकेटकीपर सबा करीम का पद खतरे में हैं क्योंकि बोर्ड में ऐसा विचार है कि वह ज्यादा योगदान नहीं दे रहे हैं। इस मामले से संबंध रखने वाले एक सूत्र ने आईएएनएस से कहा कि करीम का पद खतरे में है क्योंकि ऐसे कई अनसुलझे मुद्दे हैं जो उनके कार्यक्षेत्र में आते हैं। इसलिए आर्थिक स्थिति को देखते हुए मुश्किल फैसले लिए जा सकते हैं। अधिकारी ने कहा, "यह काफी मुश्किल समय है और हम सभी इस बात से वाकिफ हैं कि इस समय आपको अलग हटकर सोचना होगा। हमें यह सुनिश्चित करना है कि हम इस महामारी में खेल को कम से कम क्षति के साथ निकालें। हम अधिकारियों के साथ कई तरह की चर्चा कर रहे हैं और अधिकारी भी अपने स्तर पर चर्चा कर रहे हैं। हमने जिन मुद्दों पर चर्चा की और जो ध्यान देने लायक थे, उसके मुताबिक उनका योगदान अच्छा नहीं रहा है।"

इसे भी पढ़ें- BCCI ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को दिया करारा जवाब और आज ही के दिन भारत बना था विश्व विजेता

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

फीफा महिला विश्व कप 2023: संयुक्त मेजबानी करेंगे ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड

आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड 2023 महिला फुटबॉल विश्व कप की सह मेजबानी करेंगे। फीफा परिषद में गुरूवार को दोनों द्वीपीय पड़ोसी देशों ने कोलंबिया को 22-13 के मत से पछाड़ दिया। इस विश्व कप में टीमों को बढ़ाकर 32 टीम का कर दिया गया है जो फ्रांस में 2019 में हुए पिछले चरण से आठ ज्यादा टीमें हैं। इसके जुलाई 2023 में होने की उम्मीद है। बोली में आस्ट्रेलिया में सात और न्यूजीलैंड में पांच शहरों का प्रस्ताव दिया। इसमें 2000 सिडनी ओलंपिक के लिये इस्तेमाल किये गये मुख्य स्टेडियम को भी शामिल किया गया। पिछले साल सफल विश्व कप के बाद फीफा अगले महिला टूर्नामेंट को व्यवसायिक रूप से आकर्षक बनाना चाहता है। तीसरा उम्मीदवार जापान सोमवार को हट गया था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

फीफा ने जारी किया 1.5 अरब डालर का कोविड-19 रिलीफ फंड

फीफा की नियामक परिषद ने विश्व फुटबाल की मदद करने के लिए सर्वसम्मति से 1.5 अरब का कोविड-19 रिलीफ फंड जारी किया है। फीफा ने कहा है कि उसके 211 संघ को देखते हुए प्रत्येक संघ को 10 लाख डालर का भुगतान किया जाएगा जिसकी एक किश्त इसी साल जुलाई में दी जाएगी जबकि बची हुई किश्त अगले साल जनवरी में। महिला फुटबाल की अच्छी शुरुआत करने के लिए 500,000 डालर की एकमुश्त राशि दी जाएगी। छह महाद्विपयी महासंघों को फीफा के रिजर्व फंड से 20 लाख डालर प्रति महासंघ दिया जाएगा। फीफा ने इस बात की घोषणा की। फीफा ने कहा कि उसके सदस्य संघ अपनी वार्षिक आय के मुताबिक 35 फीसदी तक ऋण मुक्त लोन के लिए अर्जी दे सकते हैं। कम से कम 500,000 डालर की सीमा तक का लोन उपलब्ध होगा और इसके अलावा ज्यादा से ज्यादा 50 लाख डालर के अतिरिक्त लोन की सुविधा भी होगी। साथ ही हर परिसंघ को 40 लाख डालर का लोन मिल सकता है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

2023 वर्ल्ड कप के लिए अभी से योजना बना रहे ऑस्ट्रेलियाई कप्तान

ऑस्ट्रेलिया की सीमित ओवर टीम के कप्तान एरॉन फिंच भले ही कोविड-19 महामारी के कारण मार्च से ही क्रिकेट नहीं खेल पा रहे हों, लेकिन वह लगातार खेल के बारे में सोच रहे हैं। उन्होंने भारत में होने वाले 2023 वनडे विश्व कप के लिए अभी से रणनीति बनानी शुरू कर दी है।कोविड-19 महामारी के कारण इस साल ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप होने की संभावना क्षीण हैं, जबकि भारत के पास 2021 चरण की मेजबानी के अधिकार हैं। भारत को 2023 में 50 ओवरों के विश्व कप की भी मेजबानी करनी है।33 साल के फिंच को लगता है कि यह समय उप महाद्वीपीय परिस्थितियों के लिए तैयारी करने का है। फिंच ने ‘सेन रेडियो’ से कहा, ‘मैं क्रिकेट के प्रति जुनूनी हूं इसलिए इसके बारे में ही सोचता रहता हूं, विशेषकर कप्तान होने के नाते और आगामी टूर्नामेंट टी20 विश्व कप है।जब भी इसका आयोजन होगा..।और ये भी दो टूर्नामेंट हैं।इनके साथ मैं भारत में 2023 में होने वाले 50 ओवरों के विश्व कप के बारे में भी सोच रहा हूं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

इंटर मिलान के डिफेंडर स्क्रीनियार पर तीन मैचों का बैन

इटली के फुटबाल क्लब इंटर मिलान के डिफेंडर मिलान स्क्रीनियार सेरी-ए के अगले तीन मैच नहीं खेल पाएंगे क्योंकि लीग में दुर्व्यवहार के कारण उन पर तीन मैचों का प्रतिबंध लगा है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, 23 साल के इस खिलाड़ी ने सासुओलो के खिलाफ खेल गए मैच में रैफरी पर अपना गुस्सा जाहिर किया था। यह मैच 3-3 से बराबर रहा था। अनुशासन समिति ने फैसला किया कि लाल कार्ड के कारण लगे एक मैच के बैन के अलावा उन पर दो और मैचों का बैन लगाना चाहिए। इसके अलावा इंटर मिलान के कोच एंटोनियो कोंटे को भी पांचवी चेतावनी मिलने के कारण एक मैच के लिए बैन किया जाएगा।

(आईएएनस के इनपुट के साथ)

लोकप्रिय