जम्मू-कश्मीर में दिल्ली और लद्दाख में चंडीगढ़ की तर्ज पर लागू होंगे नियम-कानून, देश में होंगे 9 केंद्र शासित प्रदेश

जम्मू-कश्मीर से अलग होने के बाद लद्दाख की कमान अब उप राज्यपाल के हाथों में होगी। देश में अब 9 केंद्र शासित प्रदेश होंगे। लद्दाख बिना विधानसभा वाला केंद्र शासित प्रदेश होगा, जबकि कश्मीर में विधान सभा होगी।

नवजीवन डेस्क

जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटा दिया गया है। इसी के साथ लद्दाख को कश्मीर से अलग कर दिया गया है। देश में अब 9 केंद्र शासित प्रदेश होंगे। लद्दाख बिना विधानसभा वाला केंद्र शासित प्रदेश होगा, जिसकी कमान उप राज्यपाल के हाथ में होगी। जबकि जम्मू-कश्मीर में विधानसभा होगी। अब जम्मू-कश्मीर में दिल्ली की तर्ज पर और लद्दाख में चंडीगढ़ की तर्ज पर नियम और कानून लागू होंगे।

जम्मू-कश्मीर से ख़त्म हुई धारा 370

लद्दाख को किया गया अलग

विधानसभा वाला केंद्र शासित प्रदेश होगा जम्मू-कश्मीर

देश में अब कुल 9 केंद्र शासित प्रदेश

दिल्ली की तरह होगा जम्मू कश्मीर में नियम और कानून

चंडीगढ़ की तर्ज पर लद्दाख में होगा उप राज्यपाल शासन

केंद्र शासित प्रदेशों में दिल्ली, पुड्डुचेरी और जम्मू-कश्मीर में है विधानसभा

विधायक, मुख्यमंत्री और मंत्रिमंडल होने बावजूद उपराज्यपाल के हाथों में होगी राज्य की कमान

लद्दाख में होगा उप राज्यपाल का शासन

बिना विधानसभा वाला केंद्र शासित प्रदेश होगा लद्दाख

लोकप्रिय