सानिया मिर्जा की ख्वाहिश रह गई अधूरी, करियर के आखिरी ग्रैंड स्लैम में हुई हार, छलके आंसू

मैच के बाद सानिया मिर्जा काफी इमोशनल हो गईं। सानिया ने बताया कि उनके लिए यह मौका बेहद खास था क्योंकि उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मेलबर्न से ही अपने करियर की शुरुआत की थी और अपना आखिरी मैच भी उन्होंने मेलबर्न में ही खेला।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

भारत की टेनिस स्टार सानिया मिर्जा अब कभी ग्रैंड स्लैम खेलती हुई नजर नहीं आएंगी। ग्रैंड स्लैम में भारत का झंडा बुलंद करने वाली सानिया ने शुक्रवार को अपना आखिरी ग्रैंड स्लैम खेला। वो अपने इस सफर को जीत के साथ खत्म करना चाहती थी। लेकिन आखिरी पलों में वो और उनके जोड़ीदार रोहन बोपन्ना चूक गए। ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में भारतीय जोड़ी को स्टेफनी और मातोस की जोड़ी ने 7-6, 6-2 से मात देकर खिताब जीतने का सपना तोड़ दिया और इसी के साथ सानिया की एक आखिरी बार ग्रैंड स्लैम जीतने की ख्वाहिश अधूरी रह गई।

मैच के बाद सानिया मिर्जा काफी इमोशनल हो गईं। सानिया ने बताया कि उनके लिए यह मौका बेहद खास था क्योंकि उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मेलबर्न से ही अपने करियर की शुरुआत की थी और अपना आखिरी मैच भी उन्होंने मेलबर्न में ही खेला।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;