खेल की खबरें: बृजभूषण को झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट और इस गलती के लिए टीम इंडिया पर जुर्माना

यौन शोषण के आरोपी बृजभूषण शरण सिंह को बड़ा झटका लगा है। नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने बायकॉट कर दिया है और न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में स्लो ओवर रेट के लिए ICC ने टीम इंडिया पर जुर्माना लगाया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बृजभूषण को बड़ा झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट

खेल की खबरें: बृजभूषण को झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट और इस गलती के लिए टीम इंडिया पर जुर्माना

महिला खिलाड़ियों से यौन शोषण के आरोप में घिरे भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष और बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह को बड़ा झटका लगा है। अब उनके खिलाफ कई खिलाड़ियों ने मोर्चा खोल दिया है। इनमें वह खिलाड़ी भी हैं, जो गोंडा के नंदिनी नगर स्थित कुश्ती स्टेडियम में नेशनल चैंपियनशिप खेलने गए थे। हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के कई खिलाड़ी बिना मैच खेले ही वापस लौट गए हैं।

6 से ज्यादा खिलाड़ी बिना मैच खेले ही वापस लौट गए हैं। इन खिलाड़ियों का कहना है कि हम स्वेच्छा से मैच नहीं खेल रहे हैं, दिल्ली के जंतर-मंतर पर बैठे भाई-बहनों के समर्थन में बिना खेले वापस जा रहे हैं, हम पहले जंतर-मंतर पर जाएंगे, उसके बाद घर के लिए रवाना हो जाएंगे। नंदिनी नगर में शनिवार से नेशनल चैंपियनशिप प्रतियोगिता है।

'PM मोदी को 1 साल पहले ही पता चल गई थी महिला रेसलर्स से यौन शोषण की बात', मुक्केबाज विजेंद्र बोले- PM की चुप्पी शर्मनाक

खेल की खबरें: बृजभूषण को झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट और इस गलती के लिए टीम इंडिया पर जुर्माना

 दिल्ली के जंतर-मंतर पर महिला पहलवानों का विरोध-प्रदर्शन लगातार जारी है। इस मामले में भारतीय महिला पहलवानों के साथ यौन शोषण के आरोपी भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष और बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इन सबके बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उनकी पार्टी बीजेपी सवालों के घेरे में हैं। एक बड़ी बात सामने आई हैं। खिलाड़ियों से हो रहे यौन उत्पीड़न के बारे में पीएम मोदी को सवा साल पहले ही जानकारी हो गई थी।

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने इस मुद्दे को लेकर पीएम मोदी पर गंभीर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा, “कठघरे में WFI के चीफ और बीजेपी सांसद जरूर हैं, लेकिन उससे ज्यादा आज कठघरे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। यह मैं बिना कारण के नहीं बोल रही हूं। विनेश फोगाट ने अपने पहले दिन की प्रेस कांफ्रेस में कहा था कि उन्होंने अपने परिवार के साथ जाकर साल 2021 के अक्टूबर महीने में पीएम मोदी को सारी सच्चाई से वाकिफ कराया था। अपनी जान पर होने वाले हमले का अंदेशा भी जाता था। मोदी जी ने कहा था कि तुम्हें कुछ नहीं होगा। मोदी जी ने सार्वजनिक रूप से फोगाट को अपनी बेटी कहा था। तो आज सवाल यह है कि जब एक महिला एथलीट इस देश के प्रधानमंत्री के पास जाकर फेडरेशन में हो रहे यौन शोषण के बारे में अक्टूबर 2021 में बताती है तो सवा साल तक मोदी जी ने क्या किया? वह इस पर चुप क्यों रहे?”

 राजस्थान खेल परिषद अध्यक्ष कृष्णा पूनिया ने कहा, “मैं यहां पर विनेश फोगाट और उन सभी पहलवानों का धन्यवाद देती हूं कि इस मंच पर आकर उन्होंने इस बात को उठाया है। लेकिन तकलीफ इस बात की है कि माननीय प्रधानमंत्री जी को जब विनेश फोगाट ने करीब सवा साल पहले ही इन बातों से अवगत करा दिया था तो इस पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई?”

वहीं, मुक्केबाज और ओलंपिक पदक विजेता विजेंद्र सिंह ने प्रेस से बात करते हुए कहा, “अपने साथियों और अपनी बहनों का साथ देने के लिए मैं जंतर-मंतर पर था। एक मुक्केबाज और साथी होने के नाते मैं वहां गया था। धीरे-धीरे वहां पहलवान आएंगे, उनसे फोन पर मेरी बात हुई है। विनेश फोगाट ने फेडरेशन के चीफ पर जो आरोप लगाए हैं वह बहुत गंभीर आरोप हैं। मैं मानता हूं कि इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री का इतनी लंबी चुप्पी साधना निंदनीय और शर्मनाक बात है। इस मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई होनी चाहिए। आईपीसी की जो भी धाराएं लगती हैं, उसके तहत इस पक एक्शन लिया जाना चाहिए।”


न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में इस गलती के लिए टीम इंडिया ICC ने लगाया जुर्माना

खेल की खबरें: बृजभूषण को झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट और इस गलती के लिए टीम इंडिया पर जुर्माना

टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज में जीत से शुरुआत की है। पहला मैच 18 जनवरी को हैदराबाद में खेला गया था, जिसमें टीम इंडिया ने 12 रनों से शानदार जीत दर्ज की थी। इसी मैच में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा से एक गलती हुई थी। वह स्लो ओवर रेट वाली गलती थी। यानी टीम इंडिया ने निर्धारित समय में तीन ओवर कम किए थे। यही वजह है कि अब उस मैच को लेकर ICC ने भारतीय टीम पर जुर्माना लगाया है।

जुर्माने के तहत अब टीम इंडिया को मैच फीस का 60 फीसदी जुर्माना देना पड़ेगा। आईसीसी की आचार संहिता के अनुच्छेद 2.22 के तहत टीम के खिलाड़ियों को हर ओवर के लिए बतौर जुर्माना 20 प्रतिशत जुर्माना देना होता है। चूंकि टीम ने तीन ओवर निर्धारित समय में नहीं किए थे। ऐसे में यह जुर्माना 60 प्रतिशत हो जाता है।

सरफराज को नजरअंदाज करने पर चयनकर्ताओं पर भड़के गावस्कर, बोले- फैशन शो में जाएं और...

खेल की खबरें: बृजभूषण को झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट और इस गलती के लिए टीम इंडिया पर जुर्माना

भारतीय टीम को पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने बल्लेबाज सरफराज खान की अनदेखी करने के लिए चेतन शर्मा की अगुआई वाली अखिल भारतीय चयन समिति की कड़ी आलोचना की है। गावस्कर ने इन-फॉर्म बल्लेबाज को अपना समर्थन दिया और कहा “जब वह शतक बना रहा है तो वह मैदान से बाहर नहीं रह रहा है, वह फिर से मैदान पर वापस आ गया है। यह सब आपको बताता है कि वह क्रिकेट के लिए फिट है। अगर आप केवल स्लिम और ट्रिम लोगों की तलाश कर रहे हैं, तो आप एक फैशन शो में जाएं और कुछ मॉडल चुनें और फिर उन्हें एक बल्ला और गेंद उनके हाथ में दें और फिर उन्हें शामिल करें। आपके पास हर आकार के क्रिकेटर हैं। आकार पर मत जाइए, बल्कि रन और विकेट पर जाइए गावस्कर ने इंडिया टुडे को बताया।”

दिल्ली के खिलाफ चल रहे रणजी ट्रॉफी खेल की पहली पारी में सरफराज ने मुंबई के लिए एक और रणजी ट्रॉफी शतक जड़ा। कई मौजूदा और पूर्व क्रिकेटरों ने घरेलू सर्किट में बल्ले से शानदार फॉर्म के बावजूद टीम से सरफराज की अनदेखी पर अपनी निराशा व्यक्त की है।


रवि शास्त्री ने विराट कोहली को तीसरा वनडे नहीं खेलने की सलाह दी

खेल की खबरें: बृजभूषण को झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट और इस गलती के लिए टीम इंडिया पर जुर्माना

टीम इंडिया इस समय न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज खेलने में मसरूफ है। दोनों देशों के बीच पहला वनडे मुकाबला खेला जा चुका है, जिसमें इंडिया को 12 रनों से जीत मिली थी। अब दोनों देशों के बीच दूसरा मैच 21 जनवरी को रायपुर से खेला जाना है। दूसरे मुकाबले से पहले भारतीय टीम के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने विराट कोहली को खास सुझाव दिया है। रवि शास्त्री ने कहा कि विराट को सीरीज का आखिरी यानी कि तीसरा वनडे खेलने के बजाय रणजी ट्रॉफी मैच खेलना चाहिए, ताकि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले आत्मविश्वास हासिल किया जा सके। विराट ने व्हाइट गेंद क्रिकेट में फॉर्म हासिल कर लिया है, लेकिन टेस्ट मैचों में वह काफी दिनों से बड़ी पारी नहीं खेल पाए हैं। कोहली का आखिरी टेस्ट शतक साल 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ आया था। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ हाल ही में दो मैचों की टेस्ट सीरीज में भी हिस्सा लिया था जहां उनके बल्ले से कुल 45 रन ही निकले थे।

रवि शास्त्री ने कहा, “हमेशा से मेरा यह मानना ​​रहा है कि आपको ज्याद प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलने चाहिए, खासकर जब आप भारत में बहुत अधिक खेलने जा रहे हों। मैं ऐसे महसूस करता हूं कि टॉप खिलाड़ी पर्याप्त प्रथम श्रेणी क्रिकेट नहीं खेलते हैं। चारों ओर काफी क्रिकेट है, आप जोखिम नहीं उठाना चाहते। लेकिन, कभी-कभी आपको चालाक होना पड़ता है और बड़ी पिक्चर को देखते हुए कुछ मुकाबलों का त्याग करना पड़ता है।”

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;