खेल की 5 बड़ी खबरें: ICC ने द.अफ्रीका के कप्तान को दी कड़ी सजा और भारत ने चार दशकों बाद वनडे में उतारे 5 डेब्यूटेंट

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान टेम्बा बवुमा को आईसीसी आचार संहिता के स्तर 1 के उल्लंघन के लिए फटकार लगाई गई है और भारत ने 40 वर्षो से अधिक समय के बाद किसी वनडे मुकाबले में पांच डेब्यू करने वाले खिलाड़ियों को शामिल किया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

आईसीसी ने दक्षिण अफ्रीका के कप्तान को दी कड़ी सजा

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान टेम्बा बवुमा को आयरलैंड के खिलाफ मलाहाइड में पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान आईसीसी आचार संहिता के स्तर 1 के उल्लंघन के लिए फटकार लगाई गई है। बवुमा को अनुच्छेद 2.3 का उल्लंघन करते हुए पाया गया जो खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ के लिए है। यह एक अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान अश्लील बातों के उपयोग से सम्बंधित है, जिसे सुना गया है। अनुच्छेद 2.3 में आमतौर पर ज्ञात और समझे जाने वाले शब्दों के उपयोग को शामिल किया गया है जो आपत्तिजनक, अश्लील, अपवित्र (किसी भी भाषा में) हैं और देखने वाली जनता चाहे स्टंप-माइक्रोफोन के माध्यम से या अन्य किसी तरह से सुन सकती है। इसको लेकर दक्षिण अफ़्रीकी कप्तान टेम्बा बवुमा पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए एक डीमेरिट पॉइंट दिया गया है। यह घटना दक्षिण अफ़्रीकी पारी के छठे ओवर में घटी जब बवुमा विकेट के पीछे कैच के बाद अश्लील बातें कहते हुए सुने गए। मैच रेफरी केविन गैलागर ने उनके ऊपर चार्ज लगाए और बवुमा ने इस सजा को मान लिया है। मामले पर अब किसी औपचारिक सुनवाई की कोई आवश्यकता नहीं है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

भारत ने 40 वर्षो से अधिक समय बाद वनडे में उतारे 5 डेब्यूटेंट

भारत ने 40 वर्षो से अधिक समय के बाद किसी वनडे मुकाबले में पांच डेब्यू करने वाले खिलाड़ियों को शामिल किया है। भारत ने श्रीलंका के खिलाफ यहां आर. प्रेमादासा स्टेडियम में खेले जा रहे तीसरे और सीरीज के आखिरी वनडे मुकाबले में विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन और नीतीश राणा सहित कुल पांच खिलाड़ियों को डेब्यू करने का मौका दिया। भारत ने इस मुकाबले के लिए टीम में छह बदलाव किए जिसमें उन्होंने पांच डेब्यू करने वाले खिलाड़ियों को लिया है। सैमसन और राणा के अलावा डेब्यू करने वालों में चेतन सकारिया, कृष्णप्पा गौतम और राहुल चाहर के नाम शामिल हैं। भारत के वनडे इतिहास में यह दूसरी बार है जब टीम में एक साथ पांच खिलाड़ियों ने डेब्यू किया है। इससे पहले दिसंबर 1980 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत के पांच खिलाड़ियों ने डेब्यू किया था जिनमें दिलीप जोशी, कीर्ति आजाद, रोजर बिनी, संदीप पाटिल और तिरुमलाई श्रीनिवासन ने डेब्यू किया था।

उस मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने नौ विकेट पर 208 रन बनाए थे और भारत की टीम 142 रन पर सिमट गई थी और उसे 66 रनों से हार का सामना करना पड़ा था। सैमसन और लेग स्पिनर चाहर पहले ही भारत के लिए टी20 प्रारूप में डेब्यू कर चुके हैं लेकिन बल्लेबाज राणा, स्पिन गेंदबाजी ऑलराउंडर गौतम और तेज गेंदबाज सकारिया किसी भी प्रारूप में पहली बार भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। भारत ने श्रीलंका के खिलाफ तीसरे मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। भारत तीन मैचों की इस सीरीज में पहले ही 2-0 से आगे चल रहा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

वेस्टइंडीज-ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा वनडे टॉस होने के बाद किया गया कैंसिल

ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के बीच खेला जाने वाला दूसरा वनडे मुकाबला सस्पेंड हो गया है। कोरोना वायरस की वजह से इस मुकाबले को सस्पेंड करना पड़ा। खेल की शुरूआत होने से पहले ही पॉजिटिव मामले आने की वजह से इस मैच को कैंसिल करना पड़ा। अधिकारियों ने तुरंत एक्शन लेते हुए ये फैसला लिया। अब दोनों ही टीमों को अगले कुछ दिनों तक आइसोलेशन में रहना होगा। इस दौरान उनका कई बार कोरोना टेस्ट किया जाएगा। जब तक खिलाड़ियों की रिपोर्ट इन कोरोना टेस्ट के दौरान हर बार निगेटिव नहीं आ जाती है तब तक चीजें नॉर्मल नहीं होंगी। cricket.com.au की खबर के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया के कैंप में किसी भी सदस्य को पॉजिटिव नहीं पाया गया है। बोर्ड ने अभी तक इस बारे में कोई अधिकारिक बयान जारी कर उस प्लेयर की पहचान उजागर नहीं की है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

श्रीशंकर और इरफान को ओलंपिक के लिए मिली हरी झंडी

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने शुक्रवार को लंबी कूद एथलीट मुरली श्रीशंकर और 20 किमी पैदल चाल एथलीट केटी इरफान का नाम टोक्यो ओलंपिक से नहीं हटाने का फैसला किया। एएफआई की चयन समिति आपात बैठक के बाद इस नतीजे पर पहुंची है। गत 21 जुलाई को हुए फिटनेस ट्रायल्स में श्रीशंकर ने 7.48 मीटर का जम्प किया था। 22 वर्षीय एथलीट ने 8.26 मीटर के निजी सर्वश्रेष्ठ के साथ ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था। दूसरी तरफ इरफान जिन्होंने मार्च 2019 में एशियन पैदल चाल चैंपियनशिप में ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था, उन्होंने आखिरी बार इस साल मार्च में पैदल चाल नेशनल चैंपियनशिप में हिस्सा लिया था जहां वह रेस पूरी नहीं कर सके थे। मई में वह कोरोना पॉजिटिव भी पाए गए थे। इस बारे में मजबूत राय बनी थी कि इन दोनों एथलीटों के ट्रायल्स के दौरान बेहतर प्रदर्शन नहीं करने के बाद इनके नाम हटा दिए जाने चाहिए, लेकिन समिति ने माना कि ट्रायल्स फॉर्म के बजाए फिटनेस की आकलन के लिए कराए गए थे। इसका सार यही है कि बैठक में सर्वसम्मति से इन दोनों खिलाड़ियों को टीम से नहीं निकालने का निर्णय लिया गया। इरफान का यह दूसरा ओलंपिक होगा, वह इससे पहले 2012 लंदन ओलंपिक में हिस्सा ले चुके हैं जहां वह 10वें नंबर पर रहे थे। श्रीशंकर का हालांकि यह पहला ओलंपिक होगा। टोक्यो ओलंपिक में ट्रैक और फील्ड इवेंट 30 जुलाई से शुरू होंगे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

टोक्यो ओलंपिक उद्घाटन समारोह में केवल दो एथलीट उतारेगा ब्राजील

टोक्यो ओलंपिक खेलों के लिए होने उद्घाटन समारोह में ब्राजील ने केवल दो खिलाड़ियों को उतरारने का फैसला किया है। ब्राजील के 300 से अधिक खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। ब्राजील ने कहा है कि उसकी ओर से ध्वजवाहक ब्रूनो रेजेंडे और केटलीन क्वाड्रोस उद्घाटन समारोह में हिस्सेदारी करेंगे। वॉलीबॉल खिलाड़ी रेजेंडे के अलावा जुडोका क्वाड्रोस, शेफ डे मिशन मार्कोस ला पोर्टा और टीम के एक अन्य अधिकारी केवल दो गैर-एथलीट होंगे, जो ब्राजील ओलंपिक समिति द्वारा शुक्रवार को होने वाले उद्घाटन में हिस्सा लेने के लिए शार्टलिस्ट किए गए हैं। ब्राजील ओलंपिक समिति के एक बयान में कहा गया है, महामारी की स्थिति में ब्राजील के एथलीटों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है। ब्राजील की टीम ओलंपिक खेलों के उद्घाटन समारोह के महत्व और प्रतीकवाद का सम्मान करती है। यह 2016 के रियो ओलंपिक के विपरीत है, जब मेजबान के रूप में, उद्घाटन समारोह के दौरान रिकॉर्ड संख्या में 462 ब्राजीली एथलीटों ने मार्च किया था। ब्रूनो रेजेंडे पिछले खेलों में रजत पदक के बाद 2016 रियो ओलंपिक में देश की स्वर्ण विजेता टीम का हिस्सा हैं।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia