भारत-न्यूजीलैंड टी-20 मैच में दर्शक रहेंगे मौजूद, जेएससीए स्टेडियम में होगा आज मैच, इन गाइडलाइन को करना होगा पालन

झारखंड सरकार के आपदा प्रबंधन प्राधिकार के सचिव अमिताभ कौशल ने इस फैसले की पुष्टि की है कि अब स्टेडियम में 100 फीसदी क्षमता के अनुसार दर्शक मौजूद रह पाएंगे।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

रांची के जेएससीए स्टेडियम में 19 नवंबर को भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले जाने वाले टी-20 मैच में स्टेडियम की कुल क्षमता के अनुसार, शत प्रतिशत दर्शकों की मौजूदगी की इजाजत दे दी गई है। इस स्टेडियम की कुल क्षमता 38 हजार दर्शकों की है। झारखंड सरकार के आपदा प्रबंधन प्राधिकार की मंगलवार देर शाम हुई बैठक में स्वीकृति दी गई। इससे पहले राज्य सरकार ने 18 हजार टिकटों की बिक्री की इजाजत दी थी। झारखंड सरकार के आपदा प्रबंधन प्राधिकार के सचिव अमिताभ कौशल ने इस फैसले की पुष्टि की है कि अब स्टेडियम में 100 फीसदी क्षमता के अनुसार दर्शक मौजूद रह पाएंगे।

मैच को लेकर टिकटों की ऑफलाइन बिक्री 15 नवंबर से शुरू की गई है, जो 17 नवंबर तक जारी रहेगी। स्टेडियम में बनाए गए काउंटरों पर पहले दिन से ही टिकट खरीदने के लिए भारी भीड़ उमड़ रही है। लोग सुबह 4 बजे से ही कतार में खड़े हो जाते हैं, जबकि टिकटों की बिक्री सुबह 9 बजे से शुरू होती है।

झारखंड स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव संजय सहाय ने बताया कि स्टेडियम में पहुंचने वाले दर्शकों के लिए जो गाइडलाइन तय की गई है, उसके अनुसार कोविड वैक्सीन के दोनों डोज लेने वाले दर्शकों को ही स्टेडियम में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी या फिर उन्हें प्रवेश की अनुमति होगी, जिनका 15 नवंबर 2021 के बाद का आरटीपीसीआर रिपोर्ट निगेटिव होगी।

आरटीपीसीआर रिपोर्ट को गेट पर मौजूद जांच टीम को दिखाना होगा। वहीं, गेट पर प्रवेश के समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। दर्शकों को जो सीट अलॉट होगा, उसी पर बैठना अनिवार्य होगा। किसी भी तरह के बैग, थैला स्टेडियम में लाने की अनुमति नहीं होगी।

बता दें कि इस स्टेडियम में लगभग 2 साल के बाद कोई इंटरनेशनल मैच खेला जाएगा। इससे पहले 2019 में जेएससीए स्टेडियम में भारत-दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच खेला गया था। यहां टी-20 मुकाबला लगभग 4 साल बाद हो रहा है। यहां आखिरी टी-20 मैच 7 अक्टूबर 2017 को भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia