बैडमिंटन: ‘चीन ओपन वर्ल्ड टूर’ में श्युरुई को हराकर आगे बढ़ीं ‘वर्ल्ड चैंपियन’ पीवी सिंधु

2016 में चीन ओपन का खिताब जीतने वाली 24 वर्षीय सिंधु और श्युरुई के बीच यह मुकाबला महज 34 मिनट तक चला। सिंधु ने मैच की दमदार शुरुआत की और पहले गेम में चार अंकों की बढ़त बना ली।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भारत की स्टार महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने बुधवार को यहां जारी चीन ओपन विश्व टूर सुपर 1000 टूर्नामेंट के पहले दौर में चीन की ली श्युरुई को हराया। मौजूदा विश्व चैम्पियन सिंधु ने अपने शानदार प्रदर्शन को जारी रखते हुए महिला एकल वर्ग में पूर्व ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता श्युरुई को सीधे सेटों में 21-18, 21-12 से पराजित किया।

वर्ष 2016 में चीन ओपन का खिताब जीतने वाली 24 वर्षीय सिंधु और श्युरुई के बीच यह मुकाबला महज 34 मिनट तक चला। सिंधु ने मैच की दमदार शुरुआत की और पहले गेम में चार अंकों की बढ़त बना ली। चीनी खिलाड़ी ने दम दिखाया। उन्होंने वापसी की और मुकाबले को 9-9 से बराबर कर दिया।

ब्रेक के बाद सिंधु ने मैच को अपने नियंत्रण में ले लिया और 21-18 से जीत दर्ज करके मुकाबले में बढ़त बना ली। ली के लिए दूसरे गेम की शुरुआत अच्छी रही। उन्होंने 6-2 से बढ़त बना ली, हालांकि, सिंधु वापसी करने में कमयाब रही। भारतीय खिलाड़ी ने बढ़त बना ली और फिर पीछे मुड़कर न देखते हुए दूसरे दौर में जगह बना ली।


दूसरे दौर में सिंधु की भिड़ंत थाईलैंड की पोर्नपावे चोचुवोंग से होगी। वल्र्ड नंबर-5 सिंधु ने पिछले महीने स्विट्जरलैंड के बासेल में हुई विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था। वह इससे पहले दो बार विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंची थी।

बता दें कि ओलंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधु ने 25 अगस्त को (BWF) बैडमिंटन वर्ल्ड चैंपियनशिप-2019 के फाइनल में दुनिया की चौथे नंबर की खिलाड़ी जापान की नोजोमी ओकुहारा को हराकर चैंपियनशिप में पहली बार स्वर्ण पदक जीता था। इसी के साथ पीवी सिंधु ये कारनामा करने वाली पहली भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई थी।

(आईएएनएस इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia