वर्ल्ड कप 2019: सेमीफाइनल में हार के बाद पहली बार बोले रवि शास्त्री, कहा- टीम हित में बदला धोनी का बैटिंग ऑर्डर

सेमीफाइनल में हार के बाद पहली बार धोनी के बैटिंग ऑर्डर को लेकर कोच रवि शास्त्री ने चुप्पी तोड़ी है। शास्त्री ने इस फैसले का बचाव करते हुए कहा है कि अगर धोनी पहले आउट हो जाते तो टीम के लिए लक्ष्य का पीछा करना मुश्किल हो जाता।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

बुधवार को आइसीसी वर्ल्ड कप 2019 टूर्नामेंट के पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारने के बाद टीम इंडिया के बैटिंग ऑर्डर में हुए बदलावों को लेकर लगातार सवाल खड़े किए जा रहे हैं। इंडियन क्रिकेट फैंस के लिए धोनी का सातवें नंबर पर आना उनकी नाराजगी का सबसे बड़ा कारण बना हुआ है। टीम इंडिया के कई पूर्व क्रिकेट दिग्गज भी टीम मैनेजमेंट के इस फैसले को लेकर काफी नाराज हैं।

सेमीफाइनल में हार के बाद पहली बार धोनी के बैटिंग ऑर्डर को लेकर कोच रवि शास्त्री ने चुप्पी तोड़ी है। शास्त्री ने इस फैसले का बचाव करते हुए कहा है कि अगर धोनी पहले आउट हो जाते तो टीम के लिए लक्ष्य का पीछा करना मुश्किल हो जाता।

एक अखबार से बातचीत करते हुए शास्त्री ने कहा, ''धोनी को सातवें नंबर पर बैटिंग के लिए भेजने का फैसला पूरी टीम का था और ये एक आसान फैसला था। अगर धोनी पहले बैटिंग के लिए आते और वो जल्दी आउट हो जाते तो फिर सारा चेज ही बिगड़ जाता। हमें उनके अनुभव की बाद में जरूरत थी। वो दुनिया के सबसे बड़े फिनिशनर हैं और अगर हम उनका इस्तेमाल ऐसे नहीं करते तो फिर ये न्याय नहीं होता। टीम में हर कोई ये चाहता था कि वो बाद में बैटिंग करें।''

गावस्कर भी नाराज

वर्ल्ड कप से बाहर होने पर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने भी टीम के बैटिंग आर्डर को लेकर काफी नाराजगी जताई है। धोनी के सातवें नंबर पर आने को लेकर गावस्कर ने कहा है कि धोनी को सातवें नंबर पर भेजने का फैसला बेहद हैरान करने वाला था।

धोनी को लेकर ये बोले विराट

कोहली ने कहा, "शुरुआती कुछ मैचों के बाद यह प्लान किया गया था कि धोनी निचले ऑर्डर के बल्लेबाजों के साथ खेलेंगे। उन्होंने जडेजा के साथ अच्छी बल्लेबाजी की। टीम में सही बैलेंस होने की जरूरत है। अगर एक खिलाड़ी हिट कर रहा है, तो दूसरे को विकेट बचा कर खेलने की जरूरत होती है।"

रोहित शर्मा ने ट्विटर पर बयां किया दर्द

वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में मिली हार के बाद टीम इंडिया के बल्लेबाज रोहित शर्मा ने ट्विटर पर अपना दर्द बयां किया है। रोहित ने ट्विटर पर कहा, ‘एक टीम के रूप में ऐसे समय में जब ये सबसे जरूरी था, हम अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे। 30 मिनट के खराब खेल ने कल हमसे हमारा वर्ल्ड कप जीतने का मौका छीन लिया। मेरा दिल बहुत भारी हो रहा है और मैं जानता हूं कि आपका भी होगा। अपने घर से दूर विदेश में हमें जबरदस्त समर्थन मिला। इंग्लैंड में हम जहां कहीं भी खेले उस दौरान स्टेडियम को नीले रंग मे रंगने के लिए आप सभी का शुक्रिया।”

लोकप्रिय