खेल की 5 बड़ी खबरें: पाक क्रिकेट बोर्ड ने नसीम पर लिया यू-टर्न और अश्विन तोड़ सकते हैं मुरलीधरन का रिकॉर्ड

PCB ने टीम के तेज गेंदबाज नसीम शाह को रिलीज करने के चार दिन के भीतर यू-टर्न लेते हुए उन्हें पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में शामिल किया है। ब्रैड हॉग का कहना है कि रविचंद्रन अश्विन मुथैया मुरलीधरन के टेस्ट में सर्वाधिक विकेट लेने के रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पीसीबी ने नसीम पर लिया यू-टर्न, पीएसएल में किया शामिल

फोटो: IANS
फोटो: IANS

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने टीम के तेज गेंदबाज नसीम शाह को रिलीज करने के चार दिन के भीतर यू-टर्न लेते हुए उन्हें पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में शामिल किया है। 18 वर्षीय नसीम को प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने पर सोमवार को पीएसएल से रिलीज कर दिया गया था।

क्रिकइंफो की रिपोर्ट में कहा, "पीसीबी और पीएसएल फ्रेंचाइजी की बैठक के बाद नसीम को वापस इस टूर्नामेंट में शामिल करने पर सहमति बनी। उन्हें प्री आईसोलेशन से पहले कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट देनी होगी जिसके बाद वह टीम होटल में घुस सकते हैं। इसके बाद उनके कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आने पर वह अबु धाबी के लिए उड़ान भर सकते हैं।"

क्वालीफायर्स नहीं होने से सायना और श्रीकांत ओलंपिक में हिस्सा नहीं ले पाएंगे

बैडमिंटन की विश्व संस्था ने शुक्रवार को बताया कि कोरोना महामारी के कारण अब कोई ओलंपिक क्वालीफाईंग टूर्नामेंट नहीं होंगे जिसके बाद ओलंपिक में पदक जीत चुकीं भारत की बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत की इस साल टोक्यो ओलंपिक में शामिल होने की उम्मीदें धूमिल हो गई।

विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) ने कहा, "बैडमिंटन की विश्व संस्था इस बात की पुष्टि करती है कि टोक्यो ओलंपिक के लिए अब कोई क्वालीफाईंग टूर्नामेंट नहीं होंगे। टोक्यो 2020 क्वालीफिकेशन प्रणाली के अनुसार क्वालीफिकेशन पीरियड आधिकारिक रूप से 15 जून को खत्म होगा लेकिन टोक्यो की रेस के लिए रैंकिंग लिस्ट में बदलाव नहीं किया जाएगा।"

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के दौरान भेदभाव के विरूद्ध संदेश दे सकते हैं इंग्लैंड के खिलाड़ी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

इंग्लैंड के खिलाड़ी न्यूजीलैंड के खिलाफ दो जून से होने वाले पहले टेस्ट मैच के दौरान भेदभाव के खिलाफ 'मोमेंट ऑफ यूनिटी' का संदेश दे सकते हैं। इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने इसके लिए खिलाड़ियों को इजाजत दे दी है। 'मोमेंट ऑफ यूनिटी' में मैच शुरू होने से पहले खिलाड़ी एक साथ शांत होकर खड़े रहेंगे।

ईसीबी के क्रिकेट निदेशक एश्ले जाइल्स ने कहा, "हम सभी की तरह खिलाड़ी भी भेदभाव के खिलाफ हैं। अगर यह व्यक्तिगत बयान होता तो भी हम इसका समर्थन करते लेकिन मुझे लगता है कि खिलाड़ी टीम के रूप में ऐसा करना चाहते हैं।"

नस्लभेद के खिलाफ पिछले साल ब्लैक लाइफ मैटर आंदोलन ने गति पकड़ी थी जो 2013 में शुरू हुई थी। पिछले साल मई में अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड नाम के अश्वेत व्यक्ति की हत्या के बाद यह आंदोलन तेज हुआ था।

आर्चर को भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज से बाहर रखने पर सहमत इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड

फोटो: IANS
फोटो: IANS

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर को भारत के खिलाफ होने वाली पांच मैचों की टेस्ट सीरीज से बाहर रखने पर सहमत है। आर्चर ने कहा था कि अगस्त-सितंबर में भारत के साथ होने वाले होने वाले पांच मैचों की टेस्ट सीरीज से वह खुद को दूर रखना चाहते हैं ताकि टी 20 विश्व कप और एशेज सीरीज के लिए वह खुद को फिट रख सकें।

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के क्रिकेट निदेशक एश्ले जाइल्स ने डेली मेल से कहा, "मैंने टी20 विश्व कप और एशेज सीरीज के उद्देश्य को लेकर कई बार बात की है। हम चाहते हैं कि आर्चर इसके लिए अच्छे से तैयारी करें।"

उन्होंने कहा, "आर्चर को कोहनी में दो अलग-अलग चोट का सामना करना पड़ा जिसके कारण वह गेंदबाजी नहीं कर पा रहे हैं। यह उनके लिए निराश करने वाला है।"

अश्विन मुरलीधरन के टेस्ट में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं : हॉग

फोटो: IANS
फोटो: IANS

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर ब्रैड हॉग का कहना है कि टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन श्रीलंका के पूर्व स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के टेस्ट में सर्वाधिक विकेट लेने के रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं। अश्विन के 78 टेस्ट मैचों में 409 विकेट हैं और वह मुरलीधरन के 800 टेस्ट विकेट से अभी 391 विकेट पीछे हैं।

हॉग ने कहा, "अश्विन अभी 34 वर्ष के हैं और मेरे ख्याल से वह 42 साल की उम्र तक टेस्ट खेल सकते हैं। उनकी बल्लेबाजी में गिरावट आ सकती है लेकिन गेंदबाजी में वह दिन-प्रतिदिन उभर रहे हैं। वह कम से कम 600 से ज्यादा टेस्ट विकेट तो लेंगे। हो सकता है कि वह मुरलीधरन के 800 विकेट के रिकॉर्ड को भी तोड़ दें।"

उन्होंने टाइम्स नाउ ने कहा, "इसके पीछा का कारण यह है कि वह अच्छे हैं और उनमें इसकी क्षमता है तथा अश्विन की विकेट लेने की भूख बढ़ती जा रही है। वह इंग्लैंड के वातावरण में ढलने के लिए काउंटी क्रिकेट में भी खेले हैं जिसके कारण अश्विन हाल के दिनों में सफल क्रिकेटर बने हैं।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia