नवजीवन बुलेटिन: ‘73 साल में पहली बार अर्थव्यवस्था -आम आदमी, दोनों की कमर टूटी’ और JNU में ABVP की गुंडागर्दी

देश की आर्थिक व्यवस्था को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि 73 साल में पहली बार अर्थव्यवस्था और आम आदमी, दोनों की कमर टूटी है। आज देश में चारों ओर आर्थिक तबाही का घनघोर अंधेरा है।

user

नवजीवन डेस्क

देश की आर्थिक व्यवस्था को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि देश की गिरती डूबती और पिछड़ती अर्थव्यवस्था के बीच जीएसटी में राज्यों को उसका हिस्सा देने से केंद्र सरकार ने इनकार कर दिया है। यदि राज्यों का हिस्सा केंद्र हड़प लेगी तो कैसे चलेगा देश। उन्होंने आगे कहा कि ‘नोटबंदी-जीएसटी-देशबंदी’ मास्टर स्ट्रोक नहीं, असल में हैं ‘डिज़ास्टर स्ट्रोक’।'

प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि 73 साल में पहली बार अर्थव्यवस्था और आम आदमी, दोनों की कमर टूटी है। आज देश में चारों ओर आर्थिक तबाही का घनघोर अंधेरा है। रोजी, रोटी, रोजगार खत्म हो गए हैं और धंधे, व्यवसाय और उद्योग ठप्प पड़े हैं।

जेएनयू में में एबीवीपी ने एक बार फिर हिंसा को अंजाम दिया है। ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएसनके राष्ट्रीय अध्यक्ष एन साई बालाजी ने ट्वीट कर इस घटना की जानकारी दी है। बालाजी ने ट्वीट कर बताय कि जेएनयू के एक छात्र विवेक के कमरे में एबीवीपी के 16 लोग घुस गए और उसपर लोहे के कड़े और रॉड से हमला किया। उन्होंने आरोप लगाए कि एबीवीपी के लोगों ने विवेक को बचाने आए जेएनयूएसयू की महिला पार्षद के साथ भी बदतमीजी की गई।

सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील विकास सिंह ने कहा, “परिवार को गंभीर शक है कि शायद यह आत्महत्या नहीं है। हमारी FIR आत्महत्या के लिए उकसाने की थी, लेकिन अब जिस तरह की बातें सामने आ रही हैं उससे लग रहा है कि ये आत्महत्या के लिए उकसाने का अपराध नहीं उससे गंभीर अपराध है, शायद हत्या का।”

लोकप्रिय
next