नवजीवन बुलेटिन: किसानों का आंदोलन जारी, कई बॉर्डर बंद और RBI ने रेपो रेट में नहीं किया कोई बदलाव

सरकार से चौथे दौर की वार्ता बेनतीजा रहने के बाद दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन जारी है। अब शनिवार को अगले दौर की वार्ता होगी। वहीं, आरबीआई ने मौद्रिक नीति का किया ऐलान कर दिया है। दूसरी तरफ देशभर में कोरोना वायरस का कहर जारी है।

user

नवजीवन डेस्क

कृषि कानून के मुद्दे पर आंदोलन कर रहे किसानों और केंद्र सरकार के बीच अब शनिवार को 5वें दौर की बातचीत होगी। कल चौथे दौर की बातचीत से भी कोई निष्कर्ष नहीं निकला। इन सबके बीच दिल्ली के रास्तों पर सख्ती का पहरा है। दिल्ली-हरिय़ाणा- यूपी की सीमाओं पर किसान आदोलन के चलते पाबंदी का ताला लगा है। आपको बता दें, नोएडा के डीएनडी बॉर्डर पर कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया है। सैकड़ों की संख्या में वाहनों की कतारें लगी हैं। वहीं गाजिपुर बॉर्डर को बंद कर दिया गया है। दिल्ली पुलिस का कहना है कि प्रदर्शन के कारण एनएच 24 पूरी तरह से बंद है इसलिए लोग दिल्ली आने के लिए किसी और रास्ते का इस्तेमाल कर सकते है।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक के नतीजों का ऐलान हो गया है। इस बैठक के नतीजों के मुताबिक आरबीआई ने रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है। इसके अलावा रिवर्स रेपो रेट भी जस की तस रखी गई है। आरबीआई ने रेपो रेट 4 फीसदी पर बरकरार रखने का ऐलान किया है। इसके अलावा रिवर्स रेपो रेट भी 3.35 फीसदी पर रखी गई है। यह लगातार तीसरी बार है, जब आरबीआई ने रेपो रेट और रिवर्स रेपो में कोई बदलाव नहीं किया है। इसके अलावा इस साल जीडीपी ग्रोथ -7.5% रहने का अनुमान जताया गया है। शक्तिकांत दास ने कहा है कि MPC ने मौद्रिक नीति के समायोजन के रुख को तब तक जारी रखने का फैसला किया, जब तक कम से कम चालू वित्त वर्ष तक और अगले साल तक टिकाऊ आधार पर विकास को पुनर्जीवित न कर लिया जाए और मुद्रास्फीति के लक्ष्य को सुनिश्चित करते हुए कोविड-19 के प्रभाव को कम न कर लिया जाए। इसके अलावा MSF रेट और बैंक रेट में भी कोई बदलाव नहीं किया गया है। इसे भी 4.25% पर बरकरार रखा गया है। दास ने कहा कि मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) का मानना था कि बंपर खरीफ की फसलों के कारण सर्दियों के महीनों में मुद्रास्फीति में कुछ राहत के साथ इसके ऊंचा रहने की संभावना है।

देशभर में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे है। वहीं देश के लोगों को बेसर्बी से कोरोना वैक्सीन का इंतजार है। क्योंकि रोजाना देश में हजारों की संख्या में लोग संक्रमित हो रहे है और वहीं 500 से अधिक लोगों की मौतें हो रही है। ऐसे में पिछले 24 घंटे में देश में कोविड-19 के 36,595 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या शुक्रवार को 95.71 लाख के पार चली गई। इनमें से 90 लाख से ज्यादा लोगों के संक्रमण मुक्त होने के साथ ही संक्रमण से ठीक होने की राष्ट्रीय दर बढ़कर 94.20 फीसदी हो गई। कोविड-19 से 540 और लोगों की मौत स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के अनुसार देश में संक्रमण के 36,595 नए मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 95,71,559 हो गई है। वहीं 540 और लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 1,39,188 है। देश में अब तक 90,16,289 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर बढ़कर 94.20 फीसदी हो गई। वहीं मृत्यु दर 1.45 फीसदी है। आंकड़ों के अनुसार देश में 4,16,082 मरीजों का इलाज चल रहा है जो कि कुल मामलों का 4.35 फीसदी है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next