वेस्टइंडीज दौरा: टेस्ट सीरीज कब्जाने से 8 विकेट दूर टीम इंडिया, रात 8 बजे शुरू होगा चौथे दिन का खेल

भारत ने विंडीज को फॉलोऑन न देकर दूसरी पारी में 299 रनों की बढ़त के साथ उतरने का फैसला लिया। टीम इंडिया ने 4 विकेट खोकर 168 रनों पर दूसरी पारी घोषित कर विंडीज के सामने 468 रनों की मजबूत चुनौती रखी थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

वेस्टइंडीज दौरे पर टीम इंडिया टी-20 और वनडे सीरीज जीतने के बाद अब टेस्ट सीरीज में भी जीत की और बढ़ रही है। रविवार को भारतीय टीम ने विंडीज के सामने 468 रनों का लक्ष्य रखा था। तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक वेस्टइंडीज ने 2 विकेट के नुक्सान पर 45 रन बना लिए थे। सोमवार को अगर लक्ष्य से पहले ही वेस्टइंडीज के 8 विकेट गिर जाते हैं तो तीनों सीरीज पर टीम इंडिया का कब्जा हो जाएगा। हालांकि वेस्टइंडीज के पास मंगलवार का दिन भी बाकी है।

भारत ने अपनी पहली पारी में 416 रन बनाए थे और विंडीज को उसकी पहली पारी में महज 117 रनों पर ऑल आउट कर दिया था। भारत ने विंडीज को फॉलोऑन न देने का फैसला किया और दूसरी पारी में 299 रनों की बढ़त के साथ उतरी। भारत ने दूसरी पारी चार विकेट खोकर 168 रनों पर घोषित कर विंडीज के सामने 468 रनों की मजबूत चुनौती रखी।

दिन के आखिरी सत्र में विंडीज ने रनों के लक्ष्य का पीछा करना शुरू किया। ईशांत शर्मा ने नौ के कुल स्कोर पर ही क्रैग ब्रैथवेट (3) को आउट कर मेजबान टीम को पहला झटका दिया तो मोहम्मद शमी ने 37 के कुल स्कोर पर दूसरे सलामी बल्लेबाज जॉन कैम्पवेल (16) को पवेलियन की राह दिखाई।

इससे पहले, वेस्टइंडीज ने दिन की शुरुआत अपनी पहली पारी के स्कोर सात विकेट के नुकसान पर 87 रनों के साथ की थी। दूसरे दिन जसप्रीत बुमराह की हैट्रिक ने विंडीज को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था। तीसरे दिन के पहले ही सत्र में भारत ने विंडीज के बाकी के तीन विकेट रखीम कोर्नवॉल (14), जाहमर हेमिल्टन (5) और केमार रोच (17) को आउट कर उसकी पहली पारी बेहद सस्ते में समेट दी।

पहली पारी में भारत के लिए जसप्रीत बुमराह ने छह विकेट लिए। मोहम्मद शमी ने दो और ईशांत शर्मा तथा रवींद्र जडेजा ने एक-एक विकेट अपने नाम किया।

भारत के लिए हालांकि दूसरी पारी की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसने 36 के कुल स्कोर तक अपने तीन विकेट खो दिए। पहले सत्र में मयंक अग्रवाल (4) रोच की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट दे दिए गए। रोच ने ही दूसरे सत्र में पहले लोकेश राहुल (6) और अगली ही गेंद पर कप्तान विराट कोहली को बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया। कप्तान जेसन होल्डर ने चेतेश्वर पुजारा (27) को 57 के कुल स्कोर पर विकेटकीपर हेमिल्टन के हाथों कैच कराते हुए भारत का स्कोर चार विकेट के नुकसान पर 74 रन कर दिया।

यहां से अंजिक्य रहाणे (नाबाद 64) और हनुमा विहारी (53) ने टीम को संभालते हुए पांचवें विकेट के लिए 111 रनों की साझेदारी की। तीसरे सत्र में भारत ने अपनी दूसरी पारी घोषित करने का फैेसला किया और विंडीज को विशाल लक्ष्य दिया। रहाणे ने अपनी पारी में 109 गेंदों का सामना किया और आठ चौके तथा एक छक्का मारा। विहारी ने 76 गेंदें खेलने के बाद आठ चौके लगाए। विहारी ने पहली पारी में अपने टेस्ट करियर का पहला शतक भी लगया था।

वेस्टइंडीज के पास हालांकि दो दिन का समय है लेकिन जिस तरह से उसकी बल्लेबाजी और भारत की गेंदबाजी रही है उसे देखते हुए यह लक्ष्य मेजबान टीम की पहुंच से दूर ही लग रहा है।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

लोकप्रिय