BCCI के नए अध्यक्ष बनते ही सौरव गांगुली ने तोड़ा 65 साल का ये रिकार्ड, जानिए कितने महीने का होगा कार्यकाल

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने आज औपचारिक तौर पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अगले अध्यक्ष का पद संभाल लिया है। इसके साथ ही सौरव की नई पारी का आगाज हो गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने आज औपचारिक तौर पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अगले अध्यक्ष का पद संभाल लिया है। इसके साथ ही सौरव की नई पारी का आगाज हो गया है। बुधवार को बोर्ड के मुंबई स्थित हेडक्वार्टर में जनरल बॉडी मीटिंग के दौरान आधिकारिक तौर पर गांगुली की नियुक्ति की घोषणा की गई। गांगुली निर्विरोध चुने गए हैं। वे जुलाई 2020 तक इस पद पर बने रहेंगे।

इसके साथ ही सौरव गांगुली मात्र दूसरे ऐसे क्रिकेटर बन गए जिसने बीसीसीआई अध्यक्ष पद तक का सफर तय किया है। 65 साल में ये सिर्फ दूसरी बार है। इससे पहले टेस्ट क्रिकेटर के तौर पर 'विज्जी' के नाम से मशहूर महाराजा कुमार विजयनगरम बीसीसीआई का अध्यक्ष बने थे, जो 1954 से 1956 तक इस पद पर रहे। हालांकि, सुनील गावस्कर और शिवलाल यादव भी बीसीसीआई प्रेसिडेंट रह चुके हैं। लेकिन ये दोनों अंतरिम अध्यक्ष रहे थे. एन. श्रीनिवासन के बाद उनकी नियुक्ति हुई थी।

बता दें कि करीब 33 महीने से सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (CoA) की देखरेख में बीसीसीआई का कार्य चल रहा था। लेकिन गांगुली के अध्यक्ष पद संभालते ही इनका कार्यकाल खत्म हो गया। सीओए के पूर्व प्रमुख विनोद राय ने कहा, 'मैं संतुष्ट हूं।' भारत के सबसे सफल कप्तानों में से एक सौरव गांगुली बुधवार को सालाना आम बैठक में बीसीसीआई के 39वें अध्यक्ष बने। बीसीसीआई अध्यक्ष पद के लिए गांगुली का नामांकन सर्वसम्मति से हुआ है, जबकि गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह सचिव और उत्तराखंड के महीम वर्मा नए उपाध्यक्ष हैं।

गांगुली का कार्यकाल 9 महीने का ही होगा और उन्हें जुलाई में पद छोड़ना होगा, क्योंकि नए संविधान के प्रावधानों के तहत छह साल के कार्यकाल के बाद ‘विश्राम की अवधि’ अनिवार्य है।

Published: 23 Oct 2019, 12:50 PM
लोकप्रिय